NDTV Khabar

सुशील मोदी पर लालू यादव का पलटवार- क्या रैली टालने से बाढ़ भाग जाएगी?

सुशील मोदी ने आरजेडी से 27 अगस्त की रैली टालने को कहा तो भड़क गए लालू प्रसाद यादव.

1805 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुशील मोदी पर लालू यादव का पलटवार- क्या रैली टालने से बाढ़ भाग जाएगी?

27 अगस्त को प्रस्तावित आरजेडी की रैली टालने की अपील पर लालू यादव ने किया सुशील मोदी पर पलटवार.

खास बातें

  1. 27 अगस्त को पटना के गांधी मैदान में होनी है RJD की रैली
  2. सुशील मोदी ने बाढ़ को लेकर रैली टालने की अपील की थी
  3. जवाब में लालू बोले-रैली किसी भी हाल में नहीं टलेगी
पटना: बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राज्य में बाढ़ के हालात को देखते हुए आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से अपील की है कि वे 27 अगस्त को प्रस्तावित पार्टी रैली को फिलहाल टाल दें. सुशील मोदी की इस अपील पर लालू यादव ने पलटवार किया है. आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने कहा, 'मैं सुशील मोदी से पूछता हूं कि रैली स्थगित कर देंगे तो क्या बाढ़ भाग जाएगी?, सुशील मोदी हमको नहीं पढ़ाएं.' लालू ने आगे कहा, 'हम इनको (बीजेपी) हटाने के लिए रैली कर रहे हैं, ऐसे में रैली स्थगित करने का सवाल ही नहीं है.'

ये भी पढ़ें: सुशील मोदी बोले-लालू जी 27 तारीख वाली रैली को टाल दीजिए, बाढ़ पर फोकस कीजिए...

'पिछले साल क्यों नहीं आए थे पीएम बाढ़ देखने?' प्रेस कांफ्रेंस में लालू प्रसाद यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगामी बिहार दौरे को लेकर भी कटाक्ष किया. लालू ने कहा, 'पिछले साल महागठबंधन की सरकार थी, तब भी बाढ़ आई थी, उस वक्त प्रधानमंत्री हवामें भी हवा खाने नहीं आए. उस वक्त प्रधानमंत्री ने न केंद्रीय मंत्री को भेजा था न किसी अधिकारी को. एक पैसा भी नहीं भेजा था.' आरजेडी अध्यक्ष ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री को इतनी ही बाढ़ पीड़ितों की चिंता है तो वे सड़क से जाएं और लोगों का हालचाल पूछें.

ये भी पढ़ें: बिहार में लालू यादव की 'भाजपा भगाओ रैली' को लेकर कांग्रेस में क्यों है असमंजस...

लालू ने बताए बाढ़ के कारण
पत्रकारों से बातचीत में लालू प्रसाद यादव ने इस बार बाढ़ के विकराल रूप धारण करने की वजह भी बताई. लालू ने कहा, 'इस बार रिकॉर्ड स्तर पर टटबंधों के टूटने के चलते बाढ़ का यह रूप देखने को मिल रहा है. इसमें भी एक घोटाला है.'

ये भी पढ़ें: बिहार के नेताओं की भाषा पर आखिर लगाम क्‍यों नहीं लग रही? जानें वजहें...

सुशील मोदी ने की थी ये अपील
विपक्षी एकता साबित करने के लिए राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) की ओर से 27 अगस्त को पटना में प्रस्तावित रैली को लेकर बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने बयान दिया है. सुशील मोदी ने आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से अपील की है कि वे इस रैली को फिलहाल रोक दें. बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने कहा, 'इन दिनों बिहार बाढ़ की विभीषिका झेल रहा है, ऐसे में किसी राजनीतिक पार्टी की रैली अच्छी बात नहीं है. मैं अपील करता हूं कि लालू यादव प्रस्तावित रैली की स्थगित कर दें और नई तारीख तय कर दें.'

ये भी पढ़ें: नीतीश कुमार का खुलासा, महागठबंधन टूटने के 15 दिन पहले से ये काम कर रहे थे लालू यादव

तंज कसने से भी बाज नहीं आए सुशील मोदी
रैली टालने की अपील करने के दौरान सुशील मोदी ने आरजेडी प्रमुख लालू यादव के दावों पर तंज भी कसा. उन्होंने कहा कि लालू यादव ने दावा किया है कि 27 अगस्त की रैली में 25 लाख लोग आएंगे, लेकिन इसमें कोई खास भीड़ जुटने वाली नहीं है. रैली फ्लॉप होने पर लालू यादव कहेंगे कि बाढ़ की वजह से रैली में लोग नहीं आ पाए. 

ये भी पढ़ें: जानिए लालू यादव ने अपने एक बयान से शहाबुद्दीन की दलीलों की कैसे निकाली हवा?

'रैली नहीं बाढ़ प्रभावितों से मिलें लालू-तेजस्वी'
सुशील मोदी ने ये भी सलाह दी कि इस वक्त के हालात को देखते हुए लालू प्रसाद यादव और उनके बेटे तेजस्वी को बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करना चाहिए. अगर वे इस साल के बाढ़ को हल्के में ले रहे हैं तो लगता है कि उन्हें विभीषिका का सही मंजर नहीं पता है. ऐसे में मेरी उनको सलाह है कि वे रैली के बजाय बाढ़ पर फोकस करें.

ये भी पढ़ें: JDU क्यों चाहती हैं कि शरद यादव RJD की रैली में भाग लें? जानें वजहें...

कांग्रेस भी रैली के पक्ष में नहीं
बिहार कांग्रेस के भी कुछ नेता चाहते हैं कि लालू यादव इस रैली को आगे बढ़ा दें. उनका कहना है कि इस वक्त अगर राहुल गांधी रैली के बजाय बिहार के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करते हैं तो वह पार्टी के लिए ज्यादा असरदार साबित होगा.

ये भी पढ़ें: सुशील मोदी ने लालू यादव पर लगाए ताजा आरोप, किया एक और 'विवादित' संपत्ति का खुलासा

रैली के कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं
बीजेपी के बयान से आरजेडी ने किनारा कर लिया है. पार्टी का कहना है कि रैली अपने तय समय पर ही होगी. हालांकि वे इस बात को भी स्वीकारते हैं कि बाढ़ का असर रैली में जुटने वाली भीड़ पर दिख सकती है. आरजेडी नेताओं का कहना है कि बाढ़ के माहौल के बीच भी लालू यादव और तेजस्वी यादव की रैली को लेकर जनता का उत्साह चरम पर है. वे भारी संख्या में पटना के गांधी मैदान में जुटेंगे. 

VIDEO: लालू यादव ने माना, जेल में बंद शहाबुद्दीन से होती रहती थी बातचीत
आरजेडी के वरिष्ठ विधायक ललित यादव ने सुशील मोदी के तंज पर कहा, 'मैं पूछता हूं कि बाढ़ की विभीषिका के बीच पांच दिन का विधानसभा सत्र बुलाने का क्या औचित्य है? 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement