NDTV Khabar

तेजस्वी को बर्खास्त किया जा सकता है, चिंतित लालू यादव ने अपनी पार्टी को गुप्‍त रूप से बताया: सूत्र

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर दो टूक कहा कि नीतीश ने इस्‍तीफा नहीं मांगा हैं. नीतीश महागठबंधन के नेता हैं.

1146 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेजस्वी को बर्खास्त किया जा सकता है, चिंतित लालू यादव ने अपनी पार्टी को गुप्‍त रूप से बताया: सूत्र

लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि नीतीश कुमार ने तेजस्‍वी से इस्‍तीफा नहीं मांगा है...

खास बातें

  1. तेजस्‍वी के मसले पर लालू ने रखी बात
  2. 28 जुलाई से शुरू होने जा रहा विधानसभा सत्र
  3. बीजेपी ने कहा कि इस्‍तीफा नहीं हुआ तो सदन नहीं चलने देंगे
पटना: बिहार के महागठबंधन में जारी तनातनी के बीच राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर दो टूक कहा कि 'तेजस्‍वी प्रसाद इस्‍तीफा नहीं देंगे. नीतीश ने इस्‍तीफा नहीं मांगा हैं. नीतीश महागठबंधन के नेता हैं. हमने गठबंधन बनाया, हमने नीतीश को मुख्‍यमंत्री बनाया. उनके साथ कोई मनमुटाव नहीं हैं. तेजस्‍वी को जहां सफाई देनी होगी, वहां दे देंगे लेकिन इस्‍तीफा नहीं दे देंगे. हमारी सरकार को पांच साल के लिए जनादेश मिला था, लिहाजा यह सरकार पांच साल के लिए बनी है'.

भ्रष्‍टाचार के आरोपों से घिरे तेजस्‍वी यादव ने कहा कि किसी ने भी इस्‍तीफे के लिए नहीं कहा है. लेकिन सूत्रों का कहना है कि लालू यादव ने पार्टी की मीटिंग में अपने विधायकों से कहा है कि वह इस बात को लेकर चिंतित हैं कि नीतीश कुमार तेजस्‍वी यादव को हटा सकते हैं. भ्रष्‍टाचार के अन्‍य आरोपों में अदालत के आदेश के चलते लालू यादव अगले तीन दिन तक रांची में रहेंगे, ताकि वह मामले की सुनवाई में शामिल रहे सकें, लिहाज़ा उन्‍होंने अपने विधायकों से कोई यात्रा न करने और उनके वापस लौटने तक पटना में ही रहने को कहा है.

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में उन्‍होंने राज्‍य में विपक्षी बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश पर बीजेपी की लार टपक रही है. वह महागठबंधन में दरार डालकर सत्‍ता में वापस आने की राह देख रही है लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे. उन्‍होंने यह भी कहा कि नीतीश से बातचीत होती रहती है और सत्‍तारूढ़ महागठबंधन में कोई मतभेद नहीं है.

ये भी पढ़ें : शुक्रवार तक तेजस्वी यादव का इस्तीफा? नीतीश कुमार और लालू यादव ने बुलाई बैठक, 8 बातें
लालू प्रसाद का बयान ऐसे वक्‍त आया है जब बिहार की राजनीति में इन दिनों तेजस्वी यादव का मुद्दा सबसे अहम बन गया है और वर्तमान महागठबंधन की सरकार का भविष्य जैसे तेजस्वी यादव पर टिक गया है. राज्य में आज महागठबंधन के दो महत्वपूर्ण घटक दल जेडीयू और आरजेडी के विधायकों की बैठक है. दोनों ही पार्टी अभी तक अपनी डफली अपना राग अलाप रही है. जेडीयू के सूत्र कह रहे हैं कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इशारा कर दिया है कि तेजस्वी यादव को इस्तीफा देना होगा. वहीं आरजेडी की ओर से कहा गया है कि इस्तीफा नहीं होगा.

ये भी पढ़ें : तेजस्वी पर इस्तीफे का दबाव बढ़ाने की कोशिश में नीतीश, जेडीयू विधायक दल की बैठक आज
28 जुलाई को राज्‍य विधानसभा का सत्र शुरू होने जा रहा है. सूत्रों के मुताबिक जेडीयू की तरफ से उससे पहले तेजस्‍वी के इस्‍तीफे की मांग की गई है. वहीं विपक्ष के नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि यदि तेजस्‍वी का इस्‍तीफा नहीं हुआ तो विधानसभा का सत्र नहीं चलने देंगे.

VIDEO-इस्‍तीफे पर सस्‍पेंस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement