NDTV Khabar

शहीद खुदीराम बोस की जन्‍मतिथि पर कुमार विश्‍वास ने लिखा, ''वह फांसी के फंदे तक झूमता हुआ आया, उसका चेहरा...''

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के शहीद खुदीराम बोस को महज 19 वर्ष की उम्र में 11 अगस्त 1908 को फांसी दे दी गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शहीद खुदीराम बोस की जन्‍मतिथि पर कुमार विश्‍वास ने लिखा, ''वह फांसी के फंदे तक झूमता हुआ आया, उसका चेहरा...''

शहीद खुदीराम बोस की जन्‍मतिथि पर कुमार विश्‍वास ने किया ट्वीट

नई दिल्ली:

कवि कुमार विश्वास ने अमर शहीद खुदीराम बोस की जयंती के अवसर पर ट्वीट कर उन्हें याद किया है. कुमार विश्वास ने अपने ट्वीट में लिखा  है"12 अगस्त 1908 के अखबारों ने छापा कि 'कल सुबह 6 बजे उसे फाँसी दे दी गई. वह फाँसी के फंदे तक झूमता हुआ आया. उसका चेहरा खिला हुआ था और वह मुस्कुराता हुए फाँसी पर चढ़ गया.' स्वतंत्रता संग्राम के उस निडर महानायक शहीद खुदीराम बोस जी की जन्मतिथि पर उन्हें प्रणाम"

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के शहीद खुदीराम बोस को महज 19 वर्ष की उम्र में 11 अगस्त 1908 को फांसी दे दी गई थी. खुदीराम बोस ने कक्षा 9 के बाद ही अपनी पढ़ाई छोड़कर अंग्रेजी सरकार के खिलाफ जंग छेड़ दी थी. खुदीराम बोस रिवोल्यूशनरी पार्टी में शामिल हो गए थे और 1905 में बंगाल विभाजन के खिलाफ चल रहे आदोलन में बोस ने हिस्सा लिया था.


प्रज्ञा के बहाने कुमार विश्‍वास ने कांग्रेस को ठहराया दोषी, कहा- गांधी विरोधी अनपढ़ मानसिक दिवालियेपन के लिए कांग्रेस जिम्‍मेदार

टिप्पणियां

कुमार विश्वास अपने ट्वीट को लेकर हमेशा चर्चाओं में रहते हैं. स्वंतत्रता आंदोलन से जुड़े शहीदों को लेकर भी सोशल मीडिया में वो लगातार सक्रिय रहे हैं. 
 

VIDEO: होली : कुमार विश्वास ने की रवीश कुमार की तारीफ तो नेताओं पर कसा तंज



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


Advertisement