संसद में हंगामे से नाराज स्पीकर ओम बिड़ला, दूसरे दिन भी नहीं पहुंचे लोकसभा

लोकसभा (Lok Sabha) के स्पीकर ओम बिड़ला (Om Birla) सदन में विपक्षी दलों द्वारा हंगामा और महिला सांसद के साथ हुए दुर्व्यवहार किए जाने से नाराज चल रहे हैं.

संसद में हंगामे से नाराज स्पीकर ओम बिड़ला, दूसरे दिन भी नहीं पहुंचे लोकसभा

ओम बिड़ला दिल्ली हिंसा पर हो रहे हंगामे से नाराज चल रहे हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • दिल्ली हिंसा पर हो रहा है संसद में हंगामा
  • दूसरे दिन भी सदन में नहीं पहुंचे ओम बिड़ला
  • हंगामे से नाराज चल रहे हैं लोकसभा स्पीकर
नई दिल्ली:

दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) के मुद्दे पर संसद (Parliament) में चर्चा को लेकर घमासान जारी है. लोकसभा (Lok Sabha) के स्पीकर ओम बिड़ला (Om Birla) सदन में विपक्षी दलों द्वारा हंगामा और महिला सांसद के साथ हुए दुर्व्यवहार किए जाने से नाराज चल रहे हैं. मंगलवार को हुए हंगामे की वजह से बुधवार को वह संसद तो पहुंचे लेकिन सदन में नहीं पहुंचे. वहीं गुरुवार को लगातार दूसरे दिन भी वह अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए सदन में दाखिल नहीं हुए. सूत्रों के अनुसार, स्पीकर कुछ सांसदों द्वारा संसद के नियमों और प्रक्रिया का पालन नहीं करने से नाराज हैं.

आज (गुरुवार) लगातार चौथे दिन लोकसभा में विपक्षी दलों ने दिल्ली हिंसा पर चर्चा को लेकर हंगामा किया. जिसके बाद लोकसभा को दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया था. ओम बिड़ला की जगह पर बीजू जनता दल के नेता बी. महताब स्पीकर की कुर्सी संभालते नजर आए. उन्होंने विपक्षी दलों के सांसदों से शांतिपूर्वक सदन चलाने की अपील की. उन्होंने कहा कि सरकार को दिल्ली हिंसा और कोरोनो वायरस (Coronavirus) दोनों पर चर्चा की अनुमति देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि स्पीकर कुछ सांसदों के बर्ताव और हाउस न चलने देने से दुखी हैं.

नागरिकता कानून को लेकर लोकसभा स्पीकर ने EU को लिखा खत,  कहा- CAA के खिलाफ प्रस्ताव गलत नजीर होगा

बताते चलें कि मंगलवार को लोकसभा और राज्यसभा में दिल्ली हिंसा पर चर्चा किए जाने को लेकर हंगामा जारी रहा. ओम बिड़ला ने विपक्ष के सांसदों से कहा कि सरकार इसपर चर्चा के लिए तैयार है और होली के बाद 11 मार्च को इस विषय पर चर्चा की जाएगी. जिसके बाद विपक्षी दलों के नेता भड़क गए. सांसद स्पीकर की ओर कागज फेंकने लगे. कुछ सांसद वेल के पास आकर नारेबाजी करने लगे. स्पीकर ने हंगामा करने वाले सांसदों को सत्रभर तक निलंबित करने की चेतावनी भी दी और कहा कि वह संसद में प्लेकॉर्ड और पोस्टर लेकर न आएं. हंगामे को देखते हुए सदन की कार्यवाही को दिनभर के लिए स्थगित कर दिया गया था.

...जब स्पीकर ने BJP और TMC सांसदों से कहा- लोकसभा को बंगाल विधानसभा मत बनाइए

लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने होली के बाद चर्चा करने पर कहा कि दिल्ली में इतनी हिंसा हो गई और सरकार होली मनाने की बात कह रही है. बुधवार को ओम बिड़ला संसद जरूर पहुंचे थे लेकिन वह लोकसभा में नहीं गए. उन्होंने गुरुवार को भी सदन में न जाकर कुछ इसी तरह नाराजगी जताई. विपक्षी दलों के सांसद भी स्पीकर की भूमिका को लेकर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं. उनका कहना है कि स्पीकर सदन में दिल्ली हिंसा पर चर्चा या स्थगन प्रस्ताव की अनुमति नहीं देते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: बेनतीजा रही स्पीकर द्वारा बुलाई गई बैठक, शामिल हुई थीं 17 पार्टियां