NDTV Khabar

मध्यप्रदेश : छात्र-छात्राओं ने ली बीजेपी को वोट नहीं देने की शपथ, वीडियो से मचा हंगामा

वीडियो में ऑनलाइन भर्ती परीक्षा बंद नहीं हुई तो आगामी चुनाव में भाजपा को वोट नहीं देने की शपथ ले रहे छात्र-छात्राएं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश : छात्र-छात्राओं ने ली बीजेपी को वोट नहीं देने की शपथ, वीडियो से मचा हंगामा

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. होशंगाबाद के इटारसी का बताया जा रहा वीडियो
  2. वीडियो गणतंत्र दिवस पर बनाए जाने की आशंका
  3. वायरल वीडियो में तकनीकी संस्थान के विद्यार्थी
भोपाल:

मध्य प्रदेश में वायरल एक वीडियो ने राजनीति में हलचल मचा दी है. इस वीडियो में कथित तौर पर कुछ युवा राज्य में सत्तासीन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ शपथ लेते हुए दिखाए गए हैं. वे कह रहे हैं कि अगर ऑनलाइन भर्ती परीक्षा बंद नहीं हुई तो आगामी चुनाव में भाजपा को वे वोट नहीं देंगे. वायरल वीडियो को होशंगाबाद के इटारसी का बताया जा रहा है.

वीडियो में लगभग 100 छात्र-छात्राएं नजर आ रहे हैं. वीडियो संभवत: गणतंत्र दिवस पर बनाया गया है. वीडियो में पहले छात्र-छात्राएं राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं, और उसके बाद भाजपा को वोट नहीं करने का सामूहिक संकल्प लेते हैं.
 

वीडियो में छात्र-छात्राएं शपथ ले रहे हैं कि जब तक राज्य सरकार ऑनलाइन भर्ती परीक्षा समाप्त नहीं करती है, तब तक वे भाजपा को वोट नहीं देंगे.

यह भी पढ़ें : कासगंज हिंसा: मायावती ने कहा, बीजेपी का हो चुका है ‘घोर अपराधीकरण’


भाजपा की प्रदेश इकाई के मुख्य प्रवक्ता दीपक विजयवर्गीय ने कहा, "जो वीडियो वायरल हुआ है, उसमें तकनीकी संस्थान के विद्यार्थी हैं. परीक्षा लेना एक संस्था का काम है और वह संस्था ही तय करती है कि परीक्षा कैसे लेनी है. आशंका है कि इसके पीछे कांग्रेस या शिक्षा माफिया का हाथ हो सकता है. पुलिस इसकी जांच करेगी."

टिप्पणियां

VIDEO : रैली के जवाब में रैली

सामाजिक कार्यकर्ता और तकनीकी विशेषज्ञ मुकेश यादव का कहना है, "राज्य में बड़ी संख्या में ऐसे उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हैं, जहां कंप्यूटर ही नहीं हैं. लिहाजा विद्यार्थी कंप्यूटर के जरिए परीक्षा देने में कैसे सक्षम होंगे. यह सीधे तौर पर विसंगति है, शहरी छात्र जहां कंप्यूटर फ्रेंडली होते हैं, वहीं ग्रामीण बच्चे कंप्यूटर को जानते ही नहीं हैं. इसी बात से हर कोई परेशान है." यादव ने कहा कि वह इस मसले को लेकर उच्च न्यायालय में याचिका दायर करेंगे.
(इनपुट आईएएनएस से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement