NDTV Khabar

मदरसों से नाथूराम गोडसे, प्रज्ञा ठाकुर जैसे लोग पैदा नहीं होते : आज़म खान

आमतौर पर अपने बयानों को लेकर विवादों में घिरे रहने वाले समाजवादी पार्टी (SP) नेता आज़म खान ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे तथा BJP की नवनिर्वाचित सांसद का एक साथ ज़िक्र करते हुए कहा...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मदरसों से नाथूराम गोडसे, प्रज्ञा ठाकुर जैसे लोग पैदा नहीं होते : आज़म खान

समाजवादी पार्टी से सांसद आजम खान (Azam Khan)

खास बातें

  1. आजम खान का मदरसे पर आया बयान
  2. प्रज्ञा ठाकुर पर भी साधा निशाना
  3. कहा- सरकार मदरसों की मदद करना चाहती है, तो...
नई दिल्ली:

आमतौर पर अपने बयानों को लेकर विवादों में घिरे रहने वाले समाजवादी पार्टी (SP) नेता आज़म खान ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे तथा BJP की नवनिर्वाचित सांसद का एक साथ ज़िक्र करते हुए कहा, "मदरसे नाथूराम गोडसे और प्रज्ञा सिंह ठाकुर जैसे लोगों को पैदा नहीं करते..." समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, मदरसों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना पर पूछे गए सवाल के जवाब में आज़म खान ने कहा, "मदरसे नाथूराम गोडसे के स्वभाव वालों या प्रज्ञा सिंह ठाकुर जैसी शख्सियतों को पैदा नहीं करते... पहले घोषित करें कि नाथूराम गोडसे के विचारों का प्रचार करने वाले लोकतंत्र के दुश्मन घोषित किए जाएंगे, आतंकवादी गतिविधियों के लिए दोषी करार दिए गए लोगों को इनाम नहीं दिया जाएगा..."

अल्पसंख्यकों के लिए PM मोदी का तोहफा: अगले 5 सालों में 5 करोड़ छात्रों के लिए स्कॉलरशिप, आधी होंगी लड़कियां


वर्ष 2008 के मालेगांव ब्लास्ट केस में आरोपी प्रज्ञा ठाकुर ज़मानत पर बाहर हैं, और पिछले ही माह वह भोपाल से BJP की सांसद चुनी गई हैं. पूरे प्रचार अभियान के दौरान वह अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहीं, जिनमें नाथूराम गोडसे को 'देशभक्त' बताने वाला बयान भी शामिल था.

आज़म खान के अनुसार, यदि केंद्र सरकार मदरसों की मदद करना चाहती है, तो उन्हें बेहतर बनाना होगा. उत्तर प्रदेश के रामपुर संसदीय क्षेत्र से निर्वाचित SP नेता ने कहा, "मदरसों में धार्मिक शिक्षा दी जाती है... साथ ही वहां अंग्रेज़ी, हिन्दी तथा गणित भी पढ़ाया जाता है... यह हमेशा से होता रहा है... अगर आप मदद करना चाहते हैं, उनका स्तर सुधारिए... मदरसों के लिए इमारतें बनवाइए, उन्हें फर्नीचर और मिड-डे मील उपलब्ध करवाइए..."

अरहर की दाल के बढ़ते दामों पर सरकार ने लिए कई फैसले, यहां जानिए पूरा मामला

टिप्पणियां

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी द्वारा मंगलवार को घोषित की गई केंद्र सरकार की इस योजना की आज़म खान ने भले ही आलोचना की हो, लेकिन कई मुस्लिम विद्वानों ने इसका स्वागत किया है.

(इनपुट ANI से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement