गतिरोध के बीच CM उद्धव ठाकरे, NCP सुप्रीमो शरद पवार की बैठक, संजय राउत बोले - सरकार मजबूत, चिंता करने की जरूरत नहीं

संजय राउत ने बैठक की पुष्टि करते हुए ट्वीट में कहा कि "सरकार की स्थिरता को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है."

गतिरोध के बीच CM उद्धव ठाकरे, NCP सुप्रीमो शरद पवार की बैठक, संजय राउत बोले - सरकार मजबूत, चिंता करने की जरूरत नहीं

उद्धव ठाकरे और शरद पवार के बीच हुई बैठक (फाइल फोटो)

खास बातें

  • उद्धव और पवार के बीच हुई बैठक
  • तमाम तरह की अटकलों के बीच हुई यह बैठक अहम
  • संजय राउत ने कहा कि सरकार मजबूत स्थिति में
मुंबई:

कोरोनावायरस (Coronavirus) संकट और लॉकडाउन को लेकर रणनीति के मुद्दे पर महाराष्ट्र में सत्ताधारी दलों शिवसेना (Shivsena) और एनसीपी (NCP) के बीच गतिरोध की खबरों के मध्य राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) ने सोमवार शाम को मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा- सरकार मजबूत है. भारत में महाराष्ट्र कोरोना महामारी से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है. 

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शरद पवार की यह मुलाकात उद्धव के घर मातोश्री में हुई. एनसीपी प्रमुख के राज्य में आर्थिक गतिविधियां शुरू करने को लेकर दिए गए सुझाव के बाद गठबंधन के बीच तनाव बढ़ा था. पवार का सुझाव था कि महाराष्ट्र को धीरे-धीरे खोलने चाहिए और अनिश्चितकालीन बंद से उभरना चाहिए ताकि आर्थिक गतिविधियों को फिर से पटरी पर लाया जा सके. खबरों में कहा गया था कि सुझावों को नजरअंदाज किए जाने के चलते पवार नाराज थे.

दोनों ही पार्टियों ने कहा कि पवार और ठाकरे के बीच बैठक में कोरोना संकट और राज्य पर उसके प्रभाव को लेकर चर्चा हुई. शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने बैठक की पुष्टि करते हुए ट्वीट में कहा कि "सरकार की स्थिरता को लेकर चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है."

राउत ने अपने ट्वीट में लिखा- "शरद पवार और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कल शाम मातोश्री में मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच डेढ़ घंटे बातचीत हुई. अगर कोई सरकार की स्थिरता को लेकर खबरें फैला रहा है, तो यह उनके पेट का दर्द है, सरकार मजबूत है. चिंता करने की जरूरत नहीं. जय महाराष्ट्र."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एनसीपी सुप्रीमो ने ठाकरे से मुलाकात के कुछ घंट पहले राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी. जिसके बाद उद्धव सरकार को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जाने लगी थीं. 

वीडियो: मंदिर के लिए ट्रस्ट, मस्जिद के लिए क्यों नहीं' बयान से शरद पवार ने खड़ा किया नया विवाद