NDTV Khabar

देवेंद्र फडणवीस की बढ़ी मुश्किलें: सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब, 2014 में चुनावी हलफनामे में छुपाई थी जानकारी

याचिका में फडणवीस पर साल 2014 के चुनावी हलफनामें में दो आपराधिक केसों की जानकारी छुपाने का आरोप लगा गया है.

5.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
देवेंद्र फडणवीस की बढ़ी मुश्किलें: सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब, 2014 में चुनावी हलफनामे में छुपाई थी जानकारी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस. (फाइल तस्वीर)

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की मुश्किलें बढ़ गई हैं. सुप्रीम कोर्ट ने फडणवीस को अयोग्य करार देने की मांग वाली याचिका पर गुरुवार को सुनवाई की. इस याचिका में फडणवीस पर साल 2014 के चुनावी हलफनामे में दो आपराधिक केसों की जानकारी छुपाने का आरोप लगा गया है. सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फडणवीस को नोटिस जारी करके, इस याचिका पर जवाब मांगा है. जिन दो केसों की जानकारी छुपाई गई थी, वो दोनों ही नागपुर के हैं. इनमें से एक मानहानि और दूसरा ठगी का केस है. याचिकाकर्ता की ओर से पेश कपिल सिब्बल ने कहा कि इन मामलों में अदालत संज्ञान ले चुकी है. ऐसे में फडनवीस को विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य करार दिया जाना चाहिए.

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच ने याचिका पर सुनवाई की. यह याचिका बोम्बे हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देते हुए दाखिल की गई थी. बोम्बे हाईकोर्ट ने सतीश उके की याचिका खारिज कर दी थी.​


महाराष्ट्र: प्याज बेचकर किसान को हुई 6 रुपये की कमाई, गुस्से में CM फडणवीस को भेजा मनीऑर्डर

बता दें, वकील सतीश उके ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर आरोप लगाया था कि साल 2014 के चुनाव का नामांकन दाखिल करते समय फडनवीस ने झूठा हलफनामा दायर किया था. याचिका में आरोप लगाया गया था कि उन्होंने अपने खिलाफ दो आपराधिक मामलों की जानकारी छुपाई थी.

टिप्पणियां

मुसलमानों में ऐसी जातियां जिनको लगता है आरक्षण मिलना चाहिए वो एसबीसीसी से संपर्क करें : देवेंद्र फडणवीस

2019 का सेमीफाइनलः महाराष्ट्र में मराठों को आरक्षण का दांव


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement