दिल्ली के अस्पतालों को लेकर विवाद के बीच कुमार विश्वास का केजरीवाल पर हमला- चुनाव से पहले फिर माफी मांग लेंगे

दिल्ली के अस्पतालों को लेकर चल रहे विवाद के बीच कुमार विश्वास ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला किया है. उन्होने कहा कि केजरीवाल अस्पतालों पर अपने निकम्मेपन का ठीकरा फोड़ रहे हैं और बाद में माफी मांग लेंगे.

दिल्ली के अस्पतालों को लेकर विवाद के बीच कुमार विश्वास का केजरीवाल पर हमला- चुनाव से पहले फिर माफी मांग लेंगे

कुमार विश्वास लगातार केजरीवाल सरकार के फैसलों पर हमला बोल रहे हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • केजरीवाल पर फिर भड़के कुमार विश्वास
  • दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के बहाने साधा निशाना
  • दिल्ली के अस्पतालों को लेकर चल रहा है विवाद
नई दिल्ली:

दिल्ली के अस्पतालों को लेकर चल रहे विवाद के बीच कुमार विश्वास ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला किया है. उन्होने कहा कि केजरीवाल अस्पतालों पर अपने निकम्मेपन का ठीकरा फोड़ रहे हैं और बाद में माफी मांग लेंगे. उनका ये हमला दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के उस बयान जारी करने के बाद आया है, जिसमें एसोसिएशन ने केजरीवाल सरकार की ओर से सर गंगाराम अस्पताल पर केस दर्ज कराने और दूसरे अस्पतालों को चेतावनी देने की निंदा की है. 

कुमार विश्वास ने ट्वीट में लिखा, 'अरे आप बस डॉक्टर्स बिल्कुल बुरा मत मानिए. आप बस पीड़ितों का इलाज करते रहिए प्लीज. ज़िम्मेदारी का ठीकरा मोदी-केंद्र-MCD पर फोड़ते-फोड़ते इस बार थककर अपने निकम्मेपन का ठीकरा आप लोगों पर फोड़ दिया है बस! चुनावों से ठीक पहले फ़िर माफी मांग लेगा! आदत है इस आज़माए हुए नुस्ख़े की.'

बता दें कि केजरीवाल सरकार ने शहर के निजी अस्पताल सर गंगाराम अस्पताल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग के डिप्टी सेक्रेटरी ने अस्पताल के खिलाफ सरकारी आदेश की अवहेलना की शिकायत की थी, जिसके बाद यह फैसला लिया गया है. अस्पताल पर कोरोनोवायरस टेस्ट दर्ज करने के लिए नियमों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया है. 

इसके अलावा केजरीवाल ने अस्पतालों को कोरोनावायरस की मरीजों की मदद न करने और उन्हें बेड उपलब्ध न कराने को लेकर चेतावनी जारी की थी. शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उन्होंने कहा था कि दिल्ली के कुछ प्राइवेट अस्पताल कोरोना बेड्स की ब्लैक मार्केटिंग कर रहे हैं. मरीज जब फोन करते हैं तो पहले उनको बेड के लिए मना कर देते हैं लेकिन जब वह ज्यादा जोर देते हैं तो अस्पताल वाले लाखों रुपए की मांग करते हैं.

इसपर दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन की ओर से एक बयान जारी कर उनके बयानों की निंदा की गई है. एसोसिएशन ने कहा कि एक ओर अस्पताल पूरी क्षमता के साथ मरीजों की मदद कर रहे हैं. डॉक्टर्स अपनी जान खतरे में डालकर मरीजों की सेवा कर रहे हैं, और इनसे इस तरह का व्यवहार किया जा रहा है. इससे वो अपमानित महसूस कर रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वीडियो: दिल्ली के अस्पतालों में दिल्ली वालों का ही होगा इलाज, इस फैसले पर क्या कहते हैं लोग