किसान आंदोलन: हरियाणा के पूर्व मंत्री जसविंदर संधू के बेटे की कार पर फायरिंग, बाल-बाल बचे

संधू किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं. है. जब से किसान आंदोलन चल रहा है तब से किसानों के बीच बैठकर कृषि कानून रद्द करने की लड़ाई लड़ रहे हैं 

किसान आंदोलन: हरियाणा के पूर्व मंत्री जसविंदर संधू के बेटे की कार पर फायरिंग, बाल-बाल बचे

दोनों गोलियां जसतेज संधू की कार के शीशे पर लगीं (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • घटना में बाल-बाल बचे जसतेज
  • दोनों गोलियां कार के शीशे में लगीं
  • किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं जसतेज
चंडीगढ़:

Farmer's Protest: पिहोवा में हरियाणा के पूर्व कृषि मंत्री जसविंदर सिंह संधू के बेटे जसतेज संधू की कार पर गोली चलाई गई, इस घटना में वे बाल-बाल बचे. दरअसल, जसतेज अपने घर से अंबाला हिसार रोड पर किसान आंदोलन (Kisan Aandolan) टोल प्लाजा पर जा रहे थे. संधू किसान आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं. है. जब से किसान आंदोलन चल रहा है तब से किसानों के बीच बैठकर कृषि कानून रद्द करने की लड़ाई लड़ रहे हैं. घटना को अंजाम देने वाले आरोपी फरार बताए गए हैं. गौरतलब है कि किसान आंदोलन के पहले दिन से जसतेज इसमें बढ़चढ़ कर भाग ले रहे हैं.

ट्रैक्टर चलाकर विधानसभा पहुंचे तेजस्वी, बोले- अन्नदाताओं की नहीं सुन रही सरकार

हर रोज की तरह जसतेज गांव से थाना टोल प्लाजा धरना स्‍थल पर जा रहे थे कि रास्ते में चंडीगढ़-हिसार राष्ट्रीय राज मार्ग से लगते गांव बेगपुर के पास दो अज्ञात मोटसाइकिल सवार युवकों ने उन पर गोली चलाई. दोनों गोलियां कार के शीशे पर लगीं. कार सवार जसतेज संधू सुरक्षित हैं.

राकेश टिकैत की अपील के बाद UP के किसान ने नष्ट कर दी गेहूं की फसल

पुलिस गाड़ी को कब्जे में लेकर गुमथला गढू चोंकी में पहुंची, घटना की जांच की जा रही है.पिहोवा पुलिस की फॉरेन्सिक टीम मौके पर पहुंची. 9 फरवरी को जसतेज संधू  के गांव गुमथला में किसान महापंचायत भी हुई थी जिसमें भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने शिरकत की थी और उस महापंचायत के आयोजक जसतेज संधू थे.


अरविंद केजरीवाल ने पश्चिमी यूपी के किसान नेताओं से की मुलाकात

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com