NDTV Khabar

महाराष्ट्र बस हादसे के बाद अचानक WhatsApp Group में पसरा सन्नाटा, और फिर मिली 33 दोस्तों की दर्दनाक मौत की खबर

महाराष्ट्र के रायगढ़ ज़िले के पोलादपुर के पास बड़ा सड़क हादसा हुआ है. इस हादसे में 33 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र बस हादसे के बाद अचानक WhatsApp Group में पसरा सन्नाटा, और फिर मिली 33 दोस्तों की दर्दनाक मौत की खबर

महाराष्ट्र बस हादसा

खास बातें

  1. जिन लोगों की मौत हुई है, वे सभी 30 से 45 की उम्र के थे
  2. मरने वालों में से कुछ लोग अविवाहित भी थे
  3. बस में सवार सभी यात्री कोंकण कृषि विद्यापीठ के कर्मचारी थे
मुंबई: महाराष्ट्र के रायगढ़ में महाबलेश्वर में पिकनिक मनाने जो बस जा रही थी, उसमें प्रवीण रणदीवे को भी जाना था और वह दोपाली एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में अपने साथी को ज्वाइन करने वाले थे. जी हां, शनिवार को वीकेंड पर वह भी अपने दोस्तों के साथ महाबलेश्वर में पिकनिक मनाने जाने के लिए पूरी तरह से तैयार थे. मगर अचानक तबीयत खराब हो जाने की वजह से वह अपने साथियों के साथ पिकनिक में नहीं जा सके. हालांकि, इस दौरान वह व्हाट्सएप्प ग्रुप पर अपने साथियों के साथ जुड़े थे, जहां पिकनिक पर जा रहे दोस्त लगातार पोस्ट शेयर कर अपडेट दे रहे थे. 

मगर तभी अचानक व्हाट्सएप्प ग्रुप में सन्नाटा पसर जाता है. करीब दोपहर के लगभग 12 बजकर 30 मिनट हो चुके थे, प्रवीण को पता चलता है कि जिस बस में उनके साथी जा रहे थे, वह मुंबई से करीब 180 किलोमीटर की दूरी पर पोलादपुर के नजदीक करीब 400 फीट गहरी खाई में गिर गई. बता दें कि हादसे के वक्त बस में सवार 34 लोगों में से 33 की मौत हो गई. 

महाराष्ट्र में बड़ा हादसा : रायगढ़ में 400 फीट गहरी खाई में गिरी बस, 33 लोगों की मौत

रणदीवे ने रिपोर्ट्स से कहा कि हम सभी सुबह 6.30 बजे निकलने वाले थे, मगर जब उन लोगों ने मुझे फोन किया तो मैंने कहा कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है, इसलिए मैं नहीं जा पाऊंगा. बता दें कि उनके साथी व्हाट्सएप्प ग्रुप में लगातार सफर की तस्वीरें और पोस्ट डाल रहे थे. 

उन्होंने आगे कहा कि उन लोगों की ओर से अंतिम मैसेज करीब सुबह 9.30 मिनट पर आया. मुझे ऐसा लगा कि वे लोग कहीं ब्रेकफास्ट करने के लिए रूके होंगे. जब मैंने बाद में मैसेज किया तो ऊधर से कोई जवाब नहीं आया. मगर करीब 12.30 बजे दोपहर में मुझे बस हादसे की जानकारी मिली, जिसे सुनकर मैं सन्न रह गया. 

रणदीवे ने आगे कहा कि इस बस हादसे में जिन लोगों की मौत हुई है, वे सभई 30 से 45 उम्र की सीमा के थे और उनमें से कुछ अविवाहित भी थे. इस हादसे में सिर्फ एक ही बच पाया है, जिनका नाम है प्रकाश सावंत. प्रकाश ने कहा कि सड़क पर कीचड़ और पत्थर होने की वजह से बस का टायर फिसल गया और यह हादसा हो गया. उन्होंने आगे कहा कि हम जब तक कुछ समझते कि क्या हो रहा है, बस खाई में जा गिरी. मैं किसी तरह बस से कूद गया और नीचे से चढ़ कर वापस आ पाया. 

टिप्पणियां
पुलिस अधीक्षक अनिल परास्कर ने बताया कि यात्री पिकनिक के लिए सतारा जिले में स्थित पर्यटन स्थल महाबलेश्वर की ओर जा रहे थे. उसी समय बस चालक ने एक मोड़ पर वाहन से अपना नियंत्रण खो दिया और यह खाई में जा गिरी. उन्होंने बताया कि बस में सवार सभी यात्री दपोली शहर स्थित कोंकण कृषि विद्यापीठ के कर्मचारी थे. 

VIDEO: महाराष्ट्र : रायगढ़ में 400 फीट गहरी खाई में गिरी बस, 33 लोगों की मौत


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement