NDTV Khabar

कार्ति चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट में लगाई गुहार, कहा- 'बेटी के एडमिशन के लिए विदेश जाने की छूट दी जाए'

लुकआउट सर्कुलर मामले में सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई के दौरान वादी-प्रतिवादी में जमकर बहस हुई. हालांकि बहस किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कार्ति चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट में लगाई गुहार, कहा- 'बेटी के एडमिशन के लिए विदेश जाने की छूट दी जाए'

कार्ति चिदंबरम ने विदेश जाने की अनुमति के लिए सीबीआई के नोटिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सोमवार को भी हुई थी सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई
  2. कार्ति ने माना कि विदेश में उनका एक खाता और एक संबत्ति है
  3. बेटी के एडमिशन के लिए विदेश जाना चाहते हैं कार्ति चिदंबरम
नई दिल्ली: लुकआउट सर्कुलर मामले में सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई के दौरान वादी-प्रतिवादी में जमकर बहस हुई. हालांकि बहस किसी भी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई. कोर्ट में यह सुनवाई कल यानी बुधवार को भी जारी रहेगी. सीबीआई ने कोर्ट में फिर दलील दी कि कार्ति चिदंबरम को विदेश जाने की इजाजत नहीं दी जाए, अगर ऐसा होता है तो वह सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं. सीबाआई ने तर्क दिया कि जब वे इससे पहले विदेशी दौरे पर गए थे, तो उन्होंने अपने कई बैंक खाते बंद कर दिए थे. सीबीआई ने कोर्ट में सीलबंद कवर में सबूत भी सौंपते हुए कहा कि इसमें कार्ति की संपत्ति और उनके बैंक खातों का ब्यौरा है.

यह भी पढ़ें: कार्ति चिदंबरम फिलहाल विदेश नहीं जा सकेंगे, सुप्रीम कोर्ट ने लुक आउट नोटिस बरकरार रखा

कार्ति के वकील कपिल सिब्बल ने सीबीआई के तर्कों पर कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा कि कार्ति कोई कानून से भगौड़े नहीं हैं, उनके खिलाफ पुलिस में न तो कोई रिपोर्ट है और न ही कोई सबूत. अगर ऐसा कुछ भी है तो सीबीआई उन्हें गिरफ्तार करे. कपिल सिब्बल ने मांग की कि लिफाफे में बंद सबूतों को सभी के सामने रखा जाए.

इससे पहले कार्ति के बचाव में उनके पिता और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट में हलफ़नामा दायर कर कहा कि राजनीतिक बदले की भावना से कार्ति को निशाना बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि जब से एनडीए की सरकार सत्ता में आई है, वो राजनीतिक बदले की भावना से उनके और परिवार के खिलाफ खासकर, बेटे कार्ति चिदंबरम को निशाना बनाया जा रहा है.

सोमवार को कार्ति चिंदबरम की तरफ से कहा गया कि उनकी बेटी के शिक्षण संबंधी काम के लिए उन्हें  कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी जाना है ऐसे में उनको जाने की इजाजत दी जाए. कार्ति ने सुप्रीम कोर्ट को भरोसा दिया कि विदेश जाकर बैंक संबंधी कोई काम नही करेंगे.

टिप्पणियां
VIDEO: कांग्रेस नेता पी चिदंबरम और उनके बेटे के घरों पर CBI के छापे
पिछली सुनवाई में सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में कहा अगर आप इन दस्तावेजों को देखेंगे तो चकित रह जाएंगे कि कैसे कार्ति चिंदबरम ने विदेश जा कर सबूतों को नष्ट किया. सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि कार्ति चिंदबरम जब विदेश गए थे तो उन्होंने सबूतों के साथ छेड़छाड़ की. कार्ति ने अपने विदेशी बैंक खातों से पैसे का लेनदेन किया और खातों को बंद कर दिया. सीबीआई ने कोर्ट में कहा कि लुक आउट सर्कुलर का मतलब ये नहीं कि कार्ति चिदंबरम को गिरफ्तार किया जाए बल्कि ये कि उनको विदेश जाने से रोका जाए. सर्कुलर केवल दो बातों के लिए जारी किया गया था. पहला की वो कानून के पहुंच से दूर न जा सकें दूसरा, विदेश जा कर सबूतों के साथ छेड़छाड़ न कर सकें.

सुप्रीम कोर्ट ने सवाल उठाया कि हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि अगर कार्ति चिंदबरम विदेश जाते हैं तो उसके तीन दिन पहले जांच अधिकारी को बताएंगे. ऐसे में आप जो शर्ते उन पर लगाना चाहते हैं आप लगा सकते हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement