NDTV Khabar

दिल्ली में हवा चलने से प्रदूषण के स्तर में थोड़ा कमी, जानें कैसे मापते हैं वायु गुणवत्ता सूचकांक यानी AQI

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को हवा की गति में मामूली वृद्धि होने से प्रदूषण के स्तर में कुछ कमी आई है लेकिन वायु गुणवत्ता अब भी 'बेहद गंभीर' की श्रेणी में बनी हुई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली में हवा चलने से प्रदूषण के स्तर में थोड़ा कमी, जानें कैसे मापते हैं वायु गुणवत्ता सूचकांक यानी AQI

दिल्ली में हल्की हवा चलने से प्रदूषण में नाम मात्र की राहत मिली है.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को हवा की गति में मामूली वृद्धि होने से प्रदूषण के स्तर में कुछ कमी आई है लेकिन वायु गुणवत्ता अब भी 'बेहद गंभीर' की श्रेणी में बनी हुई है.  सुबह चार बजकर 38 मिनट पर दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 438 रहा, वहीं अलीपुर, नरेला और बवाना में एक्यूआई क्रमश: 493, 486 और 472 रहा. रविवार को दिल्ली का औसत एक्यूआई 494 रहा. यह छह नवंबर 2016 के बाद से सर्वाधिक है. उस वक्त एक्यूआई 497 था. एक्यूआई 0-50 के बीच 'अच्छा', 51-100 के बीच 'संतोषजनक', 101-200 के बीच 'मध्यम', 201-300 के बीच 'खराब', 301-400 के बीच 'अत्यंत खराब', 401-500 के बीच 'गंभीर' और 500 के पार 'बेहद गंभीर' माना जाता है.

 राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में एक्यूआई फरीदाबाद में 426, नोएडा में 452, गाजियाबाद में 474, ग्रेटर नोएडा में 454 और गुड़गांव में 396 रहा. दिल्ली के 37 वायु गुणवत्ता निगरानी केंद्रों में से 21 में एक्यूआई 490 से 500 के बीच दर्ज किया गया. आया नगर, अशोक विहार, आनंद विहार और अरविंदो मार्ग में शाम सात बजे वायु गुणवत्ता सर्वाधिक खराब दर्ज की गई. प्रदूषण का स्तर खतरनाक स्तर तक बढ़ जाने के कारण दिल्ली सरकार शुक्रवार को ही पांच नवंबर तक स्कूल बंद रखे जाने का आदेश दे चुकी है. साथ ही हर तरह के निर्माणकार्यों पर भी रोक लगा दी गई है. 

Delhi-NCR में आज भी जहरीली है हवा, सांस लेने में हो रही है दिक्कत​


अन्य बड़ी खबरें :

प्रदूषण की वजह से कितने प्रतिशत लोग दिल्ली-NCR छोड़कर बाहर बसना चाहते हैं, जानें यहां

टिप्पणियां

दिल्ली में प्रदूषण से निपटने के लिए काम कर रही हैं करीब 300 टीमें, केंद्र सरकार की नजर मुख्य रूप से यहां

केंद्र ने की दिल्‍ली में प्रदूषण की स्थिति की समीक्षा, NCR में स्‍कूल बंद, विमानों पर भी असर, 10 बातें



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement