NDTV Khabar

अब आंध्र प्रदेश के 'चुनावी रण' में अकेली उतरेगी कांग्रेस, विधानसभा और लोकसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी

आंध्र प्रदेश में एक साथ होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अकेली चुनाव लड़ेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अब आंध्र प्रदेश के 'चुनावी रण' में अकेली उतरेगी कांग्रेस, विधानसभा और लोकसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

पिछले साल हुए विधानसभा चुनावों में तीन राज्यों में जीत से उत्साहित कांग्रेस ने आंध्र प्रदेश में होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में अकेले लड़ने का मन बना लिया है. आंध्र प्रदेश में एक साथ होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अकेली चुनाव लड़ेगी. कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता और आंध्र प्रदेश के प्रभारी ओमान चांडी ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस ने 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों पर अकेले लड़ने का फैसला किया है. 

प्रियंका गांधी पहले एंट्री करतीं तो यूपी चुनाव में देखने को मिलता बड़ा असर- प्रशांत किशोर

कांग्रेस के इस फैसले का मतलब यह होगा कि आंध्र प्रदेश में कांग्रेस और तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) का कोई महागठबंधन नहीं होगा. दोनों दलों ने संयुक्त रूप से तेलंगाना में हाल ही में विधानसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें करारी हार का सामना करना पड़ा था. इतना ही नहीं, टीडीपी, जो आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ पार्टी है, इस बात पर भी स्पष्ट नहीं थी कि वह कांग्रेस के साथ गठबंधन कर राज्य में आने वाले चुनाव लड़ेगी या नहीं. 


'मिशन: दुबई टू अमेरिका'... और प्रियंका गांधी की एंट्री, राहुल गांधी ने ऐसे लिखी 'पॉलिटिकल स्क्रिप्ट'

जब यह पूछा गया कि क्या चंद्रबाबू नायडू को इस फैसले की सूचना दे दी गई है, तो इस पर ओमान चांडी ने कहा कि मैं कांग्रेस से जुड़ा हूं न कि टीडीपी और उसके नेता चंद्रबाबू नायडू से. हम हाई कमान को सूचना दे देंगे और इसकी इजाजत ले लेंगे. आगे उन्होंने कहा कि तेलंगाना में टीडीपी के साथ गठबंधन करने का फैसला पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व का था. 

केरल के पूर्व मुख्यमंत्री रहे ओमान चांडी ने कहा कि 'पार्टी ने ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर चुनाव समिति और सभी तरह की कमेटी बनाने का भी फैसला किया है. हमें सात समितियों को नामित करना है. हम इस सप्ताह ही एआईसीसी को सदस्यों की सूची देंगे.'

बीजेपी की सहयोगी शिवसेना ने की प्रियंका गांधी की तारीफ, कहा- उनमें लोगों को इंदिरा गांधी की झलक दिखती है

उन्होंने यह भी घोषणा की कि विधानसभा और लोकसभा क्षेत्रों के सभी पार्टी संयोजकों की एक बैठक 31 जनवरी को होगी और चुनाव से संबंधित सभी चीजों पर चर्चा करेगी और इसे अंतिम रूप देगी. 

PM मोदी ने वंशवादी राजनीति की निंदा की, BJP के लोकतांत्रिक मूल्यों की सराहना की

टिप्पणियां

यह पूछे जाने पर कि क्या पार्टी चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवारों को खोजेगी, तो इस पर चांडी ने दावा किया कि कई लोग चुनाव लड़ने के लिए तैयार थे. वहीं, जब उनसे पूछा गया कि कांग्रेस कितनी सीटें जीतेगी, तो इस पर उन्होंने कहा कि ''मैं नहीं कह सकता. लोग तय करेंगे.," 
 

VIDEO- प्राइम टाइम : कांग्रेस में कितनी ताक़त फूंक पाएंगी प्रियंका गांधी?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... शिवपाल यादव का बड़ा बयान- मुलायम के कहने पर ही बनाई थी अलग पार्टी लेकिन जब वह अखिलेश के साथ हैं तो...

Advertisement