लोकसभा अध्‍यक्ष ने सांसदों के लिए की ई-पोर्टल की शुरुआत

लोकसभा अध्‍यक्ष ने सांसदों के लिए की ई-पोर्टल की शुरुआत

भारतीय संसद भवन (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने रविवार को लोकसभा के सदस्यों के लिए एक ई-पोर्टल की शुरुआत की। यह सांसदों को आपस में और सचिवालय की विभिन्न शाखाओं के साथ ई-मेल और एसएमएस के जरिए संपर्क करने की सुविधा प्रदान करता है। यह संसद के निचले सदन को कागज विहीन बनाने की दिशा में उठाया गया एक और कदम है।

इस अवसर पर महाजन ने कहा, "साईबर युग में संसद और विधानसभा सहित संस्थान ई-प्रशासन और ऑनलाइन पत्राचार के लिए तंत्र स्थापित करने की ओर खिंचे चले जा रहे हैं।" उन्होंने कहा, "इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए हमलोग लोकसभा सदस्यों के लिए ई-पोर्टल लॉन्च कर रहे हैं जो सदस्यों द्वारा विभिन्न तरह के नोटिस को ऑनलाइन जमा करने की आंतरिक सुविधा है।"

लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि कागज का इस्तेमाल कम करके सरकार न केवल पर्यावरण का संरक्षण कर रही है बल्कि पैसा भी बचा रही है। उन्होंने कहा, "कागज का उपयोग घटाकर हमलोगों ने करीब एक हजार पेड़ बचाए हैं। मैं आश्वस्त हूं कि आपके सहयोग से हम लोग लोकसभा को कागजरहित संस्थान में बदलने में कामयाब रहेंगे।" लोकसभा सचिवालय पहले ही गैर तारांकित प्रश्नों एवं बुलेटिन खंड-दो का प्रकाशन एवं वितरण बंद कर चुका है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बजट के दस्तावेजों की प्रतियों की संख्या में भी 35 फीसदी कमी की गई है। इस पोर्टल में प्रत्येक सांसद के लिए अलग-अलग लॉगिंग एवं पासवर्ड आवंटित किए गए हैं। इसके शुभारंभ के साथ ही सदस्य अपने सवाल एवं नोटिस ऑनलाइन दर्ज करा सकते हैं। इस अवसर पर महाजन ने एम.एन. कौल एवं एस. एल. शकधर की पुस्तक 'प्रैक्टिस एवं प्रोसिजर ऑफ पार्लियामेंट' के सातवें संस्करण का विमोचन भी किया।

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)