महाराष्ट्र: सरकारी घरों में रिटायरमेंट तक रह सकेंगे कोरोना से जान गंवाने वाले पुलिसवालों के परिवार

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के दौर में ड्यूटी करते वक्त अपनी जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों के परिवारवालों के लिए महाराष्ट्र सरकार ने बड़ी घोषणाएं की हैं. सरकार इन परिवारों को 65 लाख रुपए की मदद देगी, वहीं वो रिटायरमेंट की अवधि तक दिए गए सरकारी आवास में रह सकेंगे.

महाराष्ट्र: सरकारी घरों में रिटायरमेंट तक रह सकेंगे कोरोना से जान गंवाने वाले पुलिसवालों के परिवार

कोरोना से महाराष्ट्र पुलिस में 54 पुलिसकर्मियों की मौत हुई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  • महाराष्ट्र में 54 पुलिसकर्मियों की कोरोना से मौत
  • परिवारों को 65 लाख रुपए की सरकारी मदद
  • रिटायरमेंट तक सरकारी आवास में रह सकेंगे
मुंबई:

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के दौर में ड्यूटी करते वक्त अपनी जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों के परिवारवालों के लिए महाराष्ट्र सरकार ने बड़ी घोषणाएं की हैं. सरकार इन परिवारों को 65 लाख रुपए की मदद देगी, वहीं वो रिटायरमेंट की अवधि तक दिए गए सरकारी आवास में रह सकेंगे. शुक्रवार को राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने इसकी घोषणा की. उन्होंने एक वीडियो में कहा कि कोरोना के चलते जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों के परिवारों की सरकार पूरी मदद करेगी. 

उन्होंने वीडियो में कहा, 'कोरोना के खिलाफ फ्रंटलाइन की लड़ाई में जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों के परिवारों को अपने सिर पर छत की चिंता करने की जरूरत नहीं है. कोविड-19 से जिन पुलिसकर्मियों की मौत हुई है, उनके परिवारवाले जिस सरकारी आवास में रहे हैं, वो उनके रिटायरमेंट की तारीख तक इन घरों में रह सकते हैं.'

देशमुख ने कहा कि राज्य सरकार ने यह फैसला मानवीय आधार पर लिया है. उन्होंने कहा, 'पुलिसकर्मियों की सर्वोच्च बलिदानी के बदले हम कम से कम इतना तो कर ही सकते हैं.' उन्होंने कहा कि लाइन ऑफ ड्यूटी के दौरान राज्य में 4,326 पुलिसकर्मी कोरोना की चपेट में आए हैं और इनमें से 3,282 तो रिकवर हो गए हैं, लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि 54 पुलिसकर्मियों की इससे मौत हो गई है. 

अगर महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के कुल मामलों की बात करें तो गुरुवार को कोविड-19 के 4,841 नए मामले सामने आने के बाद यहां कुल मामले बढ़कर 1,47,741 हो गए. वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 6,931 हो गई. अकेले मुंबई में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 70,000 के पार चल रहा है. शहर में जानलेवा संक्रमण के कुल मामले 70,990 हो गए हैं और मृतकों का आंकड़ा 4,060 पर पहुंच गया है. बीएमसी ने बताया कि गुरुवार को 2,141 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई.शहर में अब तक 39,151 मरीज बीमारी से उबर चुके हैं. मुंबई में 27,779 मरीज संक्रमण का इलाज करा रहे हैं जबकि 790 नए संदिग्ध मरीजों को अस्पतालों में भर्ती किया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: उत्तर मुंबई में कोरोना के मामले बढ़ने के बाद 24 इलाके पूरी तरह सील