गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत पर बरसे कुमार विश्वास, कहा- ये दर्द संभाला नहीं जाता मौला, किस संस्कृति की पैदावार हैं ये लोग ? 

केरल में गर्भवती हथिनी उमा की दर्दनाक मौत की घटना पर देशभर में गुस्सा है. पटाखों भरा अनानास खाने के बाद उमा की हुई मौत के जिम्मेदार लोगों पर एक्शन लेने की मांग उठ रही है.

गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत पर बरसे कुमार विश्वास, कहा- ये दर्द संभाला नहीं जाता मौला, किस संस्कृति की पैदावार हैं ये लोग ? 

गर्भवती हथिनी की पटाखे भरा अनानास खाने की वजह से मौत हो गई थी.

खास बातें

  • केरल में गर्भवती हथिनी की हुई थी दर्दनाक मौत
  • कुछ लोगों ने पटाखों भरा अनानास खिलाया था
  • हफ्ते भर बाद दर्द से हो गई थी मौत
नई दिल्ली:

केरल के पलक्कड़ जिले में बर्बरता का शिकार हुई गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत की घटना पर देशभर में गुस्सा है. पटाखों भरा अनानास खाने के बाद हथिनी की हुई मौत के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई के लिए जोरों-शोरों से आवाजें उठ रही हैं. अब डॉक्टर कुमार विश्वास ने भी इस घटना पर जबरदस्त गुस्सा जाहिर किया है और अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर एक भावुक पोस्ट लिखा है. 

उन्होंने कहा है कि इस बर्बरता को अंजाम देने वालों का सामाजिक बहिष्कार किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि जब तक हम धर्म-जाति-देश-प्रदेश-दल-आस्था के नाम पर अपने देश में घृणा और हिंसा के बीज रोपते रहेंगे, तब तक ऐसे ही जहरीले लोग पैदा होंगे.

उनकी पोस्ट आप यहां पढ़ सकते हैं-

''I can't breathe...I can't Breathe..
मुझ से ये दर्द संभाला नहीं जाता मौला. पहले भी कहा है फिर कह रहा हूं कि जब तक हम यूं ही धर्म-जाति-देश-प्रदेश-दल-आस्था के नाम पर अपने देश के मन-मानस में घृणा-वैमनस्य व हिंसा के बीज रोपतें रहेंगे तब तक ऐसे ही ज़हरीले नवागत पैदा होते रहेंगे! कौन हैं ये युवक जिन्होंने महादेव की सहधर्मिणी मां उमा के नाम वाली गर्भवती हथिनी को पटाखे भरा अन्नानास खिला कर उसकी हत्या कर दी? क्या बिगाड़ा था इस बेहद प्यारे, मनुष्यों के बेज़ुबान साथी ने? इतनी घृणित नीचता की इन तथाकथित आदमी के बच्चों ने इस भोली-भूखी माँ के साथ और ज़रा उस महान हथिनी मां की असली मनुष्यता भी तो देखिए? वो बेज़ुबान पूरे गांव से चुपचाप दर्द में कराहती हुई गुजरी पर किसी पर ज़रा सा भी ग़ुस्सा नहीं उतारा? किसी को घायल नहीं किया? उसका जबड़ा टूट गया, मुंह उड़ गया, दांत-जीभ गिर गए, गर्भ में सांस ले रहा नन्हा शिशु मर गया पर वो हथिनी पानी में बैठी इन आदमजादों की कमीनगी पर रो-रो कर मर गई ! कैसे ज़हर बुझे भारतीय हैं ये? इन्होंने क्या पढ़ा है,क्या जाना है, किनके साथ बैठे हैं, क्या सुना है? किस संस्कृति की पैदावार हैं ये लोग ? 

 

अमेरिका में एक जाहिल पुलिस वाले की पत्नी एक अश्वेत व्यक्ति के प्रति उसके निर्मम व्यवहार के कारण उसे उसी वक्त सार्वजनिक तौर पर तलाक दे सकती है तो क्या हम ऐसे नर-पशुओं को ढूंढ-ढूंढकर उनका सार्वजनिक बहिष्कार नहीं कर सकते? बचो यार, बचो, किसी भी तरह की घृणा फैलाने वाले इन विषबीजों से बचो, ज़िंदगी और सोशल मीडिया से आज ही ब्लॉक करो ऐसे सारे नीचों को'.'

इस घटना पर राजनीति, बिजनेस और बॉलीवुड से जुड़े कई लोगों ने गुस्सा जताया है और इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को कहा कि पलक्कड जिले में गर्भवती हथिनी की निर्मम हत्या मामले की जांच वन्यजीव अपराध जांच दल करेगा. वहीं केंद्र सरकार ने इस पर गंभीर रुख अपनाते हुए राज्य से रिपोर्ट मांगी है. वहीं, मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बताया है कि मन्नारकड़ वन मंडल में हथनी की मौत मामले में प्रारंभिक जांच शुरू कर दी गई है और पुलिस को घटना के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं. इस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गर्भवती हथिनी ने साइलेंट वैली जंगल में पटाखों से भरा एक अनानास खा लिया था जो उसके मुंह में फट गया और करीब एक सप्ताह के बाद उसकी मौत हो गई. दर्द से कराहती हुई हथिनी गांव से गुजरी थी लेकिन उसकी किसी ने मदद नहीं की. वो काफी दिनों तक नदी में खड़ी रही और हफ्ते भर बाद उसकी इसी हालत में मौत हो गई.

वीडियो: केरल- हथिनी की हत्या पर लोगों में गुस्सा, CM का कार्रवाई का वादा