महाराष्ट्र में सरकार गठन की कोशिशों के बीच शिवसेना ने अपने विधायकों को कपड़े, दस्तावेजों के साथ 'मातोश्री' बुलाया

महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन की कवायद को लेकर दिल्ली में कांग्रेस-एनसीपी (Congress-NCP) की बैठक हो रही है. दोनों दलों की को-ऑर्डिनेशन कमेटी के नेता दिल्ली में शरद पवार (Sharad Pawar) के आवास पर मिल रहे हैं.

महाराष्ट्र में सरकार गठन की कोशिशों के बीच शिवसेना ने अपने विधायकों को कपड़े, दस्तावेजों के साथ 'मातोश्री' बुलाया

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर हाल ही में मुंबई में एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना के नेताओं की बैठक हुई थी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • शुक्रवार को शिवसेना विधायकों को मातोश्री बुलाया गया
  • अब्दुल सत्तार बोले- आधार और पैन लेकर आने को कहा
  • कहा- उद्धव ठाकरे महाराराष्ट्र के मुख्यमंत्री होंगे
नई दिल्ली:

महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन की कवायद को लेकर दिल्ली में कांग्रेस-एनसीपी (Congress-NCP) की बैठक हो रही है. दोनों दलों की को-ऑर्डिनेशन कमेटी के नेता दिल्ली में शरद पवार (Sharad Pawar) के आवास पर मिल रहे हैं. महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी ने शिवसेना (Shiv Sena) के साथ मिलकर सरकार बनाने का फ़ैसला किया है. इसी को लेकर सरकार की रुपरेखा तय की जा रही है. उधर शिवसेना विधायकों को शुक्रवार को मातोश्री बुलाया गया है. शिवसेना विधायक अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) ने कहा कि सभी विधायकों को 22 नवंबर को बैठक के लिए 'मातोश्री' बुलाया गया है. हमें 5 दिनों के लिए अपना कपड़ा, आईडी कार्ड, आधार कार्ड और पैन कार्ड लेकर आने के लिए कहा गया है. मुझे लगता है कि हमें 2-3 दिनों के लिए एक जगह पर रहना होगा, फिर अगला कदम तय किया जाएगा. उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) जी निश्चित रूप से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री होंगे.

'5-6 दिन में बन जाएगी सरकार'
उधर, संजय राउत ने कहा कि अगले पांच-छह दिनों में महाराष्ट्र में मजबूत सरकार का गठन किया जाएगा. शिवसेना के सांसद राउत ने कहा, 'सरकार बनाने की प्रक्रिया अगले 5-6 दिनों में पूरी हो जाएगी और दिसंबर से पहले महाराष्ट्र में एक लोकप्रिय और मजबूत सरकार का गठन किया जाएगा. प्रक्रिया चल रही है.' वहीं, दूसरी ओर एनसीपी प्रमुख शरद पवार बुधवार को संसद भवन में पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे. दोनों की मुलाकात किसानों के मुद्दे पर होगी. 

महाराष्ट्र में सरकार का गठन अगले हफ्ते, CM का पहला टर्म शिवसेना को, कांग्रेस का बन सकता है स्पीकर- सूत्र

Newsbeep

बता दें कि महाराष्ट्र की 288 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के पास 105, शिवसेना के पास 56 सीटें हैं, जबकि राकांपा और कांग्रेस के पास क्रमश: 54 और 44 सीटें हैं. राज्य में सरकार बनाने को इच्छुक किसी भी दल या गठबंधन को विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए कम से कम 145 विधायकों के समर्थन की जरूरत होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: संजय राउत बोले- दिसंबर से पहले बन जाएगी सरकार