NDTV Khabar

लखनऊ एनकाउंटर: आतंकी ने 50 राउंड गोलियां फायर कीं, छत को ड्रिल कर घर में घुसी ATS

2.2K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लखनऊ एनकाउंटर: आतंकी ने 50 राउंड गोलियां फायर कीं, छत को ड्रिल कर घर में घुसी ATS

लखनऊ के ठाकुरगंज में 12 घंटे तक चले एनकाउंटर में एक संदिग्‍ध मारा गया.

खास बातें

  1. 12 घंटे से भी ज्‍यादा समय तक चला एनकाउंटर
  2. एक आतंकी का शव मिला, पुलिस को दो के छिपे होने का अनुमान था
  3. उसके पास से कई सिम कार्ड और 650 राउंड गोलियां मिलीं
लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 12 घंटे तक चली आतंकी मुठभेड़ खत्म हो गई है. आतंकी को ज़िंदा पकड़ने की कोशिशें नाकाम रहीं. तड़के तीन बजे ठाकुरगंज के घर में घुसी एंटी टेरिस्ट स्‍क्‍वायड(एटीएस) ने एक आतंकी को ढेर कर दिया. एटीएस को अंदेशा था कि मुठभेड़ में 2 आतंकी होंगे लेकिन एक ही निकला. मारे गए आतंकी का नाम सैफुल्लाह है. इस मामले में यूपी के डीजीपी जावीद अहमद ने कहा है कि संदिग्‍ध के ढेर होने के साथ ही एनकाउंटर खत्‍म हो गया. इस एनकाउंटर के दौरान आतंकी ने 50 राउंड गोलियां फायर कीं. उसके पास से आठ पिस्‍टल बरामद हुए हैं. उसके पास से 650 राउंड गोलियां भी बरामद हुई हैं. घर में घुसने के लिए एटीएस को छत को ड्रिल करना पड़ा. आतंकी के पास से कई सिम कार्ड भी मिले हैं.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक वो आईएस से जुड़ा हुआ बताया गया है. उसके पास से एक पिस्तौल, रिवॉल्वर और एक चाकू एवं विस्फोटक बरामद हुआ है. माना जा रहा है कि कल मध्य प्रदेश के शाजापुर में ट्रेन में हुए धमाके और इसके बाद हुई गिरफ्तारियां एक बड़ी साज़िश की ओर इशारा करती है. 3 संदिग्ध मध्य प्रदेश से और 3 यूपी से गिरफ्तार किए गए हैं.

हालांकि इससे पहले शाम को पुलिस ने मकान में दो संदिग्धों के छिपे होने की शंका जाहिर की थी, लेकिन ऑपरेशन में केवल एक का शव ही मिला. यह संदिग्ध मध्य प्रदेश में हुए ट्रेन धमाके में शामिल बताया जा रहा है. मंगलवार की सुबह हुए इस धमाके में 9 लोग घायल हुए थे.

टिप्पणियां
अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) दलजीत चौधरी ने बताया, 'अंधेरा होने की वजह से उन्हें शंका थी कि घर में दो आतंकी हो सकते हैं, लेकिन पुलिस को एक ही शव मिला है...'

आतंक निरोधी दस्ते के वरिष्ठ अधिकारी असीम अरुण ने बताया, 'हमने माइक्रो ट्यूब कैमरों की मदद से पूरे घर की जांच की थी. कैमरों से मिली तस्वीरें साफ न होने के कारण मकान में दो लोग होने का शक हुआ, लेकिन ऑपरेशन खत्म होने के बाद केवल एक ही लाश मिली है. मृतक की पहचान सैफुल्लाह के रूप में हुई है.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement