NDTV Khabar

राजकीय सम्मान के साथ चेन्नई के मरीना बीच पर हुआ तमिलनाडु के जननेता एम करुणानिधि का अंतिम संस्कार

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि (M Karunanidhi) का चेन्नई के मरीना बीच पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार (Karunanidhi Burial) किया गया.

740 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजकीय सम्मान के साथ चेन्नई के मरीना बीच पर हुआ तमिलनाडु के जननेता एम करुणानिधि का अंतिम संस्कार

एम करुणानिधि का निधन

खास बातें

  1. राजकीय सम्मान के साथ करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाया गया
  2. पार्थिव शरीर को उनके मार्गदर्शक अन्नादुरई की समाधि के पास दफनाया गया
  3. PM मोदी समेत विभिन्न राजनीतिज्ञों ने दिवंगत नेता को दी श्रद्धांजलि
नई दिल्ली:

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि (M Karunanidhi) का चेन्नई के मरीना बीच पर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार (Karunanidhi Burial) किया गया. उनके पार्थिक शरीर को सुपुर्दे खाक कर दिया गया. पूर्व मुख्यमंत्री के पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर उनके मार्गदर्शक और द्रमुक संस्थापक सीएन अन्नादुरई की समाधि के पास पूरे राजकीय सम्मान के साथ दफनाया गया. इससे पहले तीनों सेनाओं के कर्मियों ने उनके ताबूत को जैसे ही उठाया वैसे ही 'करुणानिधि अमर रहें' के नारे गूंजने लगे. करुणानिधि का पार्थिव शरीर सेना की खुली गाड़ी में मरीना बीच तक पहुंचा. उनके बेटे एमके स्टालिन और तमीझरासू समेत परिवार के अन्य सदस्य नम आंखों के साथ उनके साथ चल रहे थे. उनकी अंतिम यात्रा में शामिल हजारों लोगों ने काली कमीज पहनी हुई थी और वे दिवंगत नेता की तस्वीरें और तख्तियों थामे हुए थे. करुणानिधि के पार्थिव शरीर को राष्ट्रीय ध्वज में लपेटा गया और उन्हें काला चश्मा, पीली शॉल, सफेद कमीज और धोती पहनाई गई थी. इससे पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत विभिन्न राजनीतिज्ञों ने दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि दी.

बता दें कि एम करुणानिधि (M Karunanidhi) का मंगलवार को निधन (Karunanidhi Death) हो गया. एम करुणानिधि 94 साल के थे. पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रहे करुणानिधि काफी समय से बीमार चल रहे थे. बीते 28 जुलाई को तबियत बिगड़ने के बाद चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. मंगलवार की शाम 6 बजकर 10 मिनट पर करुणानिधि का निधन हो गया. द्रमुक प्रमुख और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि के निधन पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री सहित तमाम नेताओं ने शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी. तमिलनाडु सरकार ने विपक्षी द्रमुक को उसके दिवंगत नेता पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह देने से इनकार कर दिया और उसे इसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री सी राजगोपालचारी और के कामराज के स्मारकों के समीप जगह देने की पेशकश की थी. सरकार के इस कदम पर विवाद पैदा हो गया था और मामला मद्रास हाईकोर्ट तक पहुंच गया था, जिस पर आज सुबह 8 बजे सुनवाई हुई थी. डीएमके की याचिका पर मद्रास हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई के बाद फैसले में कहा कि करुणानिधि को मरीना बीच पर ही दफनाया जाएगा. 
 

एम करुणानिधि का निधन और अंतिम संस्कार

 


- करुणानिधि को अंतिम विदाई देते उनके परिवार के सदस्य .

 


- करुणानिधि को अंतिम विदाई देते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी.
 
-  तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि को तोपों की सलामी दी जा रही है.

-  तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि का पार्थिव शरीर मरीना बीच पहुंचा, थोड़ी देर में अंतिम संस्कार.


-  करुणानिधि की अंतिम यात्रा में राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद, चंद्रबाबू नायडू और डेरेक ओ ब्रायन भी शामिल हुए.
 
-राजाजी हॉल से मरीना बीच की दूरी करीब 1.7 किलोमीटर है और पूरे रास्ते में सड़क के दोनों ओर दिवंगत नेता की आखिरी झलक पाने के लिए लोग उमड़े हुए हैं.

- उनकी अर्थी के पीछे-पीछे आ रहे सैकड़ों लोगों ने काली कमीज पहनी हुई है और वे दिवंगत नेता की तस्वीरें और तख्तियों थामे हुए हैं.

-करुणानिधि के पार्थिव शरीर को राष्ट्रीय ध्वज में लिपटाया गया है. उन्हें उनका परिचित लिबास, काला चश्मा, पीली शॉल, सफेद कमीज और धोती पहनाया गया है. 

- करुणानिधि के अंतिम यात्रा में उमड़ा जनसैलाब.
 

9i9ed3dg

-  करुणानिधि के अंतिम यात्रा के दौरान समर्थकों की भारी भीड़ 
 
636693411519579662.

-  राजाजी हॉल से तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि की अंतिम यात्रा शुरू हो चुकी है.
- जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अबदुल्ला, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और कांग्रेस नेता प्रफुल पटेल ने करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी.
 
-   चेन्नई में राजाजी हॉल के बाहर भगदड़ में 2 की मौत, 33 घायल होने की खबर है. बताया जा रहा है कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज का भी सहारा लेना पड़ा है.  -राहुल गांधी चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंचे और करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी.
-राजद नेता तेजस्वी यादव और सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंचे और स्टालिन से मिले. - एमके स्टालिन ने कहा कि जो सत्ता में होते हैं वह हंगामा क्रियेट करना चाहता है. मगर आप सभी ने कैडर की मजबूती दिखाई है. मैं आप सभी से शांति कायम रखने की अपील करता हूं. - आज शाम चार बजे करुणानिधि की अंतिम यात्रा निकाली जाएगी. 

- राजाजी हॉल के बाहर सर्थकों का हुजूम, पुलिस को भीड़ नियंत्रित करने के लिए लाठी चार्ज का सहारा लेना पड़ा.

- कोयंबटूर: डीएमके समर्थक ने करुणानिधि के सम्मान में बाल मुड़वाया. - करुणानिधि का अंतिम संस्कार मरीना बीच पर करने का मामला: मद्रास हाईकोर्ट के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील नहीं करेगी तमिलनाडु सरकार. राज्य सरकार ने हाईकोर्ट के फैसले को स्वीकार किया. 

- तमिलनाडु के एडवोकेट जनरल विजय नारायण ने NDTV इंडिया से कहा कि राज्य सरकार हाईकोर्ट के फैसले की अपील नहीं करेगी. राज्य सरकार ने हाईकोर्ट में इसलिए विरोध किया था क्योंकि हाईकोर्ट में मरीना बीच पर जयललिता की समाधि को लेकर कई याचिकाएं दाखिल थीं. अब हाईकोर्ट के फैसले और उन याचिकाओं के वापस होने पर ये फैसला लिया गया है.

- भाजपा नेता प्रभात झा ने कहा कि करुणानिधि की राजनीतिक विरासत को संभालना कठिनहोगा. करुणानिधि और जयललिता के न होने से तमिलनाडु की पोलिटिक्स में एक वैकम (शून्य स्थान) आया है. 

तमिलनाडु में डीएमके कार्यकर्ता राजाजी हॉल के बाहर जमा हुए हैं. बता दें कि यहीं पर करुणानिधि का शव रखा गया है.

- तमिलनाडु: पीएम मोदी ने चेन्नई के राजाजी हॉल में करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के बाद एमके स्टालिन और कनीमोझी से बातचीत की. - चेन्नई के राजाजी हॉल में करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने पीएम मोदी पहुंच चुके हैं. इनके साथ रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी पहुंची हैं. पीएम मोदी ने करुणानिधि को राजाजी हॉल में श्रद्धांजलि दी. 

- मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाए जाने को लेकर मद्रास हाईकोर्ट का फैसला आने के बाद रोने लगे एमके स्टालिन

-  डीएमके की याचिका पर मद्रास हाईकोर्ट का फैसला : मरीना बीच पर ही करुणानिधि का अंतिम संस्कार. डीएमकी की याचिका पर सुनवाई के बाद मद्रास हाईकोर्ट ने फैसले में कहा कि करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाया जाएगा. बता दें कि एआईडीएमके सरकार ने मरीना बीच पर दफनाए जाने की इजाजत नहीं दी थी, जिसके बाद डीएमके ने हाईकोर्ट का रुख किया था. 

- एम करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के लिए पीएम मोदी चेन्नई पहुंचे. 

- मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने का मामला: दोनों ओर से बहस खत्म, अब कार्यवाहक चीफ जस्टिस ने फैसला पढ़ना शुरू किया.

- करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए 11 बजे राजाजी हॉल पहुंचेंगे पीएम मोदी. इससे पहले उन्होंने ट्वीट कर शोक व्यक्त किया था. वहीं, राहुल गांधी दोपहल 12.30 तक पहुंचेंगे.

-तमिलनाडु: अभिनेता से नेता बने कमल हास ने एम करुणानिधि को राजाजी हॉल में दी अंतिम श्रद्धांजलि.

- मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने का मामला: तमिलनाडु सरकार की ओर से वकील ने कहा कि डीएमके केस दायर कर पोलिटिकल एजेंडा के लक्ष्य को साध रही है. डीके चीफ पेरियार द्रविड़ आंदोलन के सबसे बड़े नेता थे, क्या उन्हें मरीना बीच पर दफनाया गया? - मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने का मामला: मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान डीएमकी वकील ने कहा कि राज्य की 7 करोड़ आबादी में से 1 करोड़ डीएमके के फॉलोअर्स हैं. अगर करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने की अनुमति नहीं मिलती है, तो वे सभी आहत हो जाएंगे. -चेन्नई में मरीना बीच के बाहर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
- मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने का मामला: डीएमके वकील ने राज्य सरकार से कहा कि आपने राज्य शोक की घोषणा की है, तो फिर उन्हें दफनाने के लिए जमीन क्यों नहीं देते? केंद्र सरकार के प्रोटोकॉल के तहत कोई प्रतिबंध नहीं है कि मरीना बीच की जमीन पर पूर्व सीएम को दफनाने के लिए जमीन आवंटित की जाए. - मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने का मामला: डीएमके वकील ने कहा, डीएमके के संस्थापक अन्ना दुरई अक्सर कहा करते थे मेरा जीवन और मेरी आत्मा करुणानिधि हैं. गांधी मंडपम के बगल में करुणानिधि को दफनाने को सभ्य नहीं कहा जा सकता. - वीसीके प्रेसीडेंट थोल थिरुमवलन ने करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी. - मरीना बीच पर स्मारकों के निर्माण को चुनौती देने वाली याचिकाओं को मद्रास हाईकोर्ट ने खारिज किया. - केरल के पूर्व सीएम ओमान चांडी ने राजाजी हॉल में तमिलनाडु के पूर्व सीएम करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी - मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने के मामला में मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई है. तमिलनाडु सरकार ने याचिका के काउंटर में कोर्ट में जवाब दाखिल किया है. - तमिलानाडु के सीएम पलानीस्वामी ने एम करुणानिधि को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद कहा कि तमिलनाडु के लिए यह बड़ी क्षति है. उनके परिवार और कार्यकर्ताओं के प्रति मेरी संवेदना. - तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी और डिप्टी सीएम पनीरसेल्वम चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंचे, जहां एम करुणानिधि का शव रखा गया है. -  करुणानिधि को दफनाने के मामले में तमिलनाडु सरकार ने जवाब देने के लिए कोर्ट से समय मांगा है. ऐसे में कोर्ट ने मामले की सुनवाई को सुबह 8 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया है. यानी सुबह 8 बजे एक बार फिर से मामले की सुनवाई शुरू होगी.

- पार्टी प्रमुख एम. करूणानिधि के निधन के बाद द्रमुक ने आज रात एक सप्ताह लंबे शोक की घोषणा करते हुए कहा कि इस दौरान पार्टी का झंडा आधा झुका रहेगा.

- एम करुणानिधि के पार्थिव शरीर को एंबुलेंस से चेन्नई के राजाजी हॉल लाया गया है. राजाजी हॉल के बाहर उनके समर्थकों का हुजूम जमा है. यहां लोग उनके पार्थिव शरीर का अंतिम दर्शन करेंगे.

- तमिलनाडु के पूर्व सीएम एम करुणानिधि का पार्थिव शरीर राजाजी हॉल पहुंच गया है. यहां आमलोगों से लेकर  तमाम नेता और पार्टी कार्यकर्ता उन्हें श्रद्धांजलि दे सकेंगे. - तमिलनाडु के पूर्व सीएम एम करुणानिधि के पार्थिव शरीर को सीआईटी कॉलोनी स्थित कनिमोई के घर से राजाजी हॉल ले जाया जाया गया. यहां नेता, पार्टी कार्यकर्ता और आम लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकेंगे.
- पुलिस को सीआईटी कॉलोनी स्थित कनिमोई के घर के बाहर इकट्ठे भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा. 

Chennai: Police resort to lathi-charge to control the crowd gathered outside Kanimozhi's residence in CIT Colony where mortal remains of former Tamil Nadu CM M #Karunanidhi are kept pic.twitter.com/8YTPmEOc1W

— ANI (@ANI) August 7, 2018

-  तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि का पार्थिव शरीर सीआईटी कॉलोनी स्थित कनिमोझी के घर पहुंचा. 

- मरीन बीच पर करुणानिधि को दफनाने के लिए जगह देने की मांग के मामले को कोर्ट ने सुबह 8 बजे तक स्थगित कर दिया है. डीएमके ने तमिलनाडु के मरीना बीच पर करुणानिधि को दफनाने के लिए जमीन की मांग की है.

- बिहार सरकार ने करुणानिधि के निधन पर दो दिन का राजकीय शोक घोषित किया है. 

- तमिल सुपरस्टार रजनीकांत करुणानिधि के अंतिम दर्शन के लिए उनके गोपालपुरम स्थित आवास पहुंचे. 

- करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाए जाने के लिए रामेश्वरम में नारेबाजी करते डीएमके समर्थक. बता दें कि अन्नाद्रमुक सरकार ने मरीना बीच पर जगह देने से इनकार कर दिया है.

- पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चेन्नई पहुंची. एमके स्टालिन और कनिमोझी के साथ ममता.

-  मरीना बीच पर एम करुणानिधि को दफनाए जाने की जगह देने के लिए डीएमके समर्थकों ने नारेबाजी की.

- डीएमके प्रमुख के अंतिम दर्शन के लिए घर के बाहर जमा हुई समर्थकों की भीड़

- करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने के संबंध में द्रमुक की याचिका पर मद्रास हाईकोर्ट की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रात साढ़े दस बजे सुनवाई कर सकती हैं : अदालती सूत्र

- करुणानिधि के निधन के चलते कल दिल्ली, सभी राज्यों की राजधानियों और पूरे तमिलनाडु में राष्ट्रीय ध्वज
(तिरंगा) आधे झुके रहेंगे: केंद्रीय गृह मंत्रालय


- केंद्र सरकार ने करूणानिधि का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ करने का फैसला किया 

- कर्नाटक सरकार ने तमिलनाडु के पूर्व सीएम एम करुणानिधि के निधन के बाद राज्य में एक दिन का शोक घोषित किया.

- चेन्नई के कावेरी अस्पताल से एम्बुलेंस में निकला करुणानिधि का पार्थिव शरीर, पूर्व सीएम के गोविंदपुरम स्थित आवास ले जाया जाएगा.

- अन्नाद्रमुक सरकार द्वारा करुणानिधि को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह देने से इनकार पर विवाद

- बीजेपी नेता राम माधव ने भी तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के निधन पर शोक जताया.

- महान नेता के निधन की ख़बर सुनकर दुख हुआ. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे. ये देश का बहुत बड़ा नुकसान है.

- राष्ट्रपति कोविन्द ने ट्वीट किया, 'श्री एम करुणानिधि के बारे में सुनकर दुख हुआ. कलइनार के नाम से लोकप्रिय वह एक सुदृढ़ विरासत छोड़ कर जा रहे हैं जिसकी बराबरी सार्वजनिक जीवन में कम मिलती है. उनके परिवार के प्रति और लाखों चाहने वालों के प्रति मैं अपनी शोक संवेदना व्यक्त करता हूं.'

- तमिलनाडु सरकार ने बुधवार को सार्वजनिक अवकाश और राज्य में सात दिन का शोक घोषित किया

- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'तमिल लोगों के प्रिय कलइनार 60 साल से ज़्यादा समय तक तमिल राजनीति के मंच पर एक विशाल हस्ती बने रहे.उनके निधन से भारत ने अपना महान सपूत खो दिया है. मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और उन लाखों परिवारों के साथ हैं जो अपने प्रिय नेता के जाने से दुखी हैं.'

- कलईनार करुणानिधि का निधन गहरा दुख देने वाला है. वे भारत के एक वरिष्ठ नेता थे.

-आज मैंने अपना 'कलाईनार' को खो दिया है. यह एक ऐसे शख्‍स थें जिन्‍हें मैं कभी नहीं भूल सकता. आज मेरे जीवन का काला दिन है : रजनीकांत

करुणानिधि का रक्तचाप कम होने के बाद 28 जुलाई को उन्हें गोपालपुरम स्थित आवास से कावेरी अस्पताल भेजा गया था. पहले वह वार्ड में भर्ती थे, बाद में हालत बिगड़ने पर उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया. पिछले दो दिनों से करुणानिधि की सेहत में लगातार गिरावट आ रही थी. जिसके बाद यह खबर सामने आई है. करुणानिधि की सेहत में गिरावट की खबर के बाद हजारों की संख्या में समर्थक कावेरी अस्पताल के बाहर जमा हो रहे थे और करुणानिधि की तंदुरूस्ती के लिए प्रार्थना कर रहे थे.

यह भी पढ़ें : एम करुणानिधि : पटकथा लेखक से लेकर पत्रकार और कार्टूनिस्ट तक यह 'कलाईनार'

इससे पहले चेन्नई के कावेरी अस्पताल ने मेडिकल बुलेटिन जारी कर यह जानकारी दी थी कि करुणानिधि की सेहत बहुत खराब है. अस्पताल की तरफ से जारी बयान के अनुसार पिछली रात से उनकी स्थिति और खराब हुई थी.

अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉ. अरविंदन सेल्वाराज ने कहा, 'पिछले कुछ घंटों में कलैंइगर एम करुणानिधि की नाजुक हालत में काफी गिरावट आई है. अधिकतम चिकित्सीय मदद के बावजूद उनके महत्वपूर्ण अंगों की स्थिति बिगड़ती जा रही है.' उन्होंने कहा, 'उनकी हालत बेहद नाजुक और अस्थिर है.' 

सैकड़ों समर्थक कावेरी अस्पताल के बाहर जमा हो रहे हैं और करुणानिधि की तंदुरूस्ती के लिए प्रार्थना कर रहे हैं. अधिकारियों ने बताया कि करुणानिधि के बेटे और द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने मुख्यमंत्री के. पलानीसामी के आवास पर मुलाकात की और कुछ देर उनके साथ अकेले रहे. मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने भी शीर्ष  अधिकारियों के साथ एक बैठक की और स्थिति की समीक्षा की.

इस बीच, द्रमुक के सैकड़ों कार्यकर्ता अलवरपेट में अस्पताल के बाहर इकट्ठा हो गए हैं और हर मिनट भीड़ बढ़ रही है. कई को रोते हुए और नेता की प्रशंसा करने वाले नारे लगाते देखा गया है. एक महिला बेहोश हो गई और अन्य लोगों ने उसके चेहरे पर पानी छिड़का और होश में लाए. अस्पताल और करुणानिधि के गोपालपुरम आवास पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. करुणानिधि की हालत को लेकर बढ़ती चिंता को देखते हुए राज्य में अलर्ट घोषित किया गया है. प्रमुख प्रतिष्ठानों की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है.

बता दें इससे पहले सोमवार को भी अस्पताल की तरफ से जारी मेडिकर बुलेटिन में करुणानिधि की हालत बेहद नाजुक बताई गई थी. कल जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार उनके शरीर के महत्‍वपूर्ण अंगों को कार्य करने लायक बनाए रखना चुनौती बना हुआ है. कावेरी अस्पताल ने एक बयान जारी कर कहा कि 94 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी की जा रही है और वह मेडिकल सपोर्ट पर हैं. उसके अनुसार, 'द्रमुक अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि का स्वास्थ्य बिगड़ा है. ज्यादा उम्र होने के कारण उनके शरीर के महत्वपूर्ण अंगों की कार्य क्षमता को बनाए रखना चुनौती साबित हो रही है.'

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी ने अस्पताल में DMK चीफ करुणानिधि से मुलाकात की

टिप्पणियां

अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉक्टर अरविन्दन सेल्वाराज ने कहा था, द्रमुक अध्यक्ष के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी की जा रही है और वह मेडिकल सपोर्ट पर हैं. अगले 24 घंटों में उनके स्वास्थ्य में कितना सुधार आता है, इसी से आगे की चीजें तय होंगी.  

VIDEO : DMK प्रमुख और तमिलनाडु के पूर्व सीएम एम करुणानिधि का निधन

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement