NDTV Khabar

अदालत के समक्ष पेश हुए लेफ्टिनेंट कर्नल पुरोहित

विशेष अभियोजक अविनाश रसल ने बताया कि इस मामले में आरोप तय करने को लेकर 28 अगस्त को सुनवाई जारी रहेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अदालत के समक्ष पेश हुए लेफ्टिनेंट कर्नल पुरोहित

लेफ्टिनेंट कर्नल श्रीकांत पुरोहित (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. नवी मुंबई स्थित तालोजा कारागार से बुधवार को बाहर निकले पुरोहित.
  2. एनआईए द्वारा दर्ज मामलों के संदर्भ में अदालत पहुंचे.
  3. आरोप तय करने को लेकर 28 अगस्त को सुनवाई जारी रहेगी.
मुंबई: उच्चतम न्यायालय से जमानत मिलने के बाद जेल से बाहर आए लेफ्टिनेंट कर्नल श्रीकांत पुरोहित गुरुवार को सैन्यकर्मियों के सुरक्षा घेरे में मुंबई की उस अदालत के समक्ष पेश हुए जो 2008 के मालेगांव विस्फोट के मामले में आरोप तय करने को लेकर दलीलें सुन रही है. नवी मुंबई स्थित तालोजा कारागार से बुधवार को बाहर निकले पुरोहित एनआईए द्वारा दर्ज मामलों के संदर्भ में अदालत पहुंचे. विशेष अभियोजक अविनाश रसल ने बताया कि इस मामले में आरोप तय करने को लेकर 28 अगस्त को सुनवाई जारी रहेगी.

अदालत के बाहर पुरोहित की पत्नी अपर्णा ने कहा कि पुरोहित की गिरफ्तारी के नौ वर्षों के बाद रिहाई परिवार के लिए एक भावुक क्षण था.

यह भी पढे़ं : लेफ्टिनेंट कर्नल पुरोहित का निलंबन नहीं होगा वापस, सेना ने बताईं ये 10 बातें

टिप्पणियां
उन्होंने कहा, ‘वह अपने बच्चों से मिलकर खुश थे.’ पुरोहित ने कल जेल से रिहा होने के बाद सेना की अपनी इकाई को रिपोर्ट किया. सेना के सैन्य पुलिस एवं त्वरित प्रतिक्रिया दल की एक टीम दक्षिणी मुंबई के कोलाबा स्थित सैन्य स्टेशन से उन्हें लेकर अदालत पहुंची. न्यायमूर्ति आर के अग्रवाल और न्यायमूर्ति ए एम सप्रे की उच्चतम न्यायालय की एक पीठ ने बीते 21 अगस्त को बंबई उच्च न्यायालय के उस आदेश को निरस्त कर दिया था जिसमें पुरोहित को जमानत देने से इनकार किया गया था.

VIDEO : 9 साल बाद बाहर आए मालेगांव के आरोपी कर्नल पुरोहित​
महाराष्ट्र के नासिक जिले के मालेगांव कस्बे में 29 सितम्बर, 2008 को बम विस्फोट हुआ था जिसमें छह लोग मारे गए थे.(इनपुट भाषा से)
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement