NDTV Khabar

हिंदी में बोले राज ठाकरे: यूपी-बिहार के लोग अपने नेताओं से पूछें क्यों विकास में पिछड़ा है उनका राज्य
पढ़ें | Read IN

ठाकरे ने कहा, 'मैं चाहता हूं कि ये गरीब राज्य भी संपन्न हो जाएं. लेकिन लोग अपने नेताओं से सवाल पूछने की बजाए, मुंबई चले आते हैं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हिंदी में बोले राज ठाकरे: यूपी-बिहार के लोग अपने नेताओं से पूछें क्यों विकास में पिछड़ा है उनका राज्य

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे.

खास बातें

  1. राज ठाकरे ने पहली बार हिंदी में दिया भाषण
  2. कहा- नेताओं से सवाल पूछे लोग
  3. 'सवाल पूछने की बजाय मुंबई चले आते हैं लोग'
मुंबई: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे ने संभवत: पहली बार हिंदी में एक रैली को संबोधित करते हुए यूपी और बिहार के प्रवासियों से कहा कि उन्हें अपने नेताओं से पूछना चाहिए कि उनके राज्य विकास में क्यों पिछड़ गए? उन्होंने कहा कि लोग अपने नेताओं से सवाल करने की बजाय रोजगार की तलाश में मुंबई चले आते हैं. ठाकरे रविवार को मुंबई में उत्तर भारतीय मंच की ओर से आयोजित एक रैली को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने बताया कि वह हिंदी में इसलिए बोल रहे है, ताकि उनकी बात ज्यादा लोग तक पहुंचे. बता दें, ठाकरे इससे पहले हमेशा अपनी रैली को मराठी में संबोधित करते रहे हैं, बहुत ही कम देखने को मिला है कि वे मीडिया से दूसरी भाषा में बात कर रहे हों. 

ठाकरे ने कहा, 'यूपी जैसे राज्य ने देश को कई प्रधानमंत्री दिए हैं, जिनमें मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (जो वाराणसी से सांसद हैं) भी शामिल हैं. आप में से कोई उनसे नहीं पूछता कि आपके राज्य औद्योगीकरण में क्यों पिछड़े हुए हैं और वहां रोजगार के अवसर क्यों नही हैं.' 

Bharat Bandh: राज ठाकरे ने कुत्ते से की शिवसेना की तुलना, मोदी सरकार को भी लताड़ा

साथ ही उन्होंने कहा, 'मैं चाहता हूं कि ये गरीब राज्य भी संपन्न हो जाएं. लेकिन लोग अपने नेताओं से सवाल पूछने की बजाए, मुंबई चले आते हैं. अगर बाहरी लोग स्थानीय लोगों के अधिकारों का हनन करेंगे तो विवाद पैदा होगा ही. मुंबई में ज्यादात्तर प्रवासी यूपी, बिहार और बांग्लादेश के हैं. मैं चाहता हूं कि अगर आप रोजगार की तलाश में महाराष्ट्र आते हैं तो आपको स्थानीय भाषा और संस्कृति का सम्मान करना चाहिए.'

Bharat Bandh: राज ठाकरे ने कुत्ते से की शिवसेना की तुलना, मोदी सरकार को भी लताड़ा

गुजरात में प्रवासी लोगों पर हमले की घटना पर ठाकरे ने कहा, 'अगर मेरा यूपी और बिहार के लोगों से विवाद होता है तो सभी लोग मुझ पर टूटकर पड़ जाते हैं. लेकिन गुजरात में बिहारी लोगों पर हमले के बाद किसी ने भी वहां की सत्तारुढ़ पार्टी भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से (जिनका गृहराज्य गुजरात है) कोई सवाल नहीं पूछा. ऐसे ही विरोध असम और गोवा में देखने को मिले, लेकिन मीडिया ने उन्हें मुद्दा बनाया ही नहीं. लेकिन हमारे आंदोलन को हमेशा मसाले के साथ दिखाया जाता है.'

टिप्पणियां
मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने राम मंदिर को लेकर दिया यह बयान...

राज ठाकरे ने कहा, मुंबई में बुलेट ट्रेन की एक भी ईंट नहीं रखने देंगे
(इनपुट- पीटीआई)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement