NDTV Khabar

राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मनोहर पर्रिकर के बेटे ने किया Tweet, कहा- 'राहुल गांधी के लिए यह...'

पूर्व रक्षा मंत्री और वरिष्ठ BJP नेता दिवंगत मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) के बेटे उत्पल पर्रिकर ने कहा कि उच्चतम न्यायालय का फैसला राहुल गांधी के लिए 'सीखने लायक सबक' है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मनोहर पर्रिकर के बेटे ने किया Tweet, कहा- 'राहुल गांधी के लिए यह...'

पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर का इस साल 17 मार्च को निधन हो गया. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. राफेल पर फैसले के बाद मनोहर पर्रिकर के बेटे ने किया ट्वीट
  2. उत्पल बोले- राहुल गांधी के लिए यह सीखने लायक सबक
  3. राफेल पर सुप्रीम कोर्ट से मोदी सरकार को मिली है क्लीनचिट
नई दिल्ली:

राफेल मामले (Rafale Deal) में मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट से मिली क्लीन चिट के बाद पूर्व रक्षा मंत्री और वरिष्ठ BJP नेता दिवंगत मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) के बेटे उत्पल पर्रिकर ने कहा कि उच्चतम न्यायालय का फैसला राहुल गांधी के लिए 'सीखने लायक सबक' है. उत्पल पर्रिकर (Utpal Parrikar) ने कहा, 'राफेल पर फैसला आ गया है और मैं आशा करता हूं कि यह राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के लिए सीखने लायक सबक है.' उन्होंने कहा, 'मैं उन्हें संदेह का लाभ दे सकता हूं कि उन्होंने जो कुछ किया और जिस तरह वह राजनीति के लिए मेरे बीमार पिता के पास गए थे, उसमें उनके राजनीतिक खेल की कुत्सित योजना रही.' वह 29 जनवरी को बीमार चल रहे गोवा के तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) से राहुल गांधी द्वारा मुलाकात करने का जिक्र कर रहे थे.


राहुल गांधी ने दावा किया था कि पर्रिकर ने उनसे कहा कि (बतौर रक्षा मंत्री) उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राफेल लड़ाकू जेट सौदे में किए गए बदलावों के प्रति अंधेरे में रखा. पर्रिकर ने राहुल गांधी के दावे से यह कहते हुए इनकार किया था कि कांग्रेस नेता को पांच मिनट के शिष्टाचार भेंट को राजनीतिक लाभ के लिए दुरुपयोग नहीं करना चाहिए. मनोहर पर्रिकर का इस साल 17 मार्च को निधन हो गया.

Rafale Deal पर मोदी सरकार को क्लीनचिट मिलने के बाद बोले राहुल गांधी- 'सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए...'

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को राहुल गांधी को राफेल सौदे के सिलसिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ गलत तरीके से शीर्ष अदालत के हवाले से टिप्पणी करने पर फटकार लगाई और उन्हें भविष्य में अधिक सावधानी बरतने की नसीहत दी. इसी के साथ शीर्ष अदालत ने उनके खिलाफ अदालत की अवमानना की कार्यवाही बंद कर दी.

राफेल सौदे में मोदी सरकार को क्लीन चिट, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- याचिकाओं में कोई मेरिट नहीं

VIDEO : राफेल केस में सभी रिव्यू पिटीशन खारिज

टिप्पणियां

(इनपुट: भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement