NDTV Khabar

महाराष्ट्र : शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी उम्मीदवार के खिलाफ किया चुनाव प्रचार

उद्धव ठाकरे ने कणकवली में बीजेपी के उम्मीदवार नीतेश राणे के खिलाफ चुनावी सभा की, इस सीट पर शिवसेना से सतीश सावंत भी प्रत्याशी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र : शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीजेपी उम्मीदवार के खिलाफ किया चुनाव प्रचार

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कणकवली में चुनावी सभा को संबोधित किया.

खास बातें

  1. उद्धव ने कहा- राणे को शिवसेना प्रमुख ने लात मारकर भगा दिया था
  2. पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे हैं बीजेपी प्रत्याशी नीतेश राणे
  3. नारायण राणे पहले शिवसेना में थे, गठबंधन सरकार में सीएम भी रहे
मुंबई:

महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन करके विधानसभा चुनाव में उतरी हैं लेकिन इसके बावजूद एक सीट पर यह दोनों दल आमने-सामने हैं. शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बुधवार को कणकवली में चुनावी सभा की वह भी बीजेपी के उम्मीदवार नीतेश राणे के खिलाफ. उद्धव ने बीजेपी-शिवसेना में गठबंधन होने के बाउजूद नीतेश राणे के सामने खड़े सतीश सावंत के लिए चुनाव प्रचार किया. शिवसेना ने कणकवली से सतीश सावंत को चुनाव में खड़ा किया है.

उद्धव ठाकरे ने सभा में कहा कि 'यहां मैं अपने अधिकृत उम्मीदवार को जिताने आया हूं. राणे का नाम लिए बिना उद्धव ठाकरे ने कहा कि मुख्यमंत्री ने अगर उनकी पार्टी से कोई अच्छा उम्मीदवार दिया होता तो उसके प्रचार के लिए भी मैं आता. जो सामने है उसे शिवसेना प्रमुख ने लात मारकर भगा दिया था. शिवसेना प्रमुख ने इन्हें निकाल दिया इसलिए शिवसेना बड़ी हुई. उसके बाद वे कांग्रेस में गए, और अब बीजेपी में हैं. भारतीय जनता पार्टी को मेरी शुभकामनाएं.'

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी-शिवसेना में गठबंधन है लेकिन कणकवली विधानसभा सीट पर दोनों ही पार्टियां आमने-सामने हैं. बीजेपी ने पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे नीतेश राणे को अपना उम्मीदवार बनाया है जबकि शिवसेना ने सतीश सावंत को चुनाव मैदान में उतारा है.


महाराष्ट्र चुनाव 2019: उद्धव ठाकरे की रैली के लिए तोड़ी गई स्कूल की दीवार, परीक्षा भी हुई स्थगित

नारायण राणे शिवसेना नेता थे. गठबंधन सरकार में शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे ने उन्हें मुख्यमंत्री भी बनाया था. लेकिन बाद में राणे के ठाकरे परिवार से संबंध बिगड़ गए और राणे शिवसेना छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे.

मुख्यमंत्री पद को लेकर अब उद्धव ने साधी चुप्पी, बीजेपी को दी सत्ता के घमंड से दूर रहने की नसीहत

टिप्पणियां

VIDEO : चुनावी घोषणा पत्र में राम मंदिर और आरे कॉलोनी के मुद्दे नदारद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement