NDTV Khabar

मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत पर कुमार विश्वास ने किया Tweet, 'स्कोर 90+, सियासी खेल खेलते रहिए जब तक...'

बिहार के मुजफ्फरपुर में 'इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम' या 'चमकी' बुखार से अब तक 100 बच्चों की मौत हो चुकी है, जबकि 90 से ज़्यादा बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत पर कुमार विश्वास ने किया Tweet, 'स्कोर 90+, सियासी खेल खेलते रहिए जब तक...'

कुमार विश्वास ने मुजफ्फरपुर में 'चमकी' बुखार से हो रही बच्चों की मौत को लेकर सरकार को घेरा है.

खास बातें

  1. मुजफ्फरपुर में 'चमकी' बुखार का कहर
  2. अब तक 100 से ज्यादा बच्चों की मौत
  3. कुमार विश्वास ने ट्वीट कर उठाए सवाल
नई दिल्ली:

बिहार के मुजफ्फरपुर में 'इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम' या 'चमकी' बुखार से अब तक 100 बच्चों की मौत हो चुकी है, जबकि 90 से ज़्यादा बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं. लगातार मासूमों की मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. वो बुखार जो हर साल आता है और हर साल कितने ही मासूमों की जान ले लेता है उसपर काबू पाने में नीतीश सरकार असफल रही है. सवालों में घिरी राज्य सरकार के काम का जायजा लेने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन आज मुजफ्फरपुर पहुंचे. वहां उन्होंने अस्पताल जाकर बीमार बच्चों और उनके परिजनों से मुलाकात की. उनके साथ राज्य मंत्री अश्विनी चौबे और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे भी मौजूद थे, लेकिन आज जब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अस्पताल का दौरा कर रहे थे तो उनके सामने भी दो बच्चों ने दम तोड़ दिया. कुमार विश्वास ने इसे सरकार को घेरा है. 


कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) ने ट्वीट किया, स्कोर 90 Plus हो चुका है! इलाज की सामान्य सुविधाओं के अभाव में, एक जिला अस्पताल में, भारत के नौनिहालों की मौत का! हर दल-नेता जीत रहा है, भविष्य के अलावा! निहायत ग़ैर ज़रूरी मुद्दों का यह सियासी खेल, यूं ही खेलते रहिए जब तक आख़री उम्मीद बोल्ड न हो जाए.

बिहार में एक दिन में लू ने लील लीं 40 जिंदगियां, सीएम नीतीश कुमार ने की मुआवजे की घोषणा

उधर, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने मेडिकल कॉलेज का जायजा लेने के बाद पत्रकारों से कहा, 'मैं इस क्षेत्र के लोगों, विशेष रूप से प्रभावित परिवारों को विश्वास दिलाता हूं कि समस्या को जड़ से समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार राज्य सरकार को सभी संभव आर्थिक और तकनीकी सहयोग देगी.' उन्होंने इस रोग के कारण इस इलाके में पिछले कई वर्षों से हो रही बच्चों की मौत के मद्देनजर मुजफ्फरपुर श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बीमार बच्चों के लिए वर्तमान की व्यवस्था को अपर्याप्त मानते हुए कहा कि यहां कम से कम सौ बिस्तरों वाला बच्चों का अलग से गहन चिकित्सा कक्ष बनना चाहिए. हर्षवर्द्धन ने कहा कि उन्होंने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री को अगले साल तक युद्ध स्तर पर इसे तैयार कर लिए कहा गया है.

उन्होंने कहा कि बिहार में चार-पांच जगहों पर स्टेट ऑफ दी आर्ट वाईरोलोजी प्रयोगशाला कुछ ही महीनों के पूरा कर लिया जाएगा. हर्षवर्द्धन ने कहा, 'इस रोग के इलाज के लिए शिशु रोग विशेषज्ञों के अलावा न्यूरोलोजिस्ट का होना आवश्यक है. इस अस्पताल में निर्माणाधीन सुपर स्पेशियलिटी ब्लॉक का काम अगले छह महीने के भीतर पूरा करने के लिए कहा गया है.' 

टिप्पणियां

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने इस भयंकर बीमारी से मृत हुए बच्चों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से शीघ्र ही चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान देने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन एवं चिकित्सकों को इस भयंकर बीमारी से निपटने के लिए हरसंभव कदम उठाने का निर्देश दिए हैं.

VIDEO: मुजफ्फरपुर में दिमागी बुखार का कहर



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement