NDTV Khabar

अफगानिस्‍तान में अमेरिका का महाबम हमला, आईएस में शामिल हुए केरल के शख्‍स की भी मौत

151 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अफगानिस्‍तान में अमेरिका का महाबम हमला, आईएस में शामिल हुए केरल के शख्‍स की भी मौत

अमेरिका ने सबसे बड़ा गैर परमाणु बम अफगानिस्‍तान में गिराया है

नई दिल्‍ली: अफगानिस्तान के नंगरहार इलाक़े में अमेरिका ने जो करीब 10 टन का महाबम गिराया है, उससे IS के 36 आतंकियों के मारे जाने की बात अब तक सामने आई है. ख़ास बात ये है कि इसमें कम से कम एक भारतीय के मारे जाने की ख़बर भी आ रही है जो आईएस का हिस्सा था. NIA के मुताबिक केरल के कासरगोड़ का 26 साल का मुर्शीद मोहम्मद मारा गया है. ये ख़बर मुर्शीद के परिवार को अशफ़ाक मजीद ने दी. अश्फ़ाक भी नंगरहार इलाक़े में अपने परिवार के साथ रहता है. उसने टेलीग्राम मेसेज से जानकारी दी. मर्शीद के परिवार ने NIA को जानकारी दी. अन्य दो ने अपने परिवार वालों को संदेश भेजा है कि वो सुरक्षित जगह पर शिफ़्ट हो गए है.

एनआईए का कहना है कि अब वो विदेश मंत्रालय के ज़रिए इस बात की तस्दीक़ करवाने की कोशिश में है. दरअसल केरल के कसरगोड़ और पलक्कड़ इलाक़े से पिछले साल 22 नौजवान ग़ायब हो गए थे. जब NIA ने जांच शुरू की तब पता चला कि ये लोग गल्फ़ के ज़रिए इरान और अफ़गानिस्‍तान सीमा से होते होते हए नंगरहार पहुंचे थे. जांच में सामने आया कि वो इस्लामिक स्टेट के समर्थन में अफ़ग़ानिस्तान गए थे.

भारत पहले ही यूनाइटेड नेशन में कह चुका है कि वो ISIS के ख़िलाफ़ वैश्विक लड़ाई में साथ है. भारत के विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह का कहना है, 'हम अपना पक्ष UN में रख चुके हैं, हर मुल्क अपने तरीक़े से कार्रवाई कर रहा है लेकिन अगर सब साथ हो जाएं तो अच्छा होगा.' इस बीच ये सवाल उठ रहा है कि अफगानिस्तान पर गिराया गया ये बम सीरिया और उत्तर कोरिया को चेतावनी और पाकिस्तान के लिए आतंकवाद से दूर रहने का इशारा तो नहीं है? बमबारी का समय इसकी तस्दीक कर रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement