Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मध्यप्रदेश : भोपाल में बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता भिड़े, हाथापाई हुई; पुलिस ने बलप्रयोग किया

बीजेपी ने कहा- सुनियोजित तरीके से बीजेपी दफ्तर पर हमला किया, सब दिग्विजय सिंह के गुर्गे, अगर सरकार में शर्म है तो बहुमत हासिल करे

मध्यप्रदेश : भोपाल में बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता भिड़े, हाथापाई हुई; पुलिस ने बलप्रयोग किया

भोपाल में बीजेपी कार्यालय में कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई हुई.

भोपाल:

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में धारा 144 लगे होने के बावजूद बड़ी संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी दफ्तर का घेराव किया. जहां दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई हुई. उन्हें रोकने की कोशिश में पुलिस को हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा.
           
बीजेपी प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा कि सुनियोजित तरीके से बीजेपी दफ्तर पर हमला किया. इन्होंने (कांग्रेस) लाठियों से मेरे सिर पर हमला किया, मेरे हाथ को छील दिया. ये सब दिग्विजय सिंह के गुर्गे हैं. अगर सरकार में शर्म है तो पहले उसे बहुमत हासिल करना चाहिए. ये सुप्रीम कोर्ट को भ्रमित करने की कोशिश है. बीजेपी प्रवक्ता राजो मालवीय ने कहा कि हम अपने कार्यालय के बाहर थे. महिलाएं हमारे भाइयों को मारने लगीं. ये कांग्रेस का अराजक शासन है.

कांग्रेस के कार्यकर्ता बेंगलुरु में दिग्विजय सिंह समेत अआन्य कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लिए जाने के बाद प्रदर्शन कर रहे थे. बेंगलुरु में बुधवार की सुबह बागी विधायकों से मिलने गए दिग्विजय सिंह, कांतिलाल भूरिया समेत 10 कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था. इसके विरोध में कांग्रेस ने दोपहर में राजभवन तक मार्च निकाला और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर बागी विधायकों को बंधक बनाए जाने का आरोप लगाया.

2scbctqg

सुबह भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रोशनपुरा चौराहे से राजभवन तक पैदल मार्च किया. इसके साथ ही राजभवन के सामने किसान कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष केदार सिरोही अपने साथियों के साथ धरने पर बैठ गए. हालांकि बाद में पुलिस ने उनको गिरफ्तार कर लिया.