NDTV Khabar

आकाश विजयवर्गीय से PM भले हों नाराज, लेकिन BJP की अनुशासन समिति को अभी भी है शिकायत का इंतजार

पदाधिकारी ने कहा कि आकाश विजयर्गीय द्वारा एक अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से सरेआम पीटने का मामला फिलहाल इस पैनल के सामने सुनवाई के लिये नहीं आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आकाश विजयवर्गीय से PM भले हों नाराज, लेकिन BJP की अनुशासन समिति को अभी भी है शिकायत का इंतजार

आकाश विजयवर्गीय ने पिछले दिनों निगम कर्मचारी की बैट से पिटाई की थी.

नई दिल्ली :

भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय को लेकर पीएम मोदी ने भले ही नाराजगी जताई हो और कार्रवाई करने को कहा हो, लेकिन अनुशासन समिति के सामने मामला ही नहीं पहुंचा है. बीजेपी की मध्य प्रदेश इकाई की अनुशासन समिति के एक प्रमुख पदाधिकारी ने बुधवार को कहा कि आकाश विजयर्गीय (Akash Vijayvargiya) द्वारा यहां निगम कर्मचारी को बल्ले से सरेआम पीटने का मामला फिलहाल इस पैनल के सामने सुनवाई के लिये नहीं आया है. प्रदेश भाजपा की तीन सदस्यीय अनुशासन समिति के संयोजक और पार्टी के वरिष्ठ नेता बाबूसिंह रघुवंशी ने बताया, "आकाश से जुड़े हालिया विवाद (बल्ला काण्ड) का मामला फिलहाल हमारे सामने सुनवाई के लिये नहीं आया है. अगर यह मामला हमारे सामने आयेगा, तो हम पार्टी के नियम-कायदों के मुताबिक सुनवाई करेंगे."  

आकाश विजयवर्गीय से ख़फा हुए PM मोदी, तो मायावती ने ली चुटकी, बोंली- ऐसी हरकतों से...


उन्होंने प्रक्रिया की जानकारी देते हुए कहा कि आमतौर पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पार्टी के अनुशासनात्मक मामलों में संबंधित लोगों को कारण बताओ नोटिस जारी करते हैं. नोटिस का जवाब मिलने पर भाजपा की अनुशासन समिति ऐसे मामलों की सुनवाई करती है। गौरतलब है कि बल्ला कांड की पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भाजपा के संसदीय दल की बैठक में पार्टी नेताओं को कड़े शब्दों में नसीहत दी थी. सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री ने इस बैठक में सख्त लहजे में कहा था कि बेटा किसी का भी हो, पार्टी में मनमानी नहीं चलेगी.  

आकाश विजयवर्गीय से नाराज़ PM मोदी ने कहा, "अगर MLA खोना पड़े, तो यही सही..."

टिप्पणियां

पीएम मोदी की नसीहत के बाद अटकलें शुरू हो गयी थीं कि भाजपा आकाश के खिलाफ जल्द ही कोई अनुशासनात्मक कदम उठा सकती है. गंजी कम्पाउंड क्षेत्र के एक जर्जर मकान को ढहाने की मुहिम के विरोध के दौरान बुधवार को विवाद खड़ा हो गया था. इस दौरान स्थानीय भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय (34) ने नगर निगम के एक भवन निरीक्षक को क्रिकेट के बैट से पीट दिया था. आकाश, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं. वह बल्ला कांड में गिरफ्तारी के बाद जिला जेल से रविवार की सुबह जमानत पर रिहा हुए थे. (इनपुट-भाषा)

Video: कैलाश विजयवर्गीय के बेटे के मामले में PM मोदी नाराज: सूत्र



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement