NDTV Khabar

गृह मंत्री अमित शाह ने चेताया- हमारा एक जवान शहीद होगा, 10 दुश्मन मारे जाएंगे

उन्होंने कहा कि मोदी की अगुवाई में राष्ट्रीय सुरक्षा मजबूत हुई है और अब पूरी दुनिया जानती है कि एक जवान शहीद होगा तो 10 दुश्मन मारे जाएंगे. उनका इशारा पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद हुए बालाकोट हवाई हमले की ओर था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुंबई:

गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करके बड़ा काम किया है. गृह मंत्री सांगली जिले के जाट में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि राजग सरकार ने अनुच्छेद 370 को समाप्त किया वहीं कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) जैसे दलों ने इसका विरोध किया. अमित शाह ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी और राकांपा नेता शरद पवार को आडे हाथों लेते हुए कहा कि दोनों नेताओं को यह स्पष्ट करना चाहिए कि वे अनुच्छेद 370 को समाप्त करने का समर्थन करते हैं अथवा नहीं.

साथ ही उन्होंने कहा कि मोदी की अगुवाई में राष्ट्रीय सुरक्षा मजबूत हुई है और अब पूरी दुनिया जानती है कि एक जवान शहीद होगा तो 10 दुश्मन मारे जाएंगे. उनका इशारा पुलवामा आतंकवादी हमले के बाद हुए बालाकोट हवाई हमले की ओर था.


हरियाणा के कैथल में कांग्रेस पर बरसे अमित शाह, कहा- तनिक रात में सोचा करो...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा था कि अगले लोकसभा चुनाव से पहले सभी घुसपैठियों को देश से बाहर कर दिया जाएगा. शाह ने हरियाणा के कैथल में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी), अनुच्छेद 370 और राफेल खरीद के मुद्दों का जिक्र किया. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, जब हम 2024 में आपसे वोट मांगने आएंगे तो उससे पहले मैं यह बताना चाहता हूं कि तब तक हम देश से हर घुसपैठिये को बाहर निकाल चुके होंगे.' उन्होंने कांग्रेस नेताओं द्वारा ''शस्त्र पूजा'' की आलोचना को लेकर उस पर (कांग्रेस पर) निशाना साधा.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को फ्रांस द्वारा भारत को लड़ाकू विमान सौंपे जाने पर ''शस्त्र पूजा'' की थी. उन्होंने वहां उपस्थित लोगों से पूछा पूछा, “शस्त्र पूजा परंपरा का पालन होना चाहिए या नहीं? हमें इस परंपरा को जारी रखना चाहिए या नहीं?'

गृहमंत्री अमित शाह बोले- जम्मू कश्मीर हमेशा केंद्र शासित नहीं रहेगा, स्थिति सामान्य हुई तो...

असम में एनआरसी को लेकर विवाद पर उन्होंने कहा, “सत्तर वर्षों से घुसपैठियों ने देश की सुरक्षा को चुनौती दी है. उन्होंने कहा कि एनआरसी के जरिये भाजपा सरकार सभी घुसपैठियों को बाहर निकालने के लिए प्रतिबद्ध है.' शाह ने कांग्रेस और उसके स्थानीय प्रत्याशी रणदीप सुरजेवाला पर एन आर सी पर अमल के विरोध का आरोप लगाते हुए वहां उपस्थित लोगों से पूछा , “घुसपैठियों को बाहर निकाला जाना चाहिए या नहीं?”

शाह ने कहा, 'कांग्रेस से पूछा जाना चाहिए कि वे तीन तलाक और अनुच्छेद 370 और 35-ए को हटाने के विरोध में क्यों थे. उन्होंने एन आर सी का विरोध क्यों किया?” रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा राफेल की शस्त्र पूजा करने पर कांग्रेस के कुछ नेताओं द्वारा इसकी आलोचना किये जाने के मुद्दे पर शाह ने कहा, “राजनाथ जी ने फ़्रांस में शस्त्र पूजा की लेकिन कांग्रेस के लोगों को यह बुरा लगा.'

टिप्पणियां

कोलकाता में बोले अमित शाह- शरणार्थियों को जाने नहीं देंगे और किसी भी घुसपैठिए को रहने नहीं देंगे

उन्होंने कहा शस्त्र पूजा की परंपरा का पालन किया जाना चाहिए या नहीं. हमें यह परंपरा जारी रखनी चाहिए या नहीं. लेकिन कांग्रेस के लोग इसका भी विरोध कर रहे हैं. भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त करने का विरोध किया. मैं राहुल से पूछना चाहता हूँ कि वह अनुच्छेद 370 के पक्ष में हैं या विरोध में.' शाह ने कहा कि किसी पूर्ववर्ती सरकार ने जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने का साहस नहीं किया लेकिन नरेंद्र मोदी सरकार ने सत्ता में वापस आते ही संसद के पहले सत्र में यह कर दिखाया.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement