Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

सरकार बनाने को लेकर BJP-शिवसेना की तनातनी के बीच संजय राउत ने की शरद पवार से मुलाकात, कहा- उन्हें भी चिंता है कि...

दूसरी ओर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने मंगलवार को कहा कि अगर शिवसेना यह घोषणा कर दे कि उसने भाजपा के साथ अपना संबंध तोड़ दिया है तो महाराष्ट्र में एक राजनीतिक विकल्प बनाया जा सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सरकार बनाने को लेकर BJP-शिवसेना की तनातनी के बीच संजय राउत ने की शरद पवार से मुलाकात, कहा- उन्हें भी चिंता है कि...

शिवसेना नेता संजय राउत ने बुधवार को फिर कहा कि हमारे बीच 50-50 फ़ॉर्मूले पर बात हुई थी.

खास बातें

  1. सरकार बनाने के लिए दो दिन का वक्त बचा
  2. शरद पवार से संजय राउत ने की मुलाकात
  3. संजय राउत बोले- महाराष्ट्र के बड़े नेता हैं शरद
मुंबई:

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए दो दिन का वक्त बचा है, ऐसे में शिवसेना नेता संजय राउत ने बुधवार को एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की. शरद पवार से मुलाकात से पहले संजय राउत ने मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी पार्टी की मांग को दोहराया और कहा कि भाजपा के साथ अब किसी नए विकल्प पर चर्चा नहीं होगी. मुलाकात के बाद संजय राउत ने कहा, 'पवार साहब से मेरी आज मुलाकात हुई. पवार साहब देश के महाराष्ट्र के बड़े नेता हैं, मार्गदर्शक हैं सबके. उन्हें भी चिंता है कि राज्य में सरकार क्यूं नहीं बन रही. अभी राज्य में अस्थिरता है, उन्होंने भी बातचीत में चिंता जताई. हमने थोड़ी बहुत बातचीत की. आगे की बात आगे सोचेंगे.'

वहीं, महाराष्ट्र की सियासी हलचल के बीच दिल्ली में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल के बीच मुलाक़ात हुई है. अहमद पटेल ख़ुद गडकरी के घर पहुंचे थे. हालांकि, मुलाक़ात के बाद अहमद पटेल ने कहा कि महाराष्ट्र के मुद्दे पर नहीं, बल्कि किसानों और सड़क हादसों के मुद्दे पर बात करने आया था.


BJP के प्रस्ताव पर बोली शिवसेना- अब नया प्रस्ताव ना आएगा, ना जाएगा, जो पहले बात हुई थी वही होगी, नया कुछ नहीं

दूसरी ओर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने मंगलवार को कहा कि अगर शिवसेना यह घोषणा कर दे कि उसने भाजपा के साथ अपना संबंध तोड़ दिया है तो महाराष्ट्र में एक राजनीतिक विकल्प बनाया जा सकता है. राकांपा सूत्रों ने बताया कि पार्टी चाहती है कि केंद्र सरकार में शिवसेना के इकलौते मंत्री अरविंद सावंत भी इस्तीफा दे दें. महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के बाद सत्ता के बंटवारे को लेकर शिवसेना और उसके सहयोगी दल भाजपा के बीच गतिरोध बना हुआ है.

राकांपा के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने यहां कहा, ‘‘इससे बढ़िया कुछ नहीं हो सकता अगर भाजपा शिवसेना को मुख्यमंत्री पद दे देती है लेकिन अगर भाजपा इनकार कर रही है तो एक विकल्प दिया जा सकता है. लेकिन शिवसेना को यह एलान करना होगा कि उसका भाजपा और राजग से अब कोई नाता नहीं है. इसके बाद विकल्प मुहैया कराया जा सकता है.''

महाराष्ट्र के सियासी संग्राम के बीच शिवसेना का नया ट्वीट, 'जो लोग कुछ भी नहीं करते हैं, वो...'

बता दें, शिवसेना नेता संजय राउत ने बुधवार को फिर कहा कि हमारे बीच 50-50 फ़ॉर्मूले पर बात हुई थी और इससे कम कुछ भी मंज़ूर नहीं है. राष्ट्रपति शासन की संभावनाओं पर संजय राउत ने कहा कि अगर ऐसा हुआ तो ये जनादेश का अपमान होगा. मंगलवार देवेंद्र फडणवीस ने संघ प्रमुख मोहन भागवत से नागपुर में मुलाक़ात की. क़रीब डेढ़ घंटे तक चली बातचीत में मौजूदा सियासी संकट पर चर्चा हुई. हाल ही में शिवसेना के एक नेता ने भी संघ प्रमुख को चिट्ठी लिखकर इस संकट पर दख़ल की मांग की थी. अब देखना होगा कि इस महासंकट में भागवत किस तरह संकटमोचक की भूमिका निभाएंगे. आपको सुनाते हैं संजय राउत का बयान.

टिप्पणियां

NCP ने शिवसेना से कहा- अगर BJP से नाता तोड़ दें तो तलाशा जा सकता है विकल्प

VIDEO: सहमति बनने पर चुनाव लड़ा गया: संजय राउत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... फराह खान को सेलिब्रिटीज के वर्कआउट वीडियो शेयर करने पर आया गुस्सा, बोलीं- हमारे ऊपर रहम करिये...

Advertisement