NDTV Khabar

PM मोदी ने सबरीमाला को लेकर केरल की LDF सरकार पर बोला हमला, कही यह बात...

केरल के कोल्लम में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने सबरीमाला (Sabarimala) मुद्दे को लेकर केरल की एलडीएफ (LDF) सरकार पर जमकर हमला बोला.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM मोदी ने सबरीमाला को लेकर केरल की LDF सरकार पर बोला हमला, कही यह बात...

केरल के कोल्लम में पीएम नरेंद्र मोदी ने एलडीएफ सरकार पर जमकर हमला बोला.

खास बातें

  1. पीएम मोदी ने केरल की एलडीएफ सरकार पर बोला हमला
  2. कहा-एलडीएफ और यूडीएफ एक ही सिक्के के दो पहलू
  3. 'एलडीएफ सरकार का सबरीमाला पर रवैया शर्मनाक'
कोल्लम:

केरल के कोल्लम में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने सबरीमाला (Sabarimala) मुद्दे को लेकर केरल की एलडीएफ (LDF) सरकार पर जमकर हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि पिछले कुछ समय से सारा देश सबरीमाला के बारे में बात कर रहा है. उन्होंने कहा कि केरल की एलडीएफ सरकार का सबरीमाला पर जो रवैया था वह इतिहास में किसी भी पार्टी और सरकार के सबसे शर्मनाक रवैयों में याद रखा जाएगा. कोल्लम में पीएम मोदी ने कहा कि यूडीएफ और एलडीएफ एक ही सिक्के के दो पहलू हैं. नाम में भिन्न, लेकिन भ्रष्टाचार, जातिवाद और सांप्रदायिकता में वे समान हैं. नाम में भिन्न, लेकिन केरल के सांस्कृतिक कपड़े को नुकसान पहुंचाने में वे समान हैं. नाम में अलग, लेकिन राजनीतिक हिंसा में, वे दोनों एकसमान हैं.  

 


 

पीएम मोदी ने कहा, 'हम जानते हैं कि कम्युनिस्ट भारत की संस्कृति, इतिहास और आध्यात्मिकता का सम्मान नहीं करते है.' उन्होंने कहा कि सबरीमला मुद्दे पर कांग्रेस के कई रुख हैं. उन्होंने कहा, 'वह संसद में कुछ कहती है और पतनमथिट्टा (जहां अय्यप्पा मंदिर है) में कुछ और कहती है.'

सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने वाली महिला को सास ने पीटा, अस्‍पताल में भर्ती: सूत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इससे पहले यहां राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 66 पर बहुप्रतीक्षित कोल्लम बाईपास का उद्घाटन किया. दो लेन का 13 किलोमीटर लंबा बाईपास केरल के अलापुझा और तिरूवनंतपुरम जिलों के बीच यात्रा के समय में कटौती करेगा और इससे कोल्लम शहर में वाहनों की भीड़भाड़ कम होने की संभावना है. 352 करोड़ रुपये की लागत से बने बाईपास में अष्टमुडी झील पर तीन बड़े पुल हैं, जिनकी कुल लंबाई 1540 मीटर है. बाईपास को राष्ट्र को समर्पित करते हुए मोदी ने कहा कि जब वह 2014 में सत्ता में आए थे तो केवल 56 प्रतिशत ग्रामीण आबादी देश की सड़कों से जुड़ी थी.

सबरीमाला मंदिर मुद्दे पर बोले राहुल गांधी- दोनों पक्षों के तर्कों में दम है, कुछ साफ नहीं कह सकता हूं

उन्होंने कहा, 'अष्टमुडी झील के किनारे, मुझे (अगस्त 2018 की) बाढ़ से उबरने का एहसास होता है. लेकिन हमें और कड़ाई से लड़ना होगा. मैं आप सबको बाईपास के पूरा होने की बधाई देता हूं.' प्रधानमंत्री ने कहा, 'हमारे देश में, हम अक्सर देखते हैं कि उद्घाटन के बाद कई आधारभूत परियोजनाएं रूक जाती हैं. बड़ी मात्रा में जनता का पैसा बेकार हो जाता है.' उन्होंने कहा कि उन्होंने विकास परियेाजनाओं का निरीक्षण किया और सभी विभाग सचिवों तथा राज्य के मुख्य सचिवों के साथ बैठक की.

सबरीमाला मंदिर में प्रवेश कर इतिहास बनाने वाली महिलाओं ने कहा, हम जानते हैं हमारी जान को खतरा है, लेकिन...

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, 'कुछ परियोजनाएं 20-30 साल से टल रही हैं. यह आम जनता के साथ अपराध है.' प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या 2013 में 70 लाख से बढकर 2017 में एक करोड़ पहुंच गई है. उन्होंने कहा कि इस दौरान पर्यटन के कारण विदेशी विनिमय से कमाया गया धन 18 अरब डॉलर से बढ़कर 27 अरब डॉलर हो गया है. उन्होंने कहा, 'भारत 2017 में विश्व में सबसे तेजी से बढते पर्यटन स्थलों में से एक है.' यह प्रधानमंत्री का कोल्लम में तीसरा आधिकारिक दौरा है. 

VIDEO: सबरीमाला मंदिर में दर्शन करने वाली महिलाएं- मिल रहीं धमकियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement