लालू यादव का नीतीश कुमार पर जोरदार हमला, बोले- काम धेले का नहीं, फिर ये नौटंकी और फिजूलखर्ची क्यों?

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के मुखिया लालू प्रसाद यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट के जरिए जोरदार हमला बोला है.

लालू यादव का नीतीश कुमार पर जोरदार हमला, बोले- काम धेले का नहीं, फिर ये नौटंकी और फिजूलखर्ची क्यों?

RJD के मुखिया लालू प्रसाद यादव और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार- फाइल फोटो

खास बातें

  • लालू यादव का नीतीश कुमार पर जोरदार हमला
  • CM नीतीश कुमार के जल जीवन हरियाली अभियान पर निशाना
  • कहा- ग़रीब का 24500 करोड़ 'छल छीजन घड़ियाली' के नाम पर...
पटना:

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के मुखिया लालू प्रसाद यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट के जरिए जोरदार हमला बोला है. उन्होंने CM नीतीश कुमार के जल जीवन हरियाली अभियान को नया नाम दिया है. सोशल मीडिया पर लालू यादव इस अभियान पर तंज कसते हुए ''छल छीजन घड़ियाली" का नाम दिया है. इतना ही नहीं, नीतीश कुमार को पलटूराम कहते हुए मानव श्रृंखला बनाने को लेकर यह भी कहा कि बाढ़ राहत में कभी पलटूराम ने 18 हेलिकॉप्टर नहीं लगाए जो अब मानव श्रृंखला का फोटू खिंचवाने के लिए करोड़ों खर्च कर 18 हेलिकॉप्टर मंगवाए हैं.

जानिए, नागरिकता अधिनियम 1955 में क्या बदलाव करके बनाया गया है CAA

लालू यादव ने ट्वीट में लिखा, ''ग़रीब का 24500 करोड़ 'छल छीजन घड़ियाली' के नाम पर लूटा और अब करोड़ों मानव श्रृंखला के नाम. आम नागरिक के धन की बर्बादी व नौटंकी की यह पराकाष्ठा है. बाढ़ राहत में कभी पलटूराम ने 18 हेलिकॉप्टर नहीं लगाए जो अब मानव श्रृंखला का फोटू खिंचवाने के लिए करोड़ों खर्च कर 18 हेलिकॉप्टर मंगवाए है.''

लालू ने अपने एक और ट्वीट में लिखा, ''कड़ाके की ठंड में मानव श्रृंखला में अगर अधिकारी जबरदस्ती बूढ़े, बच्चों, औरतों, स्कूली छात्रों व आम नागरिकों को खड़ा करे तो उसका वीडियो बनाकर डाल देना. करोड़ों का सरकारी खर्च, फ़ोटो खींचने के लिए 18 हेलिकॉप्टर, मुंबई से फ़ोटोग्राफ़र और काम धेले का नहीं. यह नौटंकी और फिज़ूलखर्ची क्यों?

मधुरिमा की मां ने सिद्धार्थ शुक्ला की जमकर की तारीफ, बोलीं - वही असली लड़का है...देखें VIDEO

बिहार CM पर निशाना साधते हुए लालू ने एक और ट्वीट किया. जिसमें उन्होंने लिखा, ''नीतीश जी, आपके पास दुर्गति की मार झेल रहे स्कूलों, अस्पतालों, छात्रों, युवाओं, किसानों, गरीबों की स्थिति में सुधार के लिए पैसे नहीं है लेकिन अपने अनैतिक महिमामंडन के लिए फिजूलखर्ची में खर्च करने के लिए करोड़ों रुपये हैं? यह आज के अख़बार की कतरन है. हाईकोर्ट ने शाबाशी दी है.''

अपने आखिरी ट्वीट में लालू ने लिखा, ''नीतीश एक असंवेदनहीन आत्ममुग्ध तानाशाह हैं! जनता के तकलीफों का उन्हें कण भर भी अहसास नहीं! राज्य के स्कूल, कॉलेज, अस्पताल बदहाली का रोना रो रहे हैं. करोड़ों युवा बेरोजगार बैठे हैं लेकिन ये सरकारी खर्चे पर राजनीतिक यात्रा कर खज़ाने का करोड़ों लूट रहे हैं और करोड़ों बर्बाद कर रहे है.''

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com