राहुल गांधी पर टिप्पणी करने वाले प्रोफेसर के खिलाफ जल्द लेंगे एक्शन : महाराष्ट्र गृह मंत्री

मुंबई यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर योगेश सोमन (Yogesh Soman) ने एक वीडियो में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. जिसके बाद उन्हें जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया.

खास बातें

  • मुंबई यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर हैं योगेश सोमन
  • प्रोफेसर ने दिसंबर में किया था वीडियो पोस्ट
  • राहुल गांधी के खिलाफ किया था आपत्तिजनक कमेंट
मुंबई:

मुंबई यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर योगेश सोमन (Yogesh Soman) ने एक वीडियो में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. जिसके बाद उन्हें जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया. मामले के सामने आते ही भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने इस मुद्दे पर राज्य सरकार पर हमला बोला. BJP ने प्रोफेसर को जबरन अवकाश पर भेजने को असहिष्णुता बताया. अब महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) ने कहा है कि राहुल गांधी पर टिप्पणी करने वाले प्रोफेसर के खिलाफ जल्द एक्शन लिया जाएगा.

अनिल देशमुख ने कहा, 'प्रोफेसर योगेश सोमन ने राहुल गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक बात कही है. एक प्रोफेसर का काम छात्रों को पढ़ाना होता है न कि इस तरह की बयानबाजी करना. अभी उन्हें जबरन छुट्टी पर भेजा गया है लेकिन जल्द ही उनके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी.' कांग्रेस की स्टूडेंट विंग NSUI और लेफ्ट संगठन के पदाधिकारियों ने प्रोफेसर सोमन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है.

CAA पर कांग्रेस की बैठक के बाद पीएम मोदी पर राहुल गांधी का हमला, कहा- आखिर आपने किसानों और छात्रों के लिए...

बताते चलें, राहुल गांधी ने हाल ही में CAA के विरोध को लेकर आयोजित की गई एक रैली में वीर सावरकर पर टिप्पणी की थी. जिसके बाद मुंबई यूनिवर्सिटी में एकेडमी ऑफ थिएटर आर्ट्स के डायरेक्टर प्रोफेसर योगेश सोमन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स से एक वीडियो पोस्ट किया था. वीडियो में उन्होंने राहुल गांधी के बयान की आलोचना करते हुए उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. मामले के तूल पकड़ते ही उन्हें छुट्टी पर भेज दिया गया. विश्वविद्यालय प्रशासन ने इस बारे में सफाई देते हुए कहा कि प्रोफेसर सोमन के खिलाफ कई शिकायतें मिली थीं. इसी आधार पर उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी, कहा- जनता की आवाज दबाई जा रही है