NDTV Khabar

केरल के कन्नूर में NEET की परीक्षा देने पहुंची छात्रा से जांच के नाम पर अंडर गार्मेंट्स उतरवाए

केरल के कन्नूर में NEET की परीक्षा देने पहुंची एक छात्रा ने गंभीर आरोप लगाए हैं. छात्रा का आरोप है कि परीक्षा से पहले जांच के नाम पर उसे जबरन अंडर गार्मेंट्स उतारने को कहा गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केरल के कन्नूर में NEET की परीक्षा देने पहुंची छात्रा से जांच के नाम पर अंडर गार्मेंट्स उतरवाए

नीट की परीक्षा में हजारों युवा शामिल हुए हैं.

खास बातें

  1. केरल में NEET की परीक्षा देने पहुंची एक छात्रा ने गंभीर आरोप लगाए
  2. पहले जांच के नाम पर उसे जबरन अंडर गार्मेंट्स उतारने को कहा गया.
  3. एक अन्य छात्र ने भी लगाए गंभीर आरोप
कन्नूर: केरल के कन्नूर में NEET की परीक्षा देने पहुंची एक छात्रा ने गंभीर आरोप लगाए हैं. छात्रा का आरोप है कि परीक्षा से पहले जांच के नाम पर उसे जबरन अंडर गार्मेंट्स उतारने को कहा गया.

उसने ऐसा किया जिसके बाद ही उसे परीक्षा में बैठने दिया गया. वहीं, एक दूसरी छात्रा का आरोप है कि उसके जींस में मेटल बटन और पॉकेट होने की वजह से उसे परीक्षा में नहीं बैठने दिया गया.

ये दोनों ही शिकायत एक ही सेंटर से आई हैं. मामले में सीबीएसई और स्कूल से कोई जवाब नहीं मिला है. जबकि पुलिस ने कहा कि इस मामले में उनके पास कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है. 

एक लड़की के पिता का कहना है कि कल रविवार था इसलिए कोई शिकायत नहीं की है. आज सीबीएसई का दफ्तर खुलेगा तब वे शिकायत दर्ज कराएंगे.

सीबीएसई ने देश भर के करीब 104 शहरों में रविवार को नीट अंडरग्रेजुएट परीक्षा आयोजित की. इसमें सफल होने वाले अभ्यर्थी मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया/डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त मेडिकल/डेंटल कॉलेजों में एमबीबीएस/बीडीएस कोर्सेज में दाखिला ले पाएंगे. इसके अलावा आयुष संबंध कोर्सेज में भी इसी के जरिए दाखिला मिलेगा. 

परीक्षा रविवार को सुबह 10 बजे से दोपहर 1 बजे के बीच आयोजित हुई.

टिप्पणियां
अब सीबीएसई जल्द ही नीट 2017 की आंसर-की जारी करेगी. छात्रों को भी इसका बेसब्री से इंतजार है. इससे वह अपने प्रदर्शन का सही-सही आकलन कर पाएंगे. किसी प्रश्न के उत्तर को लेकर चुनौती देने का भी मौका उन्हें दिया जाएगा. सीबीएसई ने आंसर-की जारी करने की कोई तिथि निर्धारित नहीं की है. छात्र इसके लिए लगातार सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट चेक करते रहें.  छात्रों को सवाल पर आपत्‍ति दर्ज कराने के लिए प्रति सवाल 1000 रुपये की फीस जमा करानी होगी. शुल्‍क का भुगतान ऑनलाइन किया जा सकता है. हालांकि अगर छात्रों की आपत्‍ति अगर सही पाई गई तो उनके पैसे उन्‍हें वापस कर दिए जाएंगे.

सीबीएसई ने कहा था कि इस साल पंजीकृत अभ्यर्थियों की संख्या को देखते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने परीक्षा आयोजन वाले पहले वाले शहरों में 23 नए शहरों को जोड़ने का निर्णय लिया. नए शहरों में से चार-चार कर्नाटक व महराष्ट्र से, तीन-तीन गुजरात व तमिलनाडु से, दो-दो आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल तथा केरल से और एक-एक पंजाब, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश से हैं.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement