सियासी घमासान के बीच बंटी NCP: शरद पवार की बैठक में पहुंचे 50 MLA, चार लापता

एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि एनसीपी विधायक दल की मुंबई में बैठक हुई. बैठक में ज़्यादातर विधायक मौजूद रहे.

सियासी घमासान के बीच बंटी NCP: शरद पवार की बैठक में पहुंचे 50 MLA, चार लापता

अभी अजित पवार सहित एनसीपी के चार विधायक लापता हैं.

मुंबई:

देवेन्द्र फडणवीस के मुख्यमंत्री और एनसीपी के अजित पवार के डिप्टी सीएम पद की शपथ लिए जाने के कुछ घंटों बाद ही शरद पवार ने शनिवार को अपने विधायकों की बैठक बुलाई. बैठक इसलिए बुलाई गई, ताकि यह पता लग सके कि कितने विधायक उनके साथ हैं और कितने अजित पवार के साथ चले गए. एनसीपी के वरिष्ठ नेता धनंजय मुंडे को अजीत पवार के पाले में माना जा रहा था, लेकिन एनसीपी के हेडक्वार्टर वाईबी भवन में हो रही बैठक में अचानक पहुंचकर सबको चौंका दिया. अभी अजित पवार सहित एनसीपी के चार विधायक लापता हैं. 54 में से 50 विधायकों ने एनसीपी की बैठक में हिस्सा लिया. अजीत पवार और तीन अन्य विधायकों के भी पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही थी. दो विधायक शनिवार सुबह लौट आए थे.

महाराष्ट्र में कांग्रेस, NCP और शिवसेना की सरकार बनते-बनते अजित पवार की मदद से बीजेपी की सरकार बन गई. कल सुबह लोग अखबार में कांग्रेस, NCP और शिवसेना की सरकार बनने के बाद टीवी पर नई सरकार बनने की खबर देख रहे थे. रातोंरात सब कुछ बदल गया. इसके बाद जो खलबली मची तो पहले शिवसेना और NCP के नेता मिले और प्रेस कॉन्फ़्रेंस की, फिर कांग्रेस के नेता मीटिंग करके मीडिया के सामने आए. रात को NCP की मीटिंग हुई जिससे शरद पवार की ताकत साबित हुई और पता चला कि अजित पवार तो अकेले पड़े चुके हैं.

महाराष्ट्र मामले में Congress-NCP और शिवसेना की याचिका पर इन 3 जजों की पीठ में है सुनवाई

एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि एनसीपी विधायक दल की मुंबई में बैठक हुई. बैठक में ज़्यादातर विधायक मौजूद रहे. राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार सभी विधायकों से मिले. बैठक में कई ऐसे विधायक भी पहुंचे जो सुबह अजीत पवार के साथ दिखे थे. अजीत पवार के फ़ैसले से हम ख़ुश नहीं हैं. और ना ही अजीत पवार का फ़ैसला मंज़ूर. विधायक दल का नया नेता अभी चुना जाना बाकी. एनसीपी के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल को विधायक दल का नेता चुने जाने तक सारे प्रभार दिए गए हैं. 

अजित पवार ने क्यों छोड़ा चाचा शरद का साथ? पढ़ें- इनसाइड स्टोरी

साथ ही उन्होंने कहा, बीजेपी ने चोरी-चुपके काम किया है. राज्यपाल को दूसरे काम से जुड़ा कवरिंग लेटर दिया. एनसीपी, शिवसेना, कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनेगी. तीनों दल और कुछ छोटे दलों के विधायकों को मिलाकर हमारे पास सरकार बनाने का पूरा मैजिक नंबर है.

उधर चल रही थी गठबंधन की कवायद और इधर BJP कर रही थी 'प्लान बी' पर काम, ऐसे पलटी महाराष्ट्र की बाजी

VIDEO: महाराष्ट्र: निर्दलीय विधायकों पर दोनों सियासी खेमों की नजर

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com