Maharashtra में कोरोना के 729 नए मामले आए सामने, संक्रमितों की संख्या पहुंची 9318

Maharashtra Covid-19 Update: कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में इसके संक्रमितों का आकंड़ा 9318 पहुंच गया है.

Maharashtra में कोरोना के 729 नए मामले आए सामने, संक्रमितों की संख्या पहुंची 9318

Maharashtra Corona Cases: महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितो की संख्या पहुंची 9318

मुंबई:

Maharashtra Covid-19 Update: देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोना से लगभग 30 हजार लोग अब तक संक्रमित हो चुके हैं और 900 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में इसके संक्रमितों का आकंड़ा 9318 पहुंच गया है. मंगलवार को महाराष्ट्र में कोरोना के 729 नए मामले सामने आए और इस दौरान 31 लोगों की मौत हो गई. बता दें कि महाराष्ट्र में अब तक 1388 लोग ठीक हो चुके हैं. उधर, एशिया के सबसे बड़े स्लम मुंबई के धारावी में सोमवार को कोरोना के 42 नए मामले सामने आए और इस दौरान 4 लोगों की मौत भी हो गई. इसके साथ ही धारावी में संक्रमितों का आंकड़ा 330 पहुंच गया है, वहीं अब तक कुल 18 लोगों की यहां मौत हो चुकी है.

वहीं, मुंबई में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रशासन ने म्यूनिसिपल स्कूलों को क्वारेंटाइन सेंटर में तब्दील करने का फैसला लिया है, जहां कोरोना के मरीजों को रखा जाएगा. बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) के अधिकारियों ने कहा कि वे शहर में स्थित 1,200 नगरपालिका स्कूलों में से कुछ का उपयोग क्वारेंटाइन सेंटर के लिए करेंगे, लेकिन अभी इसकी संख्या तय नहीं की गई है. पिछले सप्ताह दिल्ली से एक केंद्रीय टीम कोरोना संकट का जायजा लेने के लिए मुंबई गई थी. इसके बाद सोमवार को महाराष्ट्र सरकार ने क्वारेंटाइन सेंटरों का दायरा और बढ़ाने का फैसला लिया है. बीएमसी के एक अधिकारी ने NDTV को बताया कि स्कूल में इस उद्देश्य के लिए पूरी तरह से अनुकूल हैं, क्योंकि उनके पास पर्याप्त शौचालय की सुविधा है और वे वर्तमान में बंद पड़े हुए हैं. 

Newsbeep

स्कूलों के अलावा बीएमसी शहर के प्रमुख मैदानों पर भी सुविधाएं स्थापित करने की योजना बना रही है. इसके लिए बीएमसी कमिश्नर प्रवीण परदेशी ने रविवार को गोरेगांव में NESCO प्रदर्शनी मैदान में तैयारियों का जायजा लिया. बीएमसी ने कहा कि नेस्को में 12 बिस्तर लगाया जा सकता है. इसके अलावा बीएमसी कमिश्नर ने बांद्रा-कुर्ला कॉम्पलेक्स  एमएमआरडीए ग्राउंड का भी निरीक्षण किया. यहां पर तीन हजार बिस्तर लगाया जा सकता है. इन दोनों केंद्रों पर बिना लक्षण वाले संदिग्ध कोरोना मरीजों को रखा जा सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उधर, मुंबई में  55 साल से ज्यादा उम्र के पुलिस कर्मियों को ड्यूटी से छूट दी गई है. इन सबको घर में रहने की हिदायत दी गई है. मुम्बई में पिछले दिनों कोरोना से संक्रमित 3 पुलिस कर्मियों की मौत के बाद यह फैसला लिया गया है. आपको बता दें कि शिवाजी नारायण सोनावने  हेड कॉन्स्टेबल चंद्रकांत गणपत पेंदुरकर, हेड कॉन्स्टेबल संदीप सुर्वे की कोरोना के संक्रमण की मौत हो चुकी है. 27 अप्रैल को ही मुंबई पुलिस के 52 वर्षीय एक हेड कांस्टेबल की कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मौत हो गई थी. मुंबई पुलिस ने ट्वीट में बताया कि पीड़ित कई दिन से इस संक्रमण से जूझ रहा था. इससे पहले, शनिवार को 57 वर्षीय कांस्टेबल की संक्रमण के कारण एक निजी अस्पताल में मौत हुई थी.