NDTV Khabar

महाराष्ट्र में अब एक नियम की वजह से फिर आ सकता है ट्विस्ट? BJP ने कहा- जा सकते हैं सुप्रीम कोर्ट

महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल का कहना है कि सरकार नियमों की तोड़ रही है और राज्यपाल से शिकायत करने जा रही है. पाटिल ने यह भी कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में भी इसके खिलाफ अपील की जा सकती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र में अब एक नियम की वजह से फिर आ सकता है ट्विस्ट? BJP ने कहा- जा सकते हैं सुप्रीम कोर्ट

महाराष्ट्र में आज बहुमत परीक्षण और रविवार को स्पीकर का चुनाव

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव में Congress-NCP और शिवसेना के गठबंधन के नेताओं को पूरा विश्वास है कि उनकी सरकार उद्धव ठाकरे के समर्थन में विधानसभा में बहुमत साबित कर देगी. इसके साथ ही रविवार को विधानसभा के स्पीकर का भी चुनाव होना है. अब इस चुनाव को लेकर भी मामले में थोड़ा ट्विस्ट आ सकता है. दरअसल आज होने वाला बहुमत परीक्षण प्रोटेम स्पीकर की देखरेख में होगा और सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि इस प्रक्रिया में सीक्रेट बैलेट यानी गुप्त मतदान का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. लेकिन विधानसभा चुनाव अध्यक्ष के चुनाव को लेकर सुप्रीम कोर्ट की ओर से ऐसा कोई आदेश नहीं है और  नियम यह कहता है कि विधानसभा स्पीकर के चुनाव में गुप्त मतदान होना चाहिए. बीजेपी को शक है कि स्पीकर का चुनाव भी सरकार खुले में करवा सकती है जबकि नियम गुप्त मतदान का है.  दरअसल गुप्त मतदान से क्रॉस वोटिंग हो सकती है यानी विधायक दूसरे पक्ष की ओर वोट डाल सकते हैं. जबकि बीजेपी का कहना है कि गुप्त मतदान न कराकर नई सरकार नियम को तोड़ रही है. इसी बात को लेकर महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल का कहना है कि सरकार नियमों की तोड़ रही है और बीजेपी राज्यपाल से शिकायत करने जा रही है. पाटिल ने यह भी कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में भी इसके खिलाफ अपील की जा सकती है.

क्या है गठबंधन का गणित
शिवेसना : 56 + 8 = 64
एनसीपी : 53 (1 प्रोटेम स्पीकर)
कांग्रेस : 44 
बीवीए : 3
एसपी : 2 
स्वाभिमानी शेतकरी : 1
पीडब्ल्यू पी : 1
सीपीआईएम : 1
एमएनएस : 1
कुल : 170  


टिप्पणियां

क्या चाहती है बीजेपी
बीजेपी चाहती है कि पहले स्पीकर चुनाव करवाते फिर फ्लोर टेस्ट हो.  लेकिन सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देकर प्रोटेम स्पीकर के जरिये ही फ्लोर टेस्ट करवा रही है.  बीजेपी चाहती है कि गुप्त मतदान हो. 

कौन हैं स्पीकर के पद के उम्मीदवार
कांग्रेस की ओर से नाना पटोले को स्पीकर पद के लिए उम्मीदवार बनाया गया है. पहले इसके लिए पृथ्वीराज चह्वाण का नाम चल रहा था. वहीं बीजेपी की ओर से किशन कठोरे के नाम का ऐलान किया गया है.  शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे का कहना है कि वे किसी भी याचिका से नहीं डरते. उन्होंने बाला साहेब ठाकरे के आशीर्वाद से शपथ ली है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement