NDTV Khabar

महाराष्ट्र: मातोश्री के बाहर Aditya Thackeray की तस्वीर के साथ 'मेरा MLA, मेरा CM' लिखे पोस्टर दिखे

खींचतान के बीच बीती शाम राज्यपाल से मिले शिवसेना (Shiv Sena) नेता संजय राउत.मुलाक़ात के बाद कहा- सरकार न बन पाने के लिए हम ज़िम्मेदार नहीं... जिस दल का बहुमत हो, उसकी सरकार बने.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र: मातोश्री के बाहर Aditya Thackeray की तस्वीर के साथ 'मेरा MLA, मेरा CM' लिखे पोस्टर दिखे

Aditya Thackeray poster: मातोश्री के बाहर दिखे पोस्टर

मुंबई:

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के करीब दो सप्ताह बाद भी सरकार बनाने को लेकर भाजपा और शिवसेना में गतिरोध बना हुआ है. खींचतान के बीच बीती शाम राज्यपाल से मिले शिवसेना नेता संजय राउत. मुलाक़ात के बाद कहा- सरकार न बन पाने के लिए हम ज़िम्मेदार नहीं... जिस दल का बहुमत हो, उसकी सरकार बने. वहीं, दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिले एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने मुलाकात की. सूत्रों के मुताबिक़, पवार ने सोनिया के सामने शिवसेना को समर्थन देने का अपना फ़ॉर्मूला रखा. लेकिन सोनिया गांधी पवार के फ़ॉर्मूले से सहमत नहीं हैं.

सोनिया गांधी से मुलाक़ात के बाद शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस की और कहा कि हमें विपक्ष में बैठने का जनादेश, लेकिन आगे क्या होगा ये कह नहीं सकते. शिवसेना को समर्थन पर कहा कि किसी ने हमें पूछा भी नहीं. वहीं, एनसीपी और कांग्रेस ने राज्यपाल से मिलने का समय मांगा. लेकिन राजभवन की ओर से अब तक कोई जवाब नहीं आया है. राज्य में खेती के मौजूदा हालात को लेकर दोनों दलों के नेता राज्यपाल से मिलना चाहते हैं.

इस मराठी अखबार ने शिवसेना नेता संजय राउत की तुलना 'बेताल' से की


शिवेसना 50-50 की मांग पर अड़ी हुई है. शिवसेना का कहना है कि गठबंधन की शर्तों का पालन किया जाए, जिसमें चुनाव से पहले कहा गया था कि अगर गठबंधन की सरकार बनती है तो आधे समय भाजपा और आधे समय शिवसेना का मुख्यमंत्री रहेगा. इसी बीच सोमवार को मुंबई में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री के बाहर आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) की तस्वीर के साथ 'मेरा विधायक, मेरा मुख्यमंत्री' लिखे पोस्टर दिखाई दिए. ये पोस्टर शिवसेना पार्षद हाजी हलीम खाने की ओर से लगाए गए हैं.

सोनिया गांधी का महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ गठबंधन से इनकार: सूत्र

गौरतलब है कि सोमवार को महाराष्ट्र में फंसे पेच को सुलझाने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मिले. लेकिन बाहर आकर बताया कि वो बेमौसम बारिश से हुए किसानों के नुकसान के लिए केंद्र से मदद मांगने आये थे. जहां तक सत्ता के समीकरण की बात है उस पर चुप रहे. देर शाम एन सी पी नेता शरद पवार और सोनिया गांधी की मुलाकात से भी कोई ख़ास नतीजा नही निकला. इधर मुंबई में शिवसेना के शीर्ष नेतृत्व ने भी अपनी चुप्पी बरकरार रखी है लेकिन शिवसेना के मुखर सांसद संजय राऊत ने राज्यपाल से मिलकर अपनी पार्टी की भूमिका साफ की.

टिप्पणियां

महाराष्ट्र में राजनीतिक संकट के बीच सोनिया गांधी से मिले शरद पवार, कहा - हमें विपक्ष में बैठने का जनादेश मिला है लेकिन आगे...

VIDEO: कब और कैसे बनेगी महाराष्ट्र में सरकार?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement