कारगिल में हमारे जांबाजों ने दुश्मन पर विजय की अजर-अमर गाथा लिखी थी : ओम बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने आज 'कारगिल विजय दिवस' (Kargil Vijay Diwas) के मौके पर कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी.

कारगिल में हमारे जांबाजों ने दुश्मन पर विजय की अजर-अमर गाथा लिखी थी : ओम बिरला

कारगिल युद्ध 1999 में लड़ा गया था. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • लोकसभा अध्यक्ष हैं ओम बिरला
  • कारगिल के शहीदों को किया याद
  • 1999 में लड़ा गया था कारगिल युद्ध
नई दिल्ली:

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने आज 'कारगिल विजय दिवस' (Kargil Vijay Diwas) के मौके पर कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की. इस दौरान ओम बिरला ने अपने संदेश में कहा, 'अपनी संकल्प शक्ति के बल पर जवानों ने दुनिया के सबसे दुर्गम रणक्षेत्रों में से एक, कारगिल में दुश्मन पर विजय की व अजर-अमर गाथा लिखी, जो आने वाली पीढ़ियों को भी प्रेरणा देती रहेगी. हम उनके समर्पण को याद करते हुए देशहित में अपना सर्वस्व न्योछावर करने के संकल्प को दोहराते हैं.'

भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने भी कारगिल के वीर जांबाजों को नमन किया. रक्षा मंत्री ने कहा, 'कारगिल युद्ध सिर्फ हमारे आत्म-सम्मान का प्रतीक नहीं बल्कि अन्याय के खिलाफ उठाया हुआ एक कदम भी था. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए उठाया गया हर कदम आत्म-सम्मान के लिए होगा न कि ये हमला होगा.'

कारगिल विजय दिवस : भारतीय सेना को चरवाहे ने दी थी खबर- वहां कुछ लोग घुस आए हैं

उन्होंने आगे कहा, 'हाल ही में मुझे लेह-लद्दाख जाने और वहां से कारगिल के वीर सपूतों को श्रद्धांजलि देने का अवसर प्राप्त हुआ था. मुझे कहते हुए खुशी हो रही है कि 20 वर्ष पहले के मुकाबले मैंने लद्दाख में बहुत बड़ा बदलाव देखा, वो चाहे इक्विमेंट प्रोफाइल हो, बंदूकें हों या ऐरियल एसेट्स हों. राष्ट्रीय सुरक्षा के दायरे में हम जो कुछ भी करते हैं, वह हमेशा आत्मरक्षा के लिए करते हैं, आक्रमण के लिए नहीं. अगर दुश्मन देश ने कभी हमारे ऊपर आक्रमण किया, तो हमने यह भी साबित कर दिया कि कारगिल की तरह हम उसे मुंहतोड़ जवाब भी देंगे.'

युद्ध की स्थिति में हम जो बात कहते हैं, करते हैं, उसका असर सीमा पर सैनिकों के मनोबल पर पड़ता है : पीएम मोदी

कारगिल विजय दिवस पर पीएम मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' में कहा, 'आज सभी देशवासियों की तरफ से हमारे इन वीर जवानों के साथ-साथ, उन वीर माताओं को भी नमन करता हूं, जिन्होंने मां-भारती के सच्चे सपूतों को जन्म दिया. एक वेबसाइट है, gallantryawards.gov.in, वहां आप सब जरूर विजिट करें.'

'कारगिल विजय दिवस' पर बोले राजनाथ सिंह, 'राष्ट्रीय सुरक्षा के दायरे में आत्मरक्षा के लिए...'

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, 'कारगिल युद्ध के समय अटल जी ने लालकिले से जो कहा था, वो आज भी हम सभी के लिए बहुत प्रासंगिक है. अटल जी ने तब देश को गांधी जी के एक मंत्र की याद दिलाई थी. अटल जी ने कहा था कि कारगिल युद्ध ने हमें एक दूसरा मंत्र दिया है. ये मंत्र था कि कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले हम ये सोचें कि क्या हमारा ये कदम उस सैनिक के सम्मान के अनुरूप है, जिसने उन दुर्गम पहाड़ियों में अपने प्राणों की आहुति दी थी.' बता दें कि कारगिल युद्ध 1999 में भारतीय जमीन में पाकिस्तानी घुसपैठ के खिलाफ लड़ा गया था. भारतीय सशस्त्र बलों ने अनुकरणीय साहस और वीरता दिखाते हुए दुश्मन के नापाक मंसूबों को मुंहतोड़ जवाब दिया था.

Newsbeep

VIDEO: 'मन की बात' में PM मोदी ने कारगिल के वीरों को किया याद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com