महाराष्ट्र : इमारत ढही, 1 की मौत, कई लोग अब भी नीचे दबे, मंत्री ने कहा- ठेकेदार जिम्मेदार

महाराष्ट्र के रायगढ़ में पांच मंजिला इमारत के ढहने वाली घटना में बिल्डिंग के कॉन्ट्रैक्टर को जिम्मेदार बताते हुए उसके खिलाफ केस दर्ज किया गया है. NDRF की तीन टीमें और फायर ब्रिगेड की 12 टीमें रेस्क्यू ऑपरेशन में लगी हुई हैं.

महाराष्ट्र : इमारत ढही, 1 की मौत, कई लोग अब भी नीचे दबे, मंत्री ने कहा- ठेकेदार जिम्मेदार

रायगढ़ के महाड में पांच मंजिला इमारत ध्वस्त, रेस्क्यू ऑपेशन जारी.

रायगढ़:

महाराष्ट्र के रायगढ़ में पांच मंजिला इमारत के ढहने (Maharashtra Building Collapse) वाली घटना में बिल्डिंग के कॉन्ट्रैक्टर को जिम्मेदार बताते हुए उसके खिलाफ केस दर्ज (Case registered against contractor) किया गया है. सोमवार शाम को हुई इस घटना में एक मौत होने की खबर आई है, वहीं अबतक 60 लोगों को मलबे के नीचे से निकाला गया है. माना जा रहा है कि मलबे में अभी भी 25 के आसपास लोगों के दबे होने की आशंका है. नेशनल डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स (NDRF) की तीन टीमें और फायर ब्रिगेड की 12 टीमें रेस्क्यू ऑपरेशन में लगी हुई हैं.

महाराष्ट्र के मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि इस घटना के लिए बिल्डिंग का कॉन्ट्रैक्टर जिम्मेदार है और उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि इस हादसे में बिल्डिर, कॉन्ट्रैक्टर और आर्किटेक्ट सभी के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. उन्होंने यह भी कहा कि अगर घटना में किसी तरह से सरकारी अधिकारियों की भूमिका सामने आती है, तो उनपर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि जानकारी के अनुसार, यह बिल्डिंग लगभग महज 10 साल पुरानी थी. इसमें 45 से 47 फ्लैट थे. बताया जा रहा है कि सबसे पहले ऊपरी की तीसरी मंजिलें पहले गिरनी शुरू हुई थीं, जिसके बाद पूरी बिल्डिंग ही ध्वस्त हो गई. अभी स्थानीय अथॉरिटी यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि हर फ्लैट में कितने लोग मौजूद थे. इसके लिए एक लिस्ट बनाई जा रही है. बिल्डिंग काफी पुरानी नहींं है, ऐसे में बिल्डिंग के निर्माण में बने मटीरियल की जांच की जाएगी और देखा जाएगा कि बिल्डिंग के गिरने का कारण क्या था.

इस हादसे में अभी लोगों को मलबे से निकालने की कोशिश की जा रही है, वहीं जिनके परिजन यहां रहते थे, वो उन्हें ढूंढते हुए हलाकान हो रहे हैं. 64 साल के मुहम्मद अली महाड से 40 किमी दूर मंदनगढ़ में रहते हैं, वो घटना की जानकारी मिलने के बाद तुरंत यहां के लिए रवाना हो गए. लेकिन उन्हें अभी तक अपनी बेटी और तीन पोते-पोतियों का कुछ पता नहीं चल पाया है. अधिकारी लोगों को खुद अपने परिजनों को ढूंढने नहीं दे रहे हैं. 

घटना में घायल लोगों को महाड के स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है, वहीं जो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं, उन्हें 170 किमी दूर मुंबई ले जाया गया है. 

(PTI से इनपुट के साथ)

Video: महाराष्ट्र : रायगढ़ में इमारत ढही, एक की मौत, 30 के फंसे होने की आशंका


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com