कांग्रेस में रहते हुए BJP की सिर्फ आलोचना नहीं की, कुछ मुद्दों पर PM मोदी की प्रशंसा भी की थी: खुशबू

कांग्रेस में रहते हुए बीजेपी की मुखर आलोचक रहीं खुशबू ने कहा, 'विपक्षी पार्टी का सदस्‍य होने के नाते मैंने बीजेपी का विरोध किया.' हालांकि वे यह कहने से भी नहीं चूकीं कि उनकी आलोचना केवल विरोध के लिए नहीं थी. उन्‍होंने कहा कि मैंने कुछ मुद्दों पर पीएम मोदी की प्रशंसा भी की थी.

कांग्रेस में रहते हुए BJP की सिर्फ आलोचना नहीं की, कुछ मुद्दों पर PM मोदी की प्रशंसा भी की थी: खुशबू

खुशबू हाल ही में कांग्रेस पार्टी को छोड़कर बीजेपी में शामिल हुई हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  • सोमवार को ही बीजेपी में शामिल हुई हैं एक्‍ट्रेस खुशबू
  • कहा, कांग्रेस पार्टी में सच बोलने की आजादी नहीं
  • मैं कांग्रेस के प्रति वफादर थी पर पार्टी ने अनादर किया
चेन्‍नई:

कांग्रेस को छोड़कर बुधवार को ही भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हुई पूर्व अभिनेत्री खुशबू सुंदर (Khushbu Sundar)ने अपनी पूर्व पार्टी पर जमकर निशाना साधा है.  खुशबू ने कहा, 'कांग्रेस को बुद्धिमान महिलाओं की जरूरत नहीं और पार्टी में सच बोलने की आजादी नहीं है.' कांग्रेस  (Congress)  की प्रवक्‍ता के तौर पर सक्रिय रही इस एक्‍ट्रेस ने आरोप लगाया था कि इस पार्टी में कुछ नेता उन पर अपनी शर्ते थोपने का प्रयास कर रहे थे. खुशबू के बीजेपी होने पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस ने कहा था कि उनके 'जाने' से अगले वर्ष तमिलनाडु में होने वाले विधानसभा चुनाव में कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. 

कांग्रेस छोड़ने के कुछ घंटे बाद ही BJP में शामिल हुईं खुशबू सुंदर

चेन्‍नई एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद खुशबू ने राज्‍य कांग्रेस के कुछ नेताओं के बयान का जिक्र करते हुए कांग्रेस को 'मानसिक रूप से कमजोर' ("mentally retarded") करार दिया. बाद में बीजेपी ऑफिस से प्रेस से बातचीत में उन्‍होंने कहा, 'मैं कांग्रेस के प्रति वफादार थी लेकिन कांग्रेस ने मेरा अनादर किया...वे (कांग्रेस) बुद्धिमान महिला को नहीं चाहते. यह कहना कि वे मुझे केवल एक एक्‍ट्रेस के रूप में देखते हैं, कांग्रेस की ओछी मानसिकता को दर्शाता है.' खुद को 'पेरियारिस्‍ट' बताते हुए उन्‍होंने कहा, 'कोई पार्टी जो सच बोलने की आजादी नहीं देती, आखिरकार किस तरह अच्‍छी हो सकती है.' 

खुशबू ने कहा कि द्रविड़ आंदोलन के संस्‍थापक, समाजसेवी पेरियार ईवी रामास्‍वामी ने भी महिलाओं के खिलाफ अत्‍याचार के खिलाफ आवाज उठाई थी. कांग्रेस में रहते हुए बीजेपी की मुखर आलोचक रहीं खुशबू ने कहा, 'विपक्षी पार्टी का सदस्‍य होने के नाते मैंने बीजेपी का विरोध किया.' हालांकि वे यह कहने से भी नहीं चूकीं कि उनकी आलोचना केवल विरोध के लिए नहीं थी. उन्‍होंने कहा कि मैंने कुछ मुद्दों पर पीएम मोदी की प्रशंसा भी की थी. ऐसा ही एक मौका इस वर्ष अगस्‍त में आया था जब उन्‍होंने पीएम मोदी की नई शिक्षा नीति को सराहा था और अपने इन विचारों के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी से माफी मांगी थी.

Newsbeep

बुजुर्गों को स्वस्थ रखने के लिए उनके साथ भावनात्मक रिश्ते मजबूत करने की जरूरत : अभिनेत्री खुशबू

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com