महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी के बीच सीटों का बंटवारा अटका, बीजेपी-शिवसेना के दौरे शुरू

कांग्रेस और एनसीपी में एमएनएस को साथ लेने को लेकर सहमति नहीं, प्रकाश आंबेडकर को मनाने की भी बड़ी चुनौती

महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी के बीच सीटों का बंटवारा अटका, बीजेपी-शिवसेना के दौरे शुरू

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव को लेकर एनसीपी और कांग्रेस के बीच अब तक सीटों का बंटवारा नहीं हो सका है.

मुंबई:

महाराष्ट्र में दो महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. कांग्रेस-एनसीपी के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर कोई सहमति नहीं बनी है, इसके अलावा महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना को इस गठबंधन में जगह मिलेगी या नहीं, इस पर भी अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है.

विधानसभा चुनाव से केवल दो महीनों पहले महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष  बनाए गए बालासाहेब थोरात के सामने कई चुनौतियां हैं. हताश कार्यकर्ताओं में जोश भरना है और सहयोगी पार्टियों के साथ तालमेल बिठाना है. सबसे पुरानी सहयोगी एनसीपी के साथ भी सीटों का बंटवारा नहीं हो पाया है.

'जन आशीर्वाद यात्रा' पर आदित्‍य ठाकरे, संजय राउत ने कहा- अगला मुख्‍यमंत्री शिवसेना से होगा

कोशिश प्रकाश आंबेडकर की बहुजन विकास अघाड़ी को भी साथ लेने की है. पिछले लोकसभा चुनावों में उसे सात फीसदी वोट मिले और कांग्रेस-एनसीपी को दस सीटों का नुक़सान हुआ. इसके अलावा हाल ही में सोनिया से मुलाकात करने वाले राज ठाकरे को भी एनसीपी साथ लेना चाहती है. कांग्रेस  इसको लेकर फ़ैसला नहीं कर पा रही है.

महाराष्ट्र के CM देवेंद्र फडणवीस बोले, मैं पहले ही कह चुका हूं, दूसरी बार भी मैं ही मुख्यमंत्री बनूंगा

सूखा और किसान आत्महत्याओं से जूझने के बावजूद लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र बीजेपी का प्रदर्शन शानदार रहा. बीजेपी और उसकी सहयोगी शिवसेना के नेताओं ने विधानसभा चुनाव के लिए राज्य भर का दौरा भी शुरू कर दिया है. लेकिन कांग्रेस अभी तालमेल की शुरुआत तक नहीं कर पाई है.

Newsbeep

VIDEO : कांंग्रेस का विधानसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन का दावा 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com