विकास दुबे के एनकाउंटर को कुमार विश्वास ने बताया 'फिल्मी'? कहा- वास्तविकताओं में बची है...

कुमार विश्वास ने पूरी घटना को फिल्मी पटकथा बताते हुए ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'फ़िल्मी-पटकथाओं में तो वास्तविकता बची नहीं है पर वास्तविकताओं में खूब फ़िल्मी पटकथा बची हैं.'

विकास दुबे के एनकाउंटर को कुमार विश्वास ने बताया 'फिल्मी'? कहा- वास्तविकताओं में बची है...

विकास दुबे के एनकाउंटर को कुमार विश्वास ने बताया फिल्मी पटकथा. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • विकास दुबे का नाटकीय अंत
  • कुमार विश्वास ने किया ट्वीट
  • कहा- वास्तविकताओं में बची है फिल्मी पटकथा
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के कुख्यात अपराधी विकास दुबे का शुक्रवार को बड़ा नाटकीय अंत सामने आया. पिछले शुक्रवार को कानपुर के बिकरु गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद से फरार चल रहा गैंगस्टर विकास दुबे का शुक्रवार की सुबह यूपी पुलिस एसटीएफ ने एनकाउंटर कर दिया. पूरे केस कई नाटकीय मोड़ आए, अब गैंगस्टर के इस अंत पर बहुत से लोग सवाल उठा रहे हैं. वहीं बहुत से लोगों ने इसे फिल्मी कहानी का दर्जा दे दिया है.

कुमार विश्वास ने इसे फिल्मी पटकथा बताते हुए ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'फ़िल्मी-पटकथाओं में तो वास्तविकता बची नहीं है पर वास्तविकताओं में खूब फ़िल्मी पटकथा बची हैं.'

बता दें कि पिछले हफ्ते आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद विकास दुबे कानपुर से फरार हो गया था, जिसके बाद पुलिस उसकी तलाश में लगी हुई थी. इस दौरान पुलिस ने विकास के कई साथियों का एनकाउंटर कर दिया. जानकारी है कि कानपुर से निकलकर विकास दुबे दिल्ली-एनसीआर पहुंचा, फिर वो एक फर्जी आई़डी के सहारे कोटा होते हुए उज्जैन पहुंचा था. गुरुवार की सुबह वो महाकाल के दर्शन करने पहुंचा था, जहां एक गार्ड ने उसे पहचान लिया और उसे उज्जैन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. यहां से यूपी एसटीएफ उसे गाड़ी से कानपुर ला रही थी, जिसके बाद शुक्रवार को उसे कोर्ट में पेश किया जाना था. 

लेकिन शुक्रवार की सुबह सात बजे के करीब पुलिस ने तब उसका एनकाउंटर कर दिया, जब- पुलिस के मुताबिक- वो भागने की कोशिश कर रहा था. पुलिस ने बताया कि गाड़ी अभी कानपुर के पास भौंती में पहुंची थी, तभी हाईवे पर बारिश के चलते पुलिस की गाड़ी, जिसमें विकास दुबे बैठा था, पलट गई. इस दौरान कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए. विकास दुबे ने एक घायल पुलिसकर्मी से रिवॉल्वर छीनकर भागने की कोशिश की लेकिन घेर लिया गया. पुलिस ने आत्मसमर्पण करने को कहा तो उसने पुलिस पर गोलियां चला दी, जिसकी जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने उसपर गोली चला दी. 

इस पूरे घटनाक्रम के इस नाटकीय अंत पर बहुत से लोग सवाल उठा रहे हैं. खासकर कई विपक्षी नेताओं ने कहा है कि इससे विकास दुबे का अंत हो गया है, लेकिन एनकाउंटर के चलते उसकी मदद कर रहे लोग बच जाएंगे. 

Video: विकास दुबे के एनकाउंटर के चश्मदीद ने कहा- गाड़ी का एक्सीडेंट नहीं हुआ

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com