NDTV Khabar

केरल के परिवहन मंत्री पर महिला से फोन पर अश्‍लील बातचीत करने का आरोप, दिया इस्‍तीफा

104 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
केरल के परिवहन मंत्री पर महिला से फोन पर अश्‍लील बातचीत करने का आरोप, दिया इस्‍तीफा

केरल के परिवहन मंत्री ए. के. शशिंद्रन (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मंत्री ने कहा कि वह किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हैं
  2. जयराजन के बाद शशिंद्रन दूसरे मंत्री हैं जिन्हें इस्तीफा देना पड़ा है
  3. केरल में एलडीएफ सरकार को 10 महीने में लगा यह दूसरा बड़ा झटका है
कोझिकोड: एक विवादित ऑडियो क्लिप सामने आने के बाद केरल के परिवहन मंत्री ए. के. शशिंद्रन ने रविवार को माकपा की अगुवाई वाली एलडीएफ सरकार से इस्तीफा देने का ऐलान किया. एक ऑडियो क्लिप में कथित तौर पर शशिंद्रन को एक महिला के साथ कामुक आवाज में बातचीत करते दिखाया गया है. एक मलयालम टीवी चैनल ने रविवार अपराह्न यह ऑडियो क्लिप जारी किया. न्यूज चैनल की ओर से ऑडियो क्लिप प्रसारित करने के कुछ ही घंटों बाद कोझिकोड में मौजूद शशिंद्रन ने आनन-फानन में एक संवाददाता सम्मेलन बुलाया और अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी. एलडीएफ में गठबंधन साझेदार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता शशिंद्रन ने कहा कि वह मुख्यमंत्री पी. विजयन को पहले ही इस बारे में बता चुके हैं और उन्होंने उनका इस्तीफा नहीं मांगा.

शशिंद्रन ने कहा कि उनके इस्तीफे को इस तरह नहीं देखा जाना चाहिए कि उन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया. उन्होंने पत्रकारों को बताया, ‘‘मैंने राजनीतिक नैतिकता को बरकरार रखने के लिए इस्तीफा दिया.’’ मंत्री ने कहा कि उन्होंने किसी के साथ गलत व्यवहार नहीं किया और वह किसी भी जांच का सामना करने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा, ‘‘उचित जांच जरूरी है. सारे तथ्य सामने आने चाहिए. मैं किसी भी जांच का स्वागत करता हूं.’’

परिवहन मंत्री ने कहा, ‘‘मेरा कहना है कि मैंने कुछ गलत नहीं किया. मैं आरोपों को नकार रहा हूं और किसी भी जांच का स्वागत करता हूं.’’ करीब 10 महीने पुरानी विजयन सरकार में पूर्व उद्योग मंत्री ई. पी. जयराजन के बाद शशिंद्रन दूसरे मंत्री हैं जिन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा है. नियुक्तियों में भाई-भतीजावाद के आरोपों पर मंत्री पद से जयराजन के इस्तीफे के बाद केरल में एलडीएफ सरकार को 10 महीने में लगा यह दूसरा बड़ा झटका है. यह राजनीतिक घटनाक्रम ऐसे समय में सामने आया जब 12 अप्रैल को मलप्पुरम में उप-चुनाव होने वाले हैं.

टिप्पणियां
जैसे ही मीडिया में ऑडियो क्लिप से जुड़ी खबरें आईं, शशिंद्रन ने कोझिकोड में अपने सारे सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए और सरकारी अतिथि गृह में मौजूद रहे. इस बीच, मुख्यमंत्री विजयन ने कहा कि उन्होंने आरोपों को ‘‘गंभीरता’’ से लिया है. उन्होंने कहा, ‘‘सारे तथ्यों को जांचने-परखने के बाद फैसला किया जाएगा.’’ विजयन ने कहा कि मंत्री ने उनसे बात की है. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक रमेश चेन्नीतला ने कहा कि मुख्यमंत्री को जांच करानी चाहिए और दोषी पाए जाने पर मंत्री को इस्तीफा देने के लिए कहना चाहिए. चेन्नीतला ने कहा, ‘‘सच सामने आना चाहिए. इस खबर से सभी स्तब्ध रह गए.’’

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement