NDTV Khabar

मनमोहन सिंह और पीएम मोदी की तुलना कर कुमार विश्वास ने ली चुटकी, लिखा- हमारी भी आवाजें सुन लेते तो...

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले मौजूदा 'मोदी सरकार' और पूर्व की 'मनमोहन सरकार' के कामकाजों का तुलनात्मक अध्ययन किया जा रहा है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मनमोहन सिंह और पीएम मोदी की तुलना कर कुमार विश्वास ने ली चुटकी, लिखा- हमारी भी आवाजें सुन लेते तो...

कुमार विश्वास (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कुमार विश्वास ने पीएम मोदी के काम करने के तरीके पर ली चुटकी
  2. सवालों से बचते दिखे पीएम मोदी
  3. साढ़े चार साल में पीएम मोदी ने 50 बार की 'मन की बात'
नई दिल्ली:

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले मौजूदा 'मोदी सरकार' और पूर्व की 'मनमोहन सरकार' के कामकाजों का तुलनात्मक अध्ययन किया जा रहा है. इस मौके पर सरकार के फैसलों के अलावा प्रधानमंत्रियों के काम करने के तरीके पर भी चर्चा हो रही है. भारतीय जनता पार्टी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन के स्वभाव को लेकर चुटकी लेती रही है. जबकि कांग्रेस इन दिनों बीजेपी पर प्रेस के सवालों का सामना नहीं करने का आरोप लगा रही है. इसी कड़ी में कवि कुमार विश्वास ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष किया है. ट्विटर पर उन्होंने एक निजी चैनल की जानकारी को साझा करते हुए लिखा कि सुनी हैं ''आपकी बातें हजारों बार हमने, हमारी भी आवाजें आप सुन लेते तो अच्छा था.''

बुलंदशहर हिंसा : शहीद सुबोध कुमार की तस्वीर के साथ कुमार विश्वास ने ट्विटर पर लिखी कविता- 'अंधभक्तों जाग जाओ...'

कुमार विश्वास के ट्वीट के मुताबिक पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मुकाबले पीएम मोदी मीडिया के सवालों से बचते हुए नजर आए हैं. अपने कार्यकाल में मनमोहन सिंह ने 2 बार प्रेस कांफ्रेंस का सामना किया था तो वहीं पीएम मोदी इससे दूर ही नजर आए. एडिटर कांफ्रेंस में सिंह ने दो बार शिरकत की जबकि पीएम मोदी ने एक बार भी नहीं गए. विदेशी दौरों पर सवाल-जवाब का सामना करने के मामले में पूर्व प्रधानमंत्री सिंह आगे दिखाई दिए. विदेशी दौरे पर इंटरनेशनल मीडिया के सवालों का सामना मनमोहन सिंह ने 8 बार किया है जबकि प्रधानमंत्री मोदी ने ऐसा एक बार भी नहीं किया.

dhuo88m8कुमार विश्वास के ट्वीट की तस्वीर

बात की जाए अन्य मौंकों पर मीडिया के सवालों के जवाब देने की तो पीएम मोदी ने अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में एक बार भी किसी मौकों पर प्रेस के सवालों का जवाब नहीं दिया. जबकि मनमोहन सिंह ने अपने कार्यकाल में ऐसा 3 बार किया. मन की बात करने के मामले में पीएम मोदी, मनमोहन सिंह से काफी आगे दिखाई दिए. वह 50 बार ऐसा कर चुके हैं जबकि मनमोहन सिंह ने ऐसा एक बार भी नहीं किया. 

मनमोहन सिंह ने कसा PM मोदी पर तंज, बोले-मैं ऐसा प्रधानमंत्री नहीं था जो मीडिया से बात करने में डरता हो

बता दें कांग्रेस इन दिनों बीजेपी और प्रधानमंत्री मोदी पर आक्रामक रुख अख्तियार किया हुए है. वह लगातार केंद्र सरकार पर मीडिया के सवालों से बचने का आरोप लगाती रही है. ऐसे में कुमार विश्वास के इस ट्वीट ने इस सवाल को फिर से हवा दे दी है.            

टिप्पणियां

विदेश मंत्री से मिलते ही फूट-फूट कर रो पड़ा हामिद

VIDEO: रणनीति: नोटबंदी कितनी फली, कितनी खली?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement