महाराष्ट्र में किसानों का प्रदर्शन हुआ हिंसक, कई गाड़ियों में तोड़फोड़ और आगजनी

महाराष्ट्र में किसानों का प्रदर्शन उग्र हो गया है. मुंबई से 80 किलोमीटर दूर बदलापुर-कल्याण हाइवे पर किसानों ने प्रदर्शन किया और कई गाड़ियों में आग लगा दी.

खास बातें

  • हवाईअड्डे के लिए जमीन अधिग्रहण करना चाहती है सरकार
  • किसानों को जमीन छीने जाने का डर है
  • किसानों ने गाड़ियों में तोड़फोड़ और आगजनी की
मुंबई:

मुंबई से तकरीबन 80 किलोमीटर दूर कल्याण- बदलापुर हाइवे पर किसानों ने सुबह से चक्का जाम किया हुआ है. कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की और टायर जलाकर अपना विरोध जताया है. कई प्राइवेट गाड़ियों के साथ पुलिस की भी एक  गाड़ी जलाई गई है. सैकड़ों की संख्या में लोग सड़क पर जमा हैं, जिनमें बड़े-बूढ़े और महिलाएं भी शामिल हैं. पुलिस उन्हें हटाने की कोशिश में जुटी है, लेकिन किसानों की संख्या देखते हुए पुलिस कम पड़ रही है. मौके की नज़ाकत को देखते हुए अब आरसीपी और एसआरपी की अतिरिक्त टुकड़ियां भेजी गई हैं. जानकारी के मुताबिक- सरकार हवाई अड्डे के लिए जमीन अधिग्रहण करना चाहती है, जिसे लेकर  किसान नाराज है. तकरीबन 17 गांव के किसानों को अपनी जमीन छीने जाने का डर है. आंदोलनकारियों ने पुलिस की गाड़ी भी जलाई. कुछ पुलिसवालों को चोट भी आई है.

उल्लेखनीय है कि  प्रस्तावित हवाईअड्डा बनाने के लिए कुछ वर्ष पहले राज्य सरकार ने क्षेत्र में भूमि अधिग्रहण शुरू किया था, जिसका किसान विरोध कर रहे हैं, लेकिन गुरुवार को उनके प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया. झड़प में तीन पुलिस अधिकारी और एक कांस्टेबल घायल हो गए. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिसकर्मियों ने प्रदर्शनकारियों पर प्लास्टिक की गोलियां चलाई. प्रदर्शनकारियों ने क्षेत्र में कल्याण हाजी मलंग मार्ग पर जलते टायर और लट्ठे फेंककर उसे बाधित कर दिया. उन्होंने पुलिस की एक वैन, तीन ट्रक, दो बाइक और एक टैम्पो में भी आग लगा दी. हालात को काबू में करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और राजस्व अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए. आंदोलनरत किसानों ने इस महीने की शुरुआत में हवाईअड्डे के लिए रक्षा मंत्रालय द्वारा करीब 1,600 एकड़ भूमि का अधिग्रहण किए जाने को चुनौती देते हुए बंबई उच्च न्यायालय में कई याचिकाएं दायर की थीं.

(इनपुट्स भाषा से भी)
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com