मध्य प्रदेश में मास्क पहनना भूले लोग, रोज कोरोना के मामले एक हजार के पार

मध्यप्रदेश (MP) में नवंबर में पहली बार कोरोना (Corona Cases) के  रोजाना मरीज़ों का आंकड़ा 1000 के पार गया है.  राजधानी भोपाल सहित 6 जिलों से 54% मामले सामने आए हैं.

मध्य प्रदेश में मास्क पहनना भूले लोग, रोज कोरोना के मामले एक हजार के पार

Madhya Pradesh में कोरोना के मामले में नवंबर में आया तेज उछाल (फाइल फोटो)

भोपाल:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा उपचुनाव के दौरान ढिलाई का नतीजा है कि लोग मास्क पहनना ही भूल गए हैं. बाजारों से लेकर हर जगह भीड़ बिना मास्क घूम रही है. यही वजह है कि मध्यप्रदेश में नवंबर में पहली बार कोरोना (Corona Cases) के  रोजाना मरीज़ों का आंकड़ा 1000 के पार गया है.  राजधानी भोपाल सहित 6 जिलों से 54% मामले सामने आए हैं.

यह भी पढ़ें- मध्य प्रदेश के शख्स ने गरीब बच्चों को IAS, IPS बनाने का उठाया बीड़ा, ओपन स्कूल में मुफ्त शिक्षा

भोपाल के बाजार में त्योहारी सीजन और शुरुआती ठंड के बीच हर तरफ भीड़ नजर आई. लोगों के चेहरे से मास्क गायब दिखे, जबकि कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. मास्क न पहने एक शख्स से पूछा गया तो उसने भूल गया का रटरटाया बहाना बता दिया. दूसरे ने कहा कि बच्चों और पत्नी के साथ बाइक पर निकला था और गलती से लाना रह गया. एक लड़की से जब इस बारे में सवाल किया तो उसने दुपट्टे से अपना चेहरा ढंकने की कोशिश की. मध्य प्रदेश में गुरुवार को कोरोना से 10 और लोगों की जान गई. इससे राज्य में मौत का आंकड़ा 3065 तक पहुंच गया. डॉक्टरों का कहना है इसकी बड़ी वजह लापरवाही और मरीजों को अस्पताल लाने में देरी है.

Newsbeep

सरकार ने ढिलाई की तो लोग बेफिक्र हो गए
बंसल कोविड ​​अस्पताल में कार्डियोलॉजिस्ट और इंचार्ज डॉ स्कंद त्रिवेदी ने कहा कि हर जगह चुनाव था तो सरकार ने ढिलाई की नीति अपनाई. लोगों को लगा कि मास्क पहनना अब बंद कर सकते हैं तो बाजार में भी इससे असमंजस बना. लगता है कि लोग नियमों का पालन करते थक गए हैं.  तीसरा Corona वायरस से ग्रसित लोग देरी से अस्पताल आ रहे हैं. पहले सर्दी, खांसी होती थी तो लोग तुरंत आ जाते थे.  अब सर्दी के मौसम में 1-2 हफ्ते लेट आते हैं और तब तक फेफड़े प्रभावित हो चुके होते हैं. लोगों का जब कोविड टेस्ट (Covid test) नेगेटिव आता है तो भी उनको समझाने में बहुत मुश्किल होती है. एक और वजह टेस्ट को लेकर है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हर 25 टेस्ट में एक कोरोना पॉजिटिव
देश में 16 ऐसे राज्य जहां संक्रमण सबसे ज्यादा है, लेकिन उन्हीं में से एक मध्यप्रदेश अभी भी जांच के मामले में फिसड्डी है. मध्य प्रदेश में गुरुवार को 26,538 नमूनों का परीक्षण किया गया और 1046 मरीज़ संक्रमित मिले. यानी हर 25 जांच में एक व्यक्ति संक्रमित मिल रहा है. बुधवार को 25419 जांच हुई, 883 संक्रमित मिले थे. मंगलवार को 25,353 नमूनों की जांच हुई, 900 मरीज़ संक्रमित मिले.