NDTV Khabar

चारा घोटाले मामले में लालू प्रसाद यादव ने रांची कोर्ट में किया सरेंडर, पहले जाएंगे जेल और फिर अस्‍पताल

चारा घोटाले  के मामले में लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को सरेंडर कर दिया है, वह बुधवार को रांची पहुंच गए थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चारा घोटाले मामले में लालू प्रसाद यादव ने रांची कोर्ट में किया सरेंडर, पहले जाएंगे जेल और फिर अस्‍पताल

चारा घोटाला मामले के दोषी लालू प्रसाद यादव ने रांची कोर्ट में सरेंडर किया

खास बातें

  1. लालू प्रसाद यादव ने रांच कोर्ट में किया सरेंडर
  2. लालू ने कहा कि मैंने हाईकोर्ट के आदेश के पालन किया है
  3. लालू यादव मेडिकल ग्राउंड पर पेरोल पर बाहर थे
नई दिल्ली: चारा घोटाले  के मामले में लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को सरेंडर कर दिया है, वह बुधवार को रांची पहुंच गए थे. सरेंडर करने से पहले लालू प्रसाद यादव ने मीडिया से बात करते हुए क‍हा कि मैंने हाईकोर्ट के आदेश के पालन किया है और हमारी कोई इच्‍छा नहीं है जहां रखना है रखें. रांची की सीबीआई कोर्ट में सरेंडर करने के बाद पहले उन्‍हें जेल भेजा जाएगा और उसके बाद उन्‍हें अस्‍पताल भेजा जाएगा. चारा घोटाले से जुड़े मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव मेडिकल ग्राउंड पर पेरोल पर बाहर हैं. इससे पहले झारखंड हाइकोर्ट ने जमानत बढ़ाने से इनकार कर दिया था. लालू पिछले कुछ दिनों से बीमार हैं. पहले दिल्ली में उनका इलाज चला और उसके बाद मुंबई में दिल का इलाज कराकर वो पटना लौटे थे. पटना से बुधवार को ही वो रांची पहुंच चुके हैं. इससे पहले उनके बेटे तेजस्वी यादव ने उनकी सेहत को लेकर चिंता जताई थी. 

चारा घोटाले मामले में सरेंडर करने कोर्ट पहुंचे LIVE UPDATES


- बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव ने झारखंड हाईकोर्ट के आदेश के बाद गुरुवार को सरेंडर किया था, और फिर वह रांची स्थित बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल से राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ (RIMS) चले गए.
 

- झारखंड विकास मोर्चा के मुखिया बाबूलाल मरांडी ने गुरुवार को रांची में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की. लालू को झारखंड हाईकोर्ट ने चारा घोटाले के सिलसिले में गुरुवार को ही सरेंडर करने का आदेश दिया है, और वह बुधवार को ही पटना से रांची पहुंचे थे.
 
- लालू यादव ने बुधवार को महीनों बाद मीडिया से बातचीत की और सभी विषयों पर जमकर बोले. लालू के अनुसार, चेहरे से ज्यादा महत्वपूर्ण मुद्दे हैं. जैसे मोदी ने जनता से क्या-क्या वादे किए थे और आम लोगों को असल में कितना लाभ पहुंचा. लालू के अनुसार चुनाव का मुद्दा होगा- वादा तेरा वादा, वादे पर कितना काम किया.

जनता दल यूनाइटेड ने अब तेजस्वी यादव से CBI अधिकारी के तबादले पर पूछा सवाल

- लालू ने फिर कहा कि इस देश में अधिक से अधिक पार्टियां मोदी हटाओ अभियान में आने वाले दिनों में आगे आएंगी. हालांकि उन्होंने ऐसे दलों के नामों का खुलासा नहीं किया, लेकिन कहा सब लोग एक-दूसरे के साथ बात कर रहे हैं. समय आने पर आप सबको पता चल जाएगा कि कौन दल इस अभियान में हमारे साथ हैं.

- लालू ने कहा कि देखिए दलों का एक साथ जुटना मुद्दों को लेकर होगा. जैसे अगर आप संविधान को बचाना चाहते हैं, दलितों पिछड़ों के हकमारी के खिलाफ हैं तब आप भाजपा के खिलाफ चुनाव मैदान में दिखेंगे. लालू ने कहा कि अगर आप उनके साथ हैं, तब उनके फासिस्ट और आपातकाल लगाने के तरीकों के समर्थक हैं.


- लालू प्रसाद यादव बुधवार को रांची पहुंचे थे.

 
'हम छोटे समझौते नहीं कर सकते', क्या राहुल गांधी भूल गये साल 2013 में दिया ये वाला बयान

गौरतलब है कि लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले के देवघर कोषागार समेत सभी तीन मामलों में जेल की सजा काट रहे हैं. चारा घोटाला से जुड़े तीन मामलों में रांची स्थित सीबीआई अदालत ने दिसंबर, 2017 को लालू को सजा सुनायी थी. 

टिप्पणियां
मिशन 2019 : भ्रष्टाचार से समझौते की राजनीति?​


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement