NDTV Khabar

Lok Sabha Election 2019 : एग्जिट पोल के बाद अब विपक्ष के लिए सिरदर्द बनी EVM,प्रत्याशी दे रहे हैं धरना

Election 2019 : 19 मई को अंतिम चरण के मतदान के बाद आए एग्जिट पोल में ज्यादातर केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार बनने की भविष्यवाणी कर रहे हैं. वहीं एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्स में भी केंद्र में एनडीए की ही सरकार बनने के  संकेत मिल रहे  हैं. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Lok Sabha Election 2019 : एग्जिट पोल के बाद अब विपक्ष के लिए सिरदर्द बनी EVM,प्रत्याशी दे रहे हैं धरना

Lok Sabha Election 2019 : 23 मई को मतगणना होगी

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ीपुर में प्रशासन ने स्ट्रॉंग रूम की निगरानी में 5 लोगों को रहने की इजाज़त दे दी है. सोमवार को यहां से गठबंधन के उम्मीदवार अफ़ज़ाल अंसारी अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गए थे. उनका आरोप था कि ग़ाज़ीपुर लोकसभा के अंतर्गत 5 विधानसभाएं आती हैं और हर विधानसभा की ईवीएम 5 अलग-अलग जगहों पर है. अफ़ज़ाल की मांग थी कि हर स्ट्रॉंग रूम के पास दो बसपा कार्यकर्ताओं के पास जारी किए जाएं. अंसारी ने शक जताया है कि ज़िला प्रशासन सत्ताधारी पार्टी के इशारे पर कुछ गड़बड़ कर सकता है. ग़ाज़ीपुर से केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा के ख़िलाफ़ अफ़ज़ाल अंसारी मैदान में हैं. वहीं उत्तर प्रदेश के चंदौली में भी ईवीएम को लेकर गठबंधन समर्थक धरने पर बैठ गए. आरोप है कि गाड़ी से लाई गई कुछ ईवीएम को काउंटिंग स्थल के एक अलग कमरे में  रखा गया है. हालांकि प्रशासन का कहना है कि ये ईवीएम ख़राब हैं और जिन ईवीएम के वोटों की काउंटिंग होनी है वो अलग कमरे में सील हैं और उसकी वीडियोग्राफ़ी हो रही है, जिसमें हेराफेरी नहीं  की जा सकती, लेकिन लोगों के मन में शक है इसलिए इस तरीके का धरना भी हो रहा है.  

Exit Poll के बाद मध्यप्रदेश में सियासती हलचल, बीजेपी तलाश रही कमजोर कड़ी


दूसरी ओर एग्जिट पोल के बाद से कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में निराशा है. जिसको देखते हुए पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी ने ऑडियो जारी किया है. प्रियंका गांधी ने कहा, 'प्यारे कार्यकर्ता, बहनों और भाइयों, अफ़वाहों और एग्ज़िट पोल से हिम्मत मत हारिए. ये आपका हौसला तोड़ने के लिए फैलाया जा रहा है. इस बीच आपकी सावधानी और भी महत्वपूर्ण बनती है. स्ट्रॉंग रूम और काउंटिंग सेंटर में डटे रहिए और चौकन्ने रहिए. हमें पूरी उम्मीद है कि हमारी मेहनत और आपकी मेहनत फल लाएगी. 

RJD भी चिंतित

चुनाव परिणाम से ठीक पहले अमित शाह ने NDA के सहयोगियों को डिनर पर बुलाया, नई रणनीति पर हो सकती है बात...

गौरतलब है कि 19 मई को अंतिम चरण के मतदान के बाद आए एग्जिट पोल में ज्यादातर केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार बनने की भविष्यवाणी कर रहे हैं. वहीं एनडीटीवी पोल ऑफ पोल्स में भी केंद्र में एनडीए की ही सरकार बनने के  संकेत मिल रहे  हैं. 

टिप्पणियां

एग्जिट पोल पर बटी राजनीतिक पार्टियां​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement