Coronavirus: डोनाल्ड ट्रंप ने मदद के लिए भारत को कहा शुक्रिया, तो कुमार विश्वास ने बताया हिंदुस्तान का मतलब

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के ट्वीट पर मशहूर कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) ने प्रतिक्रिया देते हुए उन्हें भारत देश का मतलब बताया.

Coronavirus: डोनाल्ड ट्रंप ने मदद के लिए भारत को कहा शुक्रिया, तो कुमार विश्वास ने बताया हिंदुस्तान का मतलब

कुमार विश्वास ने ट्रंप के ट्वीट पर प्रतिक्रिया दी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर जताया भारत के प्रति आभार
  • मशहूर कवि कुमार विश्वास ने दी ट्रंप के ट्वीट पर प्रतिक्रिया
  • दुनियाभर में कोरोना वायरस से 83000 से ज्यादा की मौत
नई दिल्ली:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने भारत से कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों के इलाज में इस्तेमाल हो रही मलेरिया रोधी दवाई हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन (Hydroxychloroquine) के निर्यात को मंजूरी देने को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से फोन पर बात की थी. बातचीत सकारात्मक रही और केंद्र सरकार ने इसकी पहली खेप अमेरिका को निर्यात कर दी. जिसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, 'असाधारण समय में भी दोस्तों के बीच घनिष्ठ सहयोग की जरूरत होती है. हाइड्रोक्सोक्लोरोक्वीन पर निर्णय के लिए भारत और भारतीय लोगों को धन्यवाद. ये भुलाया नहीं जा सकेगा. इस लड़ाई में न केवल भारत, बल्कि मानवता की मदद करने के लिए अपने मजबूत नेतृत्व के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद.' ट्रंप के ट्वीट पर मशहूर कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) ने उन्हें भारत देश का मतलब बताया.

कुमार विश्वास ने अमेरिकी राष्ट्रपति को टैग करते हुए लिखा, 'क्योंकि हमारे लिए पूरी दुनिया एक परिवार है. वसुधैव कुटुम्बकम.' बताते चलें कि इससे पहले ट्रंप ने दवाई न भेजने पर भारत के साथ ऐसा ही रुख अख्तियार करने की धमकी दी थी. ट्रंप ने कोरोना वायरस टास्कफोर्स ब्रीफिंग के दौरान व्हाइट हाउस में कहा कि भारत अमेरिका के साथ अच्छा कर रहा है और मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि भारत अमेरिका के दवा के ऑर्डर पर रोक जारी रखेगा. उन्होंने कहा, 'मैंने रविवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की थी और मैंने कहा था कि अगर आप हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन की आपूर्ति को मंजूरी देते हैं तो हम आपके इस कदम की सराहना करेंगे. यदि वह दवा की आपूर्ति की अनुमति नहीं देते हैं तो भी ठीक है, लेकिन हां, वे हमसे भी इसी तरह की प्रतिक्रिया की उम्मीद रखें.'

गौरतलब है कि कोरोना वायरस (Coronavirus in America) ने अन्य देशों की तरह अमेरिका में भी खूब तबाही मचाई है. रिपोर्ट्स के अनुसार, अभी तक वहां 14000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में लगातार दूसरे दिन करीब 2000 मरीजों की जान गई है. जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी US में कोरोना पर बारीकी से नजर बनाए हुए है. उनके मुताबिक, एक दिन पहले अमेरिका में 1939 लोगों की मौत हुई थी. जिसके बाद पिछले दिन 1973 मरीजों की मौत हो गई. वहां इस बीमारी की चपेट में आने से अब तक 14695 लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना वायरस से होने वाली मौतों के इस आंकड़े के साथ अमेरिका विश्व में दूसरे नंबर पर पहुंच गया है. इटली में अभी तक 17669 लोगों की मौत हुई है. स्पेन की बात करें तो वहां अब तक 14555 लोगों की मौत हो चुकी है. अमेरिका में अभी तक कोविड-19 से जिन लोगों की मौत हुई है, उनमें 11 भारतीय भी हैं. 16 भारतीयों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. संक्रमित भारतीय उत्तराखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं. वहां अभी तक चार लाख से ज्यादा लोग इस बीमारी से संक्रमित हैं. कोविड-19 से प्रभावित भारतीय नागरिकों और छात्रों को आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए भारतीय दूतावास और अमेरिका भर में स्थित वाणिज्य दूतावास स्थानीय अधिकारियों और भारतीय-अमेरिकी संगठनों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.

VIDEO: Covid-19: निजामुद्दीन मरकज से करीब 9 हजार लोगों के संक्रमित होने का खतरा : केंद्र

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com